हाय डियर, आपको शर्मिंदगी महसूस करने की कोई जरुरत नहीं है। हर कोई परफेक्ट नहीं होता है। हर कोई अलग है और अपनी जगह अच्छा ही है। फिर भी यदि आपको लगता है कि आपकी ब्रेस्ट हैवी है तो आप इसको कम करने के लिए कई सारे व्यायाम की मदद ले सकते हैं। इसके अलावा खान-पान से भी इसमें फर्क पड़ सकता है। आप डाइट कर सकते हैं। इससे आपके पूरे शरीर से फैट कम होगा। होता यह है कि आपके शरीर का अतिरिक्त फैट आपके ब्रेस्ट के पास जमा हो जाता है। इसलिए यदि आप फैट कम खाएंगे तो आपके शरीर से फैट अपने आप कम होगा। इसके साथ ही आप ग्रीन टी भी ट्राय कर सकते हैं। यह आपके शरीर का मेटाबॉलिज़्म बढ़ाती है। जिससे आपका वजन जल्दी कम होता है। अलसी भी वजन कम करने में मदद करती है। आप अलसी के दाने खाना शुरू करें। इसके साथ ही आप फाइबर रिच आहार भी ले सकते हैं। यह सभी अतिरिक्त फैट कम करने में मदद करेंगे। खाने पीने के अलावा आप अपने ड्रेसिंग स्टाइल में भी बदलाव कर सकते हैं। ऐसे कपड़े पहनें जो आपको बेहतर फील कराते हैं। ऐसी ब्रा पहनें जो आपके ब्रेस्ट का शेप बेहतर करती है। व्यायाम में आप योगा भी ट्राय कर सकती हैं। उम्मीद है कि इससे आपको मदद मिलेगी।
हेलो डियर! मुझे उम्मीद है कि आपकी छुट्टी अपने परिवार के साथ काफी अच्छी रही होगी। देखा जाए तो टैनिंग तब होती है जब आप लंबे समय तक धूप में रहते हैं, लेकिन इसे आसानी से हटाया जा सकता है। मैं आपको कुछ आसान उपाय के बारे में बताने जा रही हूं जिसका प्रयोग कर आप इस समस्या से छुटकारा पा सकती हैं। 1. नींबू- एक नींबू को आधा काटें और उस स्लाइस को प्रभावित हिस्सों पर रगड़ें। इसे केवल 5 मिनट तक ही लगा कर रखें नहीं तो आपको इससे जलन हो सकती है। उसके बाद इसे पानी से धो लें। आप इसे नहाने से पहले लगाएं। 2. शहद और पका पपीता- आधा कप पके पपीते का अच्छे से मैश करें और इसमें 1 बड़ा चम्मच शहद मिलाएं। इस पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर अच्छे से लगा कर मालिश करें और इसे 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। बाद में इसे ठंडे पानी से धो लें। 3. दही और टमाटर- दही और टमाटर का रस समान मात्रा में मिलाएं और टैनिंग वाले हिस्से पर 15-20 मिनट लगा कर छोड़ दें और फिर इसे पानी से धो लें। ऐसा करने से आपका टैन दूर हो जाएगा। इसे आप रोजाना कर सकती हैं।
हेलो डियर, बालों को स्वस्थ एवं घाना करने के लिए आप नियमित रूप से तेल से मसाज करें. आप इसके लिए नारियल या जैतून के तेल का प्रयोग कर सकती हैं. बालों पर कैमिकल ट्रीटमैंट कम से कम कराएं. ये ट्रीटमैंट्स बालों को कमजोर बनाते हैं. इसके अलावा, बालों को स्वस्थ रखने के लिए आंवला पाउडर व नीबू के रस को बराबर मात्रा में मिला कर पेस्ट बना कर उन पर लगाएं. पेस्ट सूखने पर उन्हें ठंडे पानी से धो लें. आप चाहें तो आलू के रस को भी बालों पर लगा सकती हैं. यह भी बालों को स्वस्थ व मुलायम बनाने में मदद करता है. आलू के रस में विटामिन एबीसी होते हैं, जो बालों को नरिशमैंट देता है.
हेलो डियर .. बिना डॉक्टर की सलाह से कोई भी दवाइ यां सिरप ना ले . आपको कुछ उपाय बता रही हूं शायद उससे आपको थोड़ा आराम मिले . आप गले में दर्द हो तो गागल करें . पानी में नमक डालकर गागल करें . पानी पिए . ज्यादा से ज्यादा पानी पिए . पनी बॉडी को हाइड्रेट करता है साथ ही साथ टॉक्सिंस भी शरीर से बाहर निकालता है .फल खाएं .चाय कॉफी कोल्ड ड्रिंक पीने से बचे . से ज्यादा आराम करें और रात में अच्छी नींद ले
हेलो डियर, प्रेगनेंसी में बेबी का किक मारना चौथे महीने से ही स्टार्ट हो जाता है लेकिन कुछ लोगों को यह देर से पता चलती है इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है अगर बेबी किक करता है तो यह आपके बेबी के स्वस्थ होने की निशानी है ज्यादातर बेबी किक को मारना 16 से 22 सप्ताह में होने लगता है कुछ लोगों को बेबी के किक मारने का पता पहले प्रेगनेंसी में नहीं पता चलता जब किसी किसी की दूसरी प्रेगनेंसी होती है उसे बेबी का किक मारना ज्यादा पता चलता है अगर बेबी किक कम होता है तो आप लेफ्ट साइड सो जाएं इससे आपकी बेबी को रक्त संचार और ऑक्सीजन अच्छे से मिलती है जिसकी वजह से बेबी की कीक्क अच्छे से मारने लगता है अगर आपके बेबी का कभी भी कीक्क ज्यादा नहीं चल रहा है तो आप तुरंत डॉक्टर को दिखा दे!
हाई, मैं यकीन के साथ नहीं कह सकती लेकिन मुझे लगता है कि यह विटिलिगो है। यह वास्तव में एक त्वचा की समस्या है जिसमें सफेद धब्बे त्वचा के किसी भी हिस्से में हो सकता है। आपने कई लोगों को देखा होगा कि उनके शरीर पर सफेद पैच होते हैं। मेरे एक बहुत करीबी दोस्त को इस तरह की समस्या है इसलिए मैं इसके बारे में बहुत कम जानती हूं. लेकिन उनके परिवार में अन्य लोगों को भी इस तरह की समस्या थी इसलिए मुझे लगता है कि यह आनुवांशिक है। अगर आपके परिवार में किसी को भी यह समस्या नहीं है, तो यह एक संक्रमण हो सकता है। आप गूगल में टाइप कर देख सकते हैं कि यह विटिलिगो है या नहीं। फिर आप डॉक्टर से जांच से दिखाएँ। यदि यह विटिलिगो है, तो आप होम्योपैथी दवा का भी प्रयोग कर सकती हैं, मेरे मित्र को एलोपैथी से ज्यादा होमियो मेडिसिन से लाभ मिला है।
ये मुझे भी दिये है फोर्थ मंथ से... तब्ब से एम रेगुलर खा रही हूँ