32 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: prrgnancy m b.p high hone pr kyaa kare

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर गर्भावस्था के दौरान बीपी बढ़ने पर आपको कुछ सावधानियां रखने की आवश्यकता होती है गर्भावस्था के दौरान हाई बीपी की स्थिति में आप को अधिक से अधिक आराम करना चाहिए और भोजन में नमक की मात्रा कम ले नमक की जगह पर आप सेंधा नमक डॉक्टर से पूछ कर उपयोग कर सकते हैं हाई बीपी की स्थिति में मलाईदार दूध मक्खन घी तेल नॉनवेज फास्ट फूड डिब्बाबंद खाना ज्यादा तेल घी मसाला का उपयोग ना करें गर्भवती महिलाओं को भोजन में सब्जियों का अधिक प्रयोग करना चाहिए जैसे पालक गोभी बथुआ लौकी तरोई परवल सजन कद्दू टिंडा नींबू आदि सब्जियों को खाने में शामिल करने के साथ-साथ आप फलों में अनार मौसंबी संतरा अमरूद आदि ले सकती हैं क्योंकि यह सब ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है बीपी को कंट्रोल करने के लिए आपको सुबह शाम टहलना चाहिए और अल्कोहल धूम्रपान चाय कॉफी से दूर रहना चाहिए और लगातार डॉक्टर के संपर्क में बने रहे डॉक्टर के कहे अनुसार चेकअप करवाते रहे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: pregnency me b.p high hone pr medicine k sath sath khane me kya kya krna chaheye
उत्तर: hello. aap pani jyda se jyda piye namak kam krdijiye jyda tej namk mt khayiye coffee mt पीजीये aur subh subh walk pr jarur जायें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: high bp hone pr kya krna chahiye.
उत्तर: हाई बीपी होने पर सबसे पहले तो नमक खाना कम करिए उसके बाद जितना हो सके हरी सब्जियां खाई ए वॉक कीजिए खाना खाने के बाद तुरंत मत सोइए आचार तला bhuni चीजें मिर्च मसाले खाना कम कीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Bp high hone pr kya kre
उत्तर: हेलो डियर,प्रेगनेंसी में बीपी की प्रॉब्लम अक्सर महिलाओं में 20 सप्ताह के गर्भ के बाद अधिक देखने को मिलती हैं। गर्भावस्था के दौरान जब महिला का ब्लड प्रेशर 140/90 एमएम ह्ग से अधिक हो जाता हैं, तो इस अवस्था को हाई बीपी कहा जाता है। बीपी की प्रॉब्लम से पेशाब में प्रोटीन आने लगता हैं जिससे प्रेगनेंसी इंड्यूस हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ जाता हैं। बीपी हाई होने के कारण आँखों के सामने अंधेरा छा जाता हैं। इस दौरान महिलाओं की नजर भी कमजोर हो सकती हैं।प्रेगनेंसी में बीपी की प्रॉब्लम से पीड़ित महिलाओं को पेशाब कम आता हैं। इसलिए प्रेगनेंसी में जब भी टॉयलेट कम आने की समस्या हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।प्रेगनेंसी में बीपी की प्रॉब्लम की वजह से बच्चे को पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं और बच्चा मां के पेट में बार-बार लात मारता है।डियर आप तेज नमक बाली और तली हुई चीज नही खाए।और तनाव भी ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: bp low hone pr kya kare
उत्तर: हेल्लो डीयर यदि आपका बीपी लो है तो अपने डॉक्टर को consult करें और दवा के लिए उससे सालाह लें। लेकिन कई महिलाएं दवा के बजाय घरेलू उपचार पर भरोसा करती हैं। यहां कुछ उपचार आपकी मदद करेंगे --- कम बीपी में हम बहुत आलसी महसूस करते हैं इसलिए बाकी बहुत जरूरी है। बाईं तरफ लेटने से हृदय में रक्त प्रवाह में वृद्धि हो सकती है जो शरीर को स्थिर करने में मदद कर सकती है। ढीले फिटिंग कपड़े पहनने से चक्कर आना और थकान से बचने में मदद मिल सकती है। अगर लो बी पी मतली पैदा कर रहा है, गर्म हर्बल चाय मदद कर सक्ती है। आप एक कप कॉफी भी पी सक्ती हैं। गर्भावस्था के दौरान एक विविध और पोषक तत्व युक्त आहार विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। नियमित रूप से चेकअप कराए और डॉक्टर की निगरानी मे रहें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें