23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: smart sunder aur gore baby ke liye plz koi tips dijiye

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: normal delivari ke liye koi tips dijiye
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान लगभग सभी प्रेग्नेंट महिलाएं चाहती हैं कि फोन की डिलीवरी नार्मल डिलीवरी हो नार्मल डिलीवरी करने के लिए आपको प्रेग्नेंसी के शुरुआत से ही अपने आप को पुनर्व्यवस्थित रखना होगा आपको अपने खान-पान आहार दिनचर्या में भी पूर्ण रुप से ध्यान देना होगा कि जहां तक संभव हो सके आप को नार्मल डिलीवरी हो प्रेग्नेंसी की शुरुआत से ही डॉक्टर के पास दिखाएं डॉ द्वारा दिए गए समस्त निर्देशों वाह दवाइयों का प्रयोग नियमित रुप से करें अपने आहार में सभी प्रकार के भोजन शामिल करें आप प्रयास करें कि आज से 10 गिलास पानी के साथ आप पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन कैल्शियम आयरन युक्त आहार लें ताकि गर्भावस्था के दौरान किसी भी प्रकार की प्रॉब्लम ना हो और आप की डिलीवरी नार्मल हो नियमित रूप से व्यायाम इसमें हल्की-फुल्की वॉक प्रणाम अनुलोम विलोम करते रहे जो आपकी बॉडी को सूट करें इससे भी आपका शरीर लचीला होगा और नॉर्मल डिलीवरी के लिए हार्मोन स्रावित होते हैं जो कि नॉर्मल डिलीवरी को बढ़ावा देते हैं आप आयुर्वेदिक दवाइयों का प्रयोग भी कर सकती हैं जिसमें तुलसी की पत्तियां अश्वगंधा का चूर्ण दशमूलारिष्ट अर्जुन की छाल आदि का प्रयोग आपके शरीर को सर की शक्ति प्रदान करती है जो कि नॉर्मल डिलीवरी के समय महत्वपूर्ण कारक है लेकिन इन आयुर्वेदिक दवाई का प्रयोग भी आप किसी चिकित्सक के सलाह के अनुसार ही कर सकती है मेथी के दानों का सेवन भी प्रेगनेंसी में नार्मल डिलीवरी में सहायक होता है अधिक से अधिक श्रम वाले कामना करना एवं मानसिक शांति बनाए रखना भी एक नॉर्मल डिलीवरी को सहायता प्रदान करता है शारीरिक एवं मानसिक शांति से ब्लड प्रेशर या रक्तचाप में किसी नहीं होता जिसे नार्मल डिलीवरी को बढ़ावा मिलता है चाय कॉफी के प्रयोग ना करें फास्ट फूड से दूरी बनाए रखें संतुलित व नियमित रूप से आहार ले इससे आपकी मेल नॉर्मल डिलवरी होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे नॉर्मल डिलीवरी के लिए टिप्स दीजिए
उत्तर: हेलो डियर आप नॉर्मल डिलीवरी आसानी से करवा सकते हैं मगर सबसे ज्यादा जरूरी यह है कि बेबी नॉरमल हो या ऑपरेशन से मायने यह रखता है कि बेबी सुरक्षित होना चाहिए और स्वस्थ होना चाहिए फिर भी आप नॉर्मल डिलीवरी के लिए कुछ उपाय कर सकती हैं जैसे कि आप सुबह शाम वॉक करें क्योंकि प्रेगनेंसी में वॉक करना सबसे अच्छा माना जाता हैअपने खाने में पूरी तरह से संतुलित भोजन को शामिल करें तेल मसाले वाली पैकेट वाली चीजों का उपयोग ना करें व्यायाम करें जैसे कि आप बटरफ्लाई व्यायाम कर सकते हैं या नॉर्मल डिलीवरी के लिए बहुत सहायक होते हैं मैं नींद का खास ध्यान रखें भरपूर नींद लें किसी प्रकार का मानसिक या शारीरिक टेंशन ना लें खुश रहने की कोशिश करें और सबसे जरूरी कि आप खुद को मैंचोर बनाएं कि आप नॉर्मल डिलीवरी करवा सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mai dry fruit mein kya kya kha sakti hu jisse mera baccha sunder aur smart ho
उत्तर: काजू badam pista केसर charoli akhrot खान से बचे smart ओर sundar बनते है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Plz twins pregnancy k liye to koi tips dijiye sabhi tips single pregnancy ki hi hai
उत्तर: हेलो डियर बिल्कुल भी परेशान मत हो. अगर आपके ट्विंस बेबी है आपके प्रेगनेंसी नॉर्मल है तो उसके care tipes भी वही होंगे जो एक बच्चे के होने पर होते हैं. आप अपने खाने-पीने में नॉर्मल खाना खाएं पौष्टिक खाएं जो भी सलाह डॉक्टर देता है भाई यह सलाह फॉलो करें. भारी सामान बिल्कुल भी ना उठाएं .ज्यादा खड़ी ना रहें. ऐसा कुछ भी ना करें जिसमें कि आपको थकान या बहुत ही ज्यादा टायर्ड फील हो .आपको जब भी लगे आप आराम भी करें .आपके दो बच्चे हैं इसलिए आपको शरीर में भारीपन बाकी नार्मल टाइम से ज्यादा लग सकता है. इसलिए पर्याप्त मात्रा में आराम करें पैरों को थोड़ा ऊपर रखकर लेटे पानी भी खूब पिएं. जब आप प्रेगनेंट होती हैं तब यह बहुत जरूरी है कि आप अपना आहार पौष्टिक है. इससे आपको और आपके होने वाले बच्चे को पौष्टिक तत्व मिलेंगे. प्रेग्नेंसी में कुछ अधिक कैलोरी की जरूरत होती है. प्रेगनेंसी में सही आहार का मतलब है -आप क्या खा रही हैं ?ना कि कितना खा रही हैं? जंक फूड का सेवन ज्यादा ना करें. isme कैलोरी ज्यादा है पोष्टिक तत्व कम या ना के बराबर होते हैं. फोलिक एसिड आपको 1 ट्रिमस्टर में ही चालू करदेना चहिये। फ़ोलिक एसिड का होने वाले बच्चे की ग्रोथ में बहुत बड़ा योगदान रहता है। फ़ोलिक एसिड विटामिन है ।विटमिन B 9। ये आपको खाने पिने में फॉलेट नाम से मिलेगा । बाबी के इस्पीनलकार्ड के चारो और पॉलिब पेरत को सही तरीके से बंद करता है।वाहा गप नहीं आने देता। मा के लिए भी बहुत जरुरी है ।विटमिन B 12 के साथ मिलकर हेअल्थी रेड सेल्स बाँटा है। folic acit ke liye ye khaye. ब्रोकली ऐस्पैरागस खट्टे फल हरी पत्तों वाली सब्जियां ओकरा फूलगोभी भुट्टा गाजर 1) दूध और डेयरी के ले सकती हैं. मलाई वाला दूध दही छाछ घर का पनीर इन सब में कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन बी12 बहुत होता है. 2) सभी अनाज ,दालें . इन सब में प्रोटीन बहुत अच्छा होता है. 3) पेय पदार्थों में आप पानी bahut piyen.खास करके आप साफ पानी joki फ़िल्टर किया हुआ. ताजे फलों का रस ले. डिब्बाबंद juis nahi le. इसमें शक्कर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है. 4) वसा और तेल . वेजिटेबल ऑयल का वसा एक अच्छा स्रोत है क्योंकि इसमें संतृप्त वसा अधिक होता है. इन सभी चीजों के साथ आप डॉक्टर की सलाह मानें .जो भी टेस्ट किए हैं दिए गए हैं उन्हें करवाएं समय पर. दवाइयां समय पर ले और नींद पूरी. खाना जो भी खाएं अच्छे से चबाकर खाएं. प्रेगनेंसी के समय मिल्क प्रोडक्ट calcium और प्रोटीन बहुत जरुरी होता है। डेयरी प्रोडक्ट प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए सबसे बेहतर होता है। जैसे अंडा, चीज, दूध, दही और पनीर मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। कैल्शियम भी पर्याप्त मात्रा में होती है जो फीटस के बोन टिशू के विकास के लिए आवश्यक होता है। प्रोटीन की मात्रा काम होने से बच्चे की ग्रोथ में बहुत अंतर आता है। प्रोटीन जरूरी पौशाक तत्वों में से है। बच्चे का विकास और एम्निओटिक टिशू का कार्य प्रोटीन पर निर्भर करता है। गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन की kaam मात्रा बच्चे के sahi विकास में बाधा पहुंचा सकती है और इससे शिशु का वजन भी कम हो सकता है। यह बच्चे के बढ़ते मस्तिष्क पर नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है।  बस एक मुट्ठी नट्स प्रोटीन की अपनी दैनिक आवश्यकताओं को पूरा कर सकता है। नट्स जैसे बादाम, मूंगफली, काजू, पिस्ता, अखरोट और नारियल में उच्च मात्रा में प्रोटीन की मात्रा होती है जो बच्चे के विकास के लिए जरूरी होता है। बीज जैसे कद्दू, तिल और सूरजमुखी में भी प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होती है।  इनमें से कई ऐसे हैं जिनमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है जैसे- मूंग, काले और फवा बिन्स, मसूर, मटर और चना. ओट्स में प्रोटीन बहुत उच्च मात्रा में पाई जाती है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें