7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Thyroid cha pregenency made kai effect hoto. Mala zoplyavar body garam hote

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप परेशान ना हो अक्सर प्रेग्नेंसी में थायराइड की प्रॉब्लम हो जाती है डॉक्टर से अच्छे से ट्रीटमेंट करवाएं और उनके कहे हुए मेडिसिन लें इससे आपका थायराइड नार्मल हो जायेगा मैं आपको थायराइड कंट्रोल करने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताती हूं जिनको आप डॉक्टर के मेडिसिन के साथ-साथ कर सकती हैं आप अदरक की चाय पी सकते हैं एक कप पानी में कम से कम दो से तीन अदरक के टुकड़े छोटे-छोटे करके डालने और उसे उबलने दे जगह पानी उबल जाए तो उसमें अपने स्वाद के अनुसार शक्कर थोड़ा सा डाल कर आप उसे छानकर पी लें लौकी का सेवन प्रतिदिन करें लौकी की सब्जी या लौकी का जूस का उपयोग करने से भी थायराइड में बहुत फायदा होता है अखरोट का सेवन प्रतिदिन करें एक से दो अखरोट रोज अपने दिनचर्या में शामिल करें और आप परेशान ना हो आप के बेबी को इस से कोई तकलीफ नहीं होगी आपकी बॉडी गर्म रहती है या आपको लगता है कि आप को फीवर है तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकती हैं
  • avatar
    Suvarna Kadu846 days ago

    Thank u very much

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mala 3rd month chalu ahe mala cough cha tras hoto ahe kahi upay sanga
उत्तर: जब आप गर्भवती होती हैं, तो आपकी प्रतिरक्षण प्रणाली में काफी बदलाव आता है। अब उसका मुख्य मकसद आपके गर्भ में पल रहे शिशु की रक्षा करना होता है। इस वजह से आप सर्दी-खांसी पैदा करने वाले कीटाणुओं के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाती हैं।आप सर्दी-जुकाम व खांसी पैदा करने वाले हर विषाणु से तो खुद को नहीं बचा सकती। मगर, नीचे दिए गए उपायों को अपनाकर, आप अपनी प्रतिरक्षण प्रणाली की इनसे लड़ने में मदद कर सकती हैं:(1)संतुलीत आहार लें जिसमें ताजे फल, सब्जियां और साबुत अनाज शामिल हों। इन सबसे बने विविध आहार आपको खनिज व विटामिन प्रदान करेंगे, जिससे आपको संक्रमणों से लड़ने में सहायता मिलेगी।(2)विटामिन व खनिज का स्तर बढ़ाने के लिए पानी हर्बल चाय और फलों के रस जैसे पेय पदार्थ प्रचुर मात्रा में लें। कैफीन युक्त या अधिक मीठे पेय पदार्थों का सेवन कम करें।(3)जब भी थकान महसूस हो, तो अपने शरीर को आराम दें और तनाव मुक्तरहने का प्रयास करें।कुछ व्यायाम भी करें। इससे रक्त संचरण बढ़ाने और संक्रमणों से लड़ने में मदद मिल सकती है।उपाय---बंद नाक--- भाप लेने की मशीन या गर्म पानी के प्याले में नीलगीरि तेल की दो या तीन बूंदे डालें। अपने सिर पर तौलिया ढककर प्याले पर आगे की ओर झुकें और सांस के जरिये भाप अंदर लें। इससे आपकी बंद नाक खुलने में मदद मिलेगी। गर्म पानी में शहद और नींबू डालकर पिएं। दवा युक्त कैंडी भी गले में राहत के दे सकती हैं। कुछ महिलाएं तुलसी या अदरक की चाय को भी फायदेमंद मानती हैं। . . अगर, आपकी खांसी या जुकाम लगातार बनी हुई है, जो ठीक नहीं हो रही या फिर सर्दी के साथ-साथ आपको तेज बुखार भी है, तो अपनी डॉक्टर से बात करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Pregnancy start hote jan thyroid start hota to medicin lene par v baby pe koi effect to nhi hoga
उत्तर: डियर गर्भावस्‍था के दौरान थायरॉयड के इलाज के लिए दी जाने वाली डोज जरूरत के हिसाब से घटाई या बढ़ाई भी जा स‍कती हैं, जिससे होने वाले बच्चे को किसी भी नुकसान से बचाया जा सकें. - हाइपोथायरॉयड होने से गर्भपात की संभावना बढ़ जाती हैं. ऐसा होने से रोकने के लिए अपने खानपान को संतुलित करें और ज्यादा हो तो आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकती हैं. - थायरॉयड के कारण बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास पर बहुत प्रभाव पड़ता है, बॉडी को एक्टिव बनाएं रखें और डॉक्टर की सलाह पर योग और हल्के वर्कऑउट की आदत डालें टी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Madam mala 9 month chalu ahe mala sadhy gas cha problem hotoy .ty mula body made chamak bharte ..kahi tari upay sanga na plz
उत्तर: प्रेगनेंसी में कुछ भी खाने से बहोत जल्दी एसिडिटी या गैस हो जाता है. इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपको प्रेगनेंसी में कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है और डॉ ने मना नहीं किया है तो आपसे हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको राहत मिलेगी. आप खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन पानी के साथ ले इससे भी आपको राहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें