24 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: muje six month chal rha h or mare pet के nichlay hissay yani peduu main nadiyo main dird होता h or baar bathroom aata h asay dawab sa padta rahta h

2 Answers
सवाल
Answer: गर्भावस्था मे बार बार पेशाब आना बिल्कुल सामान्य बात है क्योकी बेबी bladder पर दबाव बनाता है। जिसके कारण ऐसा होता है पेट में हल्की-फुल्की समस्याएँ होना आम बात होती है, इस अवस्था में, पेट दर्द, विशेषकर पेट के निचले हिस्से में हल्का-हल्का दर्द भी हो सकता है प्रेगनेंसी के समय में ज्यादा वजन उठाने वाला काम करने और ज्यादा नीचे झुकने वाला काम करने से भी पेट दर्द हो सकता है पीठ के बल सोने की बजाए साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  यह दर्द हील वाली सेंडिल पहने से भी हो सकता है इसलिए हमेशा स्लिपर ही पहने ज्यादा देर तक एक स्थिति में खड़े ना रहे  जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें
Answer: बार-बार बाथरूम आने की वजह यह है कि पेट में बच्चे का वजन बढ़ा है और जैसे-जैसे बच्चा बढ़ता जाता है वह ऊपर और नीचे की तरफ दबाव देता है इस वजह से जैसी यूरिन यूरिन थैली में आता है वह दबाव बच्चे का पढ़ने की वजह से हमें तेजी से यूरिन आने लगती है रही बात पर और एड़ी में दर्द की तो वह पानी की कमी की वजह से हो रहा है इसलिए अब जितना ज्यादा हो सके पानी पीजिए पैर को मोड़कर मत बैठिए सीधा रख कर बैठी सोफे पर एक जगह ज्यादा देर मत बैठे थोड़ी थोड़ी देर में टहलते रही है आपको कुछ दिनों में आराम मिल जाएगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mare pairo kabhi kabhi diard hone lag jata h or pet main bhi halka halka pain h . muje panchva mahina chal rha h
उत्तर: पैर दरद ----गर्भावस्था के सुरूवात से लेकर अंतिम चरण तक पैरों तथा पैरों और तलवों में दरद होना सामान्य है ।यह जादातर महीलाओं को होता है। गर्भ में पल रहे शिशु केकारण गर्भाशय का भार पैरों पर पड़ने लगता है।इससे पैरों को अधिक भार झेलने के दरद और सुजन भी हो सकती है जो शिशु जन्म के बाद खतम हो जाता है।दरद से बचने के लिये पैर के तलवों को गुनगुने तेल से मालीश करें और कम चले जादा देर तक खड़े न रहें आराम करें ऊंची हील न पहने आराम दायक फ्लैट चप्पलें पहनें इससे आपके पैरों को आराम मीलेगा। गर्भावस्था में पेट दरद ---गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। अगर आपकी गर्भावस्था एकदम स्वस्थ चल रही है, तो पेट दर्द आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होते।  गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।   मजबूत, मांसपेशियां जो आपकी हड्डियों को जोड़ते हैं, उनमें पूरी गर्भावस्था के दौरान बढ़ते गर्भ को सहारा देने के लिए खिंचाव होता है। इसलिए जब आप हिलती-डुलती हैं, तो आपको शरीर में एक या दोनों तरफ हल्का दर्द महसूस हो सकता है।थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं।जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या गेहूं की छोटी पोटली से सिकाई करें। अगर आप गर्म पानी की बोतल का इस्तेमाल करें, तो इसमें गर्म पानी भरें (खौलता हुआ पानी नहीं) और ध्यानपूर्वक इसे तौलिये या किसी मुलायम कपड़े में लपेट लें। वहीं दूसरी तरह, गेहूं की पोटली एक कपड़े की पोटली होती है जिसमें गेहूं की भूसी भरी होती है। इस पोटली को माइक्रोवेव में कुछ मिनटों तक गर्म करना होता है। यह पोटली आपके शरीर के आकार के अनुसार ढल जाती है और एक घंटे या इससे ज्यादा के लिए गर्म रहती है।आराम करें। कई बार, sexकरने और पर भी मरोड़ या हल्का सा कमर दर्द हो सकता है। जिससे मरोड़ जैसा महसूस हो सकता है।आप कैसा महसूस कर रही हैं,डॉक्टर को बताएं। वह यह अंदाजा लगा पाएंगी कि आपकी असहजता की वजह गर्भावस्था के दर्द और पीड़ा ही हैं या फिर कुछ और।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mam mera 4 month chal rha h mujhe niche bhar sa padta h baar baar urine aata h koi problem to nahi koi test to sab normal hmere
उत्तर: हेलो डियर प्रेग्नेन्सी में बार बार यूरिन का आना भूत नॉर्मल है क्युकी पेट में बच्चे के बढ़ने की वजह से मूत्राशय में दबाव पड़ता है इस वजह से बार बार यूरिन की प्रॉब्लम होती है ऑर जैस जैसे डिलेवरी का दिन पास आटे जता है यह प्रॉब्लम ऑर जादा बढ़ती है ऑर यह कोई प्रॉब्लम नही है इस्से आपको या आपके बेबी को कोई प्रॉब्लम नही होगी मगर नीन्द ज़रूर खरब होटी है इसके लिए आप रात के टाइम पानी ना पीएं तो आपको रात में कम बाथरूम जाना पड़ेगा ऑर आपकी नीन्द भि पुरी हो पाएगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri pregnancy का 5 month chal rha है or mujhe baar baar pesab lg jata एच baar baar bathroom jana prta h isme koi problem nahi h n
उत्तर: गर्भावस्था मे बार बार पेशाब आना बिल्कुल सामान्य बात है क्योकी बेबी bladder पर दबाव बनाता है। जिसके कारण ऐसा होता है। वैसे तो पेशाब का बदला हुआ रंग भी कोई खास समस्या नही है। ऐसा दवाई के कारन हो सकता है। लेकिन अगर रंग बदलने के साथ साथ पेशाब मे जलन या खुजली होती है तो संक्रमण हो सकता होता है। प्रेग्नेन्सी मे बार बार टॉइलेट जाना .. ये to होने वाली माँ k लिये आम बैट है ... delivery का समय जैसे जैसे पास आता है . वैसे वैसे आप के बेबी के साइज or wait bhi बढ़ता है . और आप के गर्भाशय का भि .. गर्भाशय का साइज जीतन बढ़ता जता है . ऑर आप के ब्लैडर के ऊपर प्रेशर डट है जिंस के करन आप ko bar bar washshroom जने की जरुरत होटी है ...ok
»सभी उत्तरों को पढ़ें