14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Muze 3 mahine pure huye hai low lying placenta hai yaise Dr. Kaha hai to age Kay khabardari Leni hogi

2 Answers
सवाल
Answer: प्लेसेंटा प्रिविया होने पर डॉक्टर ट्रेवल न करने सलाह देते हैं. यात्रा के दौरान लंबे समय तक बैठना और झटके लगाना इसका अहम कारण है. इस दौरान किसी भी अनहोनी से बचने के लिए गर्भाशय को अधिक से अधिक आराम दिया जाता है.  - प्लेसेंटा प्रिविया के दौरान अधिक बैठने या चलने से भी मना किया जा सकता है. यह पूरी तरह प्लेसेंटा की‍ स्थिति पर निर्भर करता है.  - इस दौरान भारी सामान न उठाएं, न ही किसी भारी चीज को एक जगह से दूसरी जगह सरकाएं.  - स्थिति गंभीर होने पर डॉक्टर पैरों के नीचे तकीए लगा कर लेटे रहने की सलाह देते हैं. ताकि प्लेसेंटा को और नीचे आने से रोका जा सके.  - इस स्थिति में डॉक्टर गर्भवती को अधिक चलने, सीढि़या चढ़ने-उतरने, पेट के बल लेटने से भी मना करते हैं. - प्लेसेंटा प्रिविया होने पर डॉक्टर सामान्य से ज्यादा अल्ट्रासाउंड करवाता है. वह स्थिति पर निरंतर नजर रखता है. हो सकता है कि इस दौरान अल्ट्रासाउंड डॉक्टर को बच्चे की धड़कन मिलने में, उसकी हलचल को समझने में समय लग जाए.  - प्लेसेंटा प्रिविया होने पर अक्सर गर्भवती के गर्भ में बच्चे की मूवमेंट भी देर से महसूस होती है
Answer: आप अपरा की स्थिति बदलने के लिए कुछ भी नहीं कर सकती हैं। लेकिन आप स्वस्थ और सुरक्षित रहने के लिए काफी कुछ कर सकती हैं, जैसे कि: पर्याप्त मात्रा में पौष्टिक भोजन खाएं। विशेषकर कि आयरन से भरपूर आहार जैसे कि लाल मांस, हरी पत्तेदार सब्जियां, दालें और दलहन जैसे राजमा और काबुली चने। यह आप में खून की कमी होने की संभावना हो कम करेगा। अगर, आपका आयरन स्तर कम है, तो डॉक्टर आपको आयरन अनुपूरक (सप्लीमेंट) लेने की सलाह दे सकती हैं।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mam Meri dilevri hokr 3 mhina 28din huye he muze thayred nikla he kay me dva leni chahiye kay or kbtk leni chahiye ko upay btaye mam
उत्तर: dear..आप को थाइरॉइड की दवा अपने डॉक्टर के सलाह से हाइ लेनी चाहिए ..ऐसे आहार जिसमें आयरन और कॉपर पर्याप्‍त मात्रा में हों, इनके सेवन से थायराइड के फंक्‍शन में मदद मिलती है....आयन पाने के लिये आपको अपनी डाइट में बादाम, काजू और सूरजमुखी के बीज खाने चाहियेइसे कंट्रोल करने के लिये निम्न घरेलू उपाय कर सकते है .... # दूध मे हल्दी को पकl कर पीये . अगर ये ना पीया जायें टु हल्दी को भुन कर उसका सेवन करे ... # लौकी का ज्यूस subha खाली पेट पीए .. पीने के बाद आधा घण्टे तक कुछ ना ले ... # 2 चम्मच तुलसी का रस और आधा चम्मच alovira का रस मिलाकर पाइन से भि थाइरॉइड को खत्म करने मे सहायक होता है ... # काली मिर्च का सेवन किसी भी रूप मे करे ... # बादाम और अकरोट का सेवन भी इसमें फ़ायदा करता है ... # हरा धनिया की फ्रेश चटनी बनाकर एक ग्लास पनि मे घोल कर ले .... # रात को सोते समय एक चम्मच ashvagandha का चुरन गाय के गुनगुने दूध के saत ले ... # रोज़ 1 घण्टे एक्सर्साइज ज़रूर करे . थाइरॉइड मे ये सबसे जायदा ज़रूरी है .. आप ये सभी उपाय ट्राइ करने से पहले अपने डॉक्टर की राय ज़रूर ले ...ok
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere barave hafte me grahan hai to muze jyada khabardari leni hogi kya baby ki situation Kya hogi
उत्तर: अगर, आप या आपका परिवार गर्भस्थ शिशु पर ग्रहण के असर को लेकर चिंतित हैं, तो घर के अंदर ही रहने में कोई नुकसान नहीं है। वैसे भी, यह केवल कुछ ही घंटों के लिए होता है। ऐसे में यदि इससे जुड़ी परंपराओं का पालन करके आप और आपके परिवार को मन की शांति मिलती है, तो इसमें कोई बुराई नहीं है। क्योंकि चंद्र ग्रहण देर रात में होता है, इसलिए इससे बचना आसान रहता है, मगर सूर्य ग्रहण के दौरान खुद को सुरक्षित रखना मुश्किल हो सकता है। मगर, यदि आप ग्रहण की अवधि के दौरान घर पर नहीं रह सकतीं और इससे जुड़े आम नियमों का पालन नहीं कर सकतीं या फिर आप ऐसा करना नहीं चाहती हैं, तो भी फिक्र न करें। ग्रहण में बाहर निकलने से जरुरी नहीं है कि आपके शिशु को नुकसान पहुंचेगा या फिर वह किसी जन्मचिह्न के साथ पैदा होगा।  हालांकि, सूर्य ग्रहण के दौरान सूरज की किरणें सामान्य से अधिक तीक्ष्ण होती हैं और यदि सूरज को सीधे देखने से आंखों को नुकसान पहुंच सकता है। अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए ग्रहण के दौरान सूरज को विशेष ग्रहण वाले चश्मे लगाकर ही देखें। मगर, सूर्य ग्रहण की तरह चंद्र ग्रहण से आंखों को उतना नुकसान नहीं पहुंचता।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mam muze Dr. Ne kaha hai ki placenta (war) niche hai to isase muze ya baby ko koi problem to nahi hogi na
उत्तर: प्लेसेंटा का नीचे स्थित होना प्लेसेंटा प्रिविआ कहलाता है इस में प्लेसेंटा ग्रीवा को आधा यह पूरी तरह से ढके हुए होती है अगर प्लेसेंटा नीचे की तरफ है और आपको सिजेरियन ऑपरेशन कराने की जरूरत पड़े डॉक्टर आपका अल्ट्रासाउंड स्कैन करेगा इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं है नॉर्मल जैसे आपका बच्चा बढ़ता जाता है प्लेसेंटा ऊपर की तरफ चली जाती है इसलिए यह काफी पॉसिबिलिटी हो जाती है नीचे स्थित प्लासेंटा गर्भावस्था के दौरान ऊपर की तरफ खिसक जाए और कोई प्रॉब्लम ही ना हो अगर प्रेगनेंसी के अंत में भी आपकी प्लेसेंटा नीचे की तरफ से स्थित हो तो इसका पहले से ही पता लगाया जाएगा और उसके अकॉर्डिंग ट्रीटमेंट किया जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें