2 weeks pregnant mother

Question: meko aache se yaad nae hai ki mera pichle month का date pro kis date pe aaya tha aur es month date pro nae aaya kit se cheak ki to postive aaya per mujhe ab ye jaana hai ki mai count kyse karu ha but ye confirm hai ki 12 से ke bich me aaya tha डेट problum pichle month plz help

1 Answers
सवाल
Answer: ultrasound me date clear ho jayegi ap mnth clear rakhe
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera last month date pro 14 या 15 ko aaya tha mujhe thik se yaad nahi aur es month nahi aaya kit se cheak ki to am प्रेग्नेन्ट but mujhe ab ye jaana hai ki mujhe kitna maah chal rha
उत्तर: Aap doctor se check karvaye ultrasound se pata chal jayega
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mera period date 14th jan ka tha abhi tak nahi aaya maine kit se cheak kiya lekin nagetive aa raha hai abhi muje kya karna chahiye
उत्तर: हेलो डियर आप का लास्ट सीरियल डेट 14 जनवरी को आया था तो उस हिसाब से आपको अपना डेट मिस होने का इंतजार करना चाहिए 14 फरवरी को यदि आप का पीरियड डेट में mis ho जाता है तो उसके 1 सप्ताह के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hi .meri last lmp 28 june ko thi.aur meri shadi 7 july ko huyi . uake bad mera period nhi aaya to mujhe ye samajh nhi aa rha ki mai 28 se count karu apni pragnancy ya 7 july se.ultrasound se delivery date 14 aprl h .plz mujje btaye ki mai kis date se count karu.
उत्तर: आप अपनी प्रेगनेंसी 28 जून से काउंट करेंगी..आप अपनी प्रेगनेंसी के वीक अपने लास्ट पीरियड के पहले दिन से हिसाब कर सकती हो यह बहुत ही ज्यादा आसान होता है। आप अपना month भी पीरियड के पहले दिन के डेट के हिसाब से काउंट कर सकती है...सेम डेट में नेक्स्ट month अपको दूसरा month लगेगा...
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pehle 2 misscarage ho chuke hai .. mera LMP 8 july hai .. mene kit se pregnancy test kiya hai positive hai . लेकिन is bar bhi mujhe dar lag raha hai..because pichle dono misscarage 1.5-2 month k bich ho gya tha....to mujhe kya karna chahiye abhi...me primary school ki teacher hu....mujhe sujhav dijie kya kru?
उत्तर: बार बार गर्भपात होने के कई कारण होते हैं जैसे क्रोमोसोम्स के विसंगति होने की वजह से ,दो क्रोमोसोम्स की जगह कभी-कभी 3 क्रोमोसोम्स फ्यूज हो जाते हैं ,जिससे कि गर्भपात होने की संभावना बढ़ जाती है या फिर बच्चे में कोई दोष रह जाता है बहुत अधिक वजन बढ़ने के कारण भी गर्भपात हो जाता है, किसी प्रकार का संक्रमण हो जाने पर भी गर्भपात हो जाता है। गर्भधारण करने के बाद बहुत अधिक भारी काम करने से भी गर्भपात हो जाता है ।बहुत अधिक सीढ़ियां चढ़ने उतरने से भी गर्भपात हो जाता है ।बहुत अधिक उछल-कूद नहीं करनी चाहिए उस से भी कर पाते हो जाता है ।यह मुख्य कारण है जिनकी वजह से अक्सर गर्भपात हो जाते हैं। गर्भपात na ho इसके liye सबसे पहले आपको प्रॉपर बेड रेस्ट करना है। चलना फिरना बिल्कुल बंद कर दीजिए । बेड पर लेटे सिरहाना नीचे रखिए और पैरों के नीचे तकिया लगा कर रखिए । जमीन पर बिल्कुल भी नहीं बैठना है । सीढ़ियां बिल्कुल भी नहीं चढ़ना उतरना है । खाने में हल्का भोजन लेना है ताकि आसानी से पच जाए । पानी खूब सारा पीछे 8 से 12 गिलास पानी दिन भर में । नारियल पानी टेंडर कोकोनट का प्रयोग ज्यादा कीजिए यदि पानी आपको अच्छा नहीं लगता है तो आप उसमें रूहअफजा या अन्य कुछ मिलाकर पीजिए जो आपको अच्छा लगता हो । अपने डॉक्टर अनुसार बताएं दवाइयों का सेवन कीजिए. खाने पीने में आपको दिनभर में चार या पांच बार तरल चीजें, जैसे छाछ, नींबू-पानी, नारियल पानी, फलों का जूस या शेक पीएं। इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होगी। हरी पत्तेदार सब्जियां, मटर, फूलगोभी, शिमला मिर्च, बादाम, काजू, तरबूज, केला व संतरा खाएं। इनके अलावा पालक, चुकंदर,शलगम कद्दू , दाले , दही, दूध-मट्ठा, पनीर, सोयाबीन, बीन्स, और साबुत अनाज लें। गर्भावस्था के दौरान चाय और कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान आप को थोड़ा-थोड़ा खाना खाना चाहिए थोड़ी थोड़ी देर में बहुत अधिक खाना नहीं खाना चाहिए । स्मोक नहीं करना चाहिए। अल्कोहल नहीं लेनी चाहिए Coca-Cola Pepsi आदि का सेवन नहीं करना चाहिए । मैदे से बनी चीजों को खाने से परहेज करना चाहिए। जरूरत से ज्यादा मसालेदार खाना नहीं खाना चाहिए। इससे आपको कब्ज की शिकायत हो सकती है। समुद्री मछली खाने से परहेज करना चाहिए । कच्चा मांस या कच्चे अंडे या कोई भी गर्म करने वाली चीज नहीं खानी चाहिए । डब्बा बंद और रेडीमेड खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। ये सारी savdhaniyan आपको रखनी है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें