Planning for pregnancy

thyroid mai rice kha skte h.salt kon sa khaye

सवाल
hello थायराइड होने पर आप चावल और सादा नमक ना खाएं आप व्हाइट नमक के जगह पर सेंधा या काला नमक खाएं और आयोडाइज्ड नमक ही खाएं जहां तक हो सके आप चावल खाना अवॉइड करें।
आप सेन्धा नमक का प्रयोग करे थाइरॉइड में योगा करने से आपको आराम मिलेगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: kya hum delivery ke second week me fruit kha skte hai... agr kha skte hai to kon sa fruit khaye...please share
उत्तर: हेलो डियर आपको प्रेगनेंसी की बहुत-बहुत बधाई आप फ्रूट्स में सेब संतरा केला कीन चीकू किवी watermelon अनार ले सकते हैं पपाया और pineapple अवोइड करें. आपको अपने आहार में प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स को शामिल करना चाहिए। आपका आहार ऐसा होना चाहिए जिसमें पर्याप्‍त मात्रा में आयरन और फॉलिक एसिड हो। खाने में ताजे फल, दाल, चावल, हरी सब्जियां, रोटी आदि खाना चाहिए। बच्चे के दिमाग के विकास के लिए ओमेगा-3 और ओमेगा-6 बहुत जरूरी है। फिश लिवर ऑयल, ड्राइफ्रूट्स, हरी पत्तेदार सब्जियों और सरसों के तेल में यह अच्छी मात्रा में मिलते हैं। आयरन और फोलिक एसिड की गोलियां खाना भी शुरू कर दें। इससे शरीर में खून की कमी नहीं होती है।  ज्यादा तला-भुना और मसालेदार खाना न खाएं। इससे गैस और पेट में जलन हो सकती है। जो भी खाएं, फ्रेश खाएं। बाहर के खाने से इंफेक्शन होने का खतरा होता है, इसलिए बाहर खाने से बचें।  
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mai kon kon sa dry fruit kha skti hun aur din me kitne ?? badam , walnuts ???
उत्तर: ड्राई फ्रूट्स वैरायटी में खाने चाहिए यह आपको और आपके बेबी को एनर्जी और न्यूट्रिएंट्स देता है बादाम , kishmish, काजू , munakka ,अखरोट, पिस्ता और खजूर से बहुत ज्यादा प्रोटीन मिलता है और शरीर के कैल्शियम ,मैग्नीशियम और मैंगनीज की आवश्यकता पूरी होती है और विटामिंस में इससे काफी मात्रा में मिलते हैं इससे हमारी बॉडी गर्म रहती है और हमें जल्दी ठंडी नहीं लगती है पर आप जो भी खाए हैं वह बहुत ही संतुलित मात्रा में खाएं बहुत ज्यादा खाने से नुकसान भी होता है आप कोई भी ड्राई फ्रूट लगभग 2 या 4 से ज्यादा ना खाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: rice kha skte h kya pregency me
उत्तर: डियर .चावल खाने से पाचनतंत्र कमजोर होता है ...ज्यादा चावल खाने से पेट की कई साडी बीमारी होने की सम्भावना बढ़ जाती है क्योंकि चावल में फायवर की मात्र बहुत कम होती है...जिससे हमरे शारीर का पाचनतंत्र कमजोर परने लगता है और कब्ज ,पेट मरोड़ , or एसिडिटी आदि बीमारी पनपना शुरु हो जाता है. चावल हड्डियों को कमजोर करता है.. आप अगर खायें तों कम मात्रा मे खायें .. जयदा ना लें . ओके
»सभी उत्तरों को पढ़ें