हेलो डियर जहां तक मुझे मालूम है आपके खाने के स्वाद से यह नहीं पता लगाया जा सकता कि आपका बेबी बॉय है या गर्ल है । इसलिए आप इसके बारे में सोचना बंद कर दीजिए और आपको जो अच्छा लगे वह आप खाइए। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान ज्यादा खट्टा या तीखा खाना नहीं चाहिए। क्योंकि इससे आपको एसिडिटी की प्रॉब्लम हो सकती है । लड़का या लड़की होना सिर्फ़ भगवान के हाथ में होता है तो आप अपने भगवान से प्रार्थना कीजिए कि जो आप चाहती है वह आपको मिल जाए ।
हेलो। जब तक 3 महीने पूरे नहीं हो जाते तब तक रोज कोई ना कोई नई समस्या आती रहती है। यह सब प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले हार्मोनल चेंजेज के कारण होते हैं।उल्टी आती है,घबराहट बेचैनी मन खराब लगना भूख नहीं लगने जैसी समस्या आती है। लेकिन फिर भी आपको दिनभर कुछ ना कुछ खाते रहना होगा। ज्यादा से ज्यादा पानी पीजिए शरीर में पानी की कमी नहीं होने देना है। ज्यादा गर्म चीजें चाय कॉफी यह सब ना ले। मीठी चीजें खाने से भी भूख खत्म हो जाती है। अभी आपको फल खाना बहुत लाभकारी रहेगा रोज नारियल पानी पीने रात में सोने से पहले दूध।पिए।खाना अच्छे से नहीं खिलाता लेकिन आप दिनभर थोड़ा थोड़ा कुछ कुछ खाते रहेंगे तो आप स्वस्थ रहेंगे मिर्च मसाला वाला खाना मैं दे वाला खाना या बाहर का खाना अवॉइड करें। अगर मुंह का स्वाद खराब हो गया हो तो नींबू को काटकर उसमें काला नमक और जीरा पाउडर डालकर उसे चूसे।आंवला खाए फल खाएं। अपनी दिनचर्या नियमित रखते हुए अच्छी नींद ले
हाय डियर, यह सही है कि एक टाइम पर सभी लोग सब्जियों और रिफाइंड तेल के फायदों की बातें करते थे लेकिन आज हर कोई घी के बारे में बोलता है। मैं भी अक्सर कई ऐसे लोगों से मिलती हूँ जो घी के फायदों के बारे में बात करते हैं। भारतीय परंपरा में घी हमेशा से फायदेमंद रहा है और इसे सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। आपकी बहन ने भी आपको सही कहा है कि घी वजन कम करने में मदद करता यही। यह उन बुरे फैट्स की तरह नहीं है जो शरीर में जमकर वजन बढ़ाते हैं। बल्कि यह अच्छे फैट्स हैं जो आपके शरीर से बुरे फैट्स को हटाता है। घी हमें बिलकुल भी मोटा नहीं करता है। बल्कि यह हमारे शरीर से टॉक्सिन यानी कि विषाक्त पदार्थों को बाहर करता है। यह हमारी हड्डियों और रोगप्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है। यह हमारे शरीर से बुरे कोलेस्ट्रॉल को भी हटाता है। इन दिनों मैं अपने परिवार के लिए काफी कुछ बनाती हूँ और सब घी में ही बनाती हूँ। आप भी ट्राय कर सकते हैं डियर।
हेलो डियर सबसे पहले यह ध्यान दीजिए आप एक बार में बहुत सारा खाना मत खाइए दिन में 8 बार खाइए लेकिन छोटी-छोटी क्वांटिटी में खाइए और थोड़ा बहुत बहुत जरूर कीजिए अगर कोई कॉम्प्लिकेशन नहीं है वॉक करने से आपका खाना भी डाइजेस्ट होगा और जो पेट फूल रहा है वह भी नहीं भूलेगा इसके अलावा जितना ज्यादा हो सके पानी पीजिए और अच्छी हेल्दी डाइट लीजिए फल खूब खाइए सब्जियां खाइए दाल खाई है ऐसी चीजें बिल्कुल भी मत खाइए जिनसे गैस बने मिर्च मसाले बिल्कुल कम खाइए और छोटी-छोटी क्वांटिटी में हर एक डेढ़ घंटे के बाद कुछ ना कुछ खाती रही है उससे आपका खाना गले में भी नहीं अटके का और आपका पेट भी नहीं फुलेगा
13 सप्ताह की गर्भवती माँ0 Answers
सवाल
हेलो डिलीवरी अपनी चिंता करने की कोई भी बात नहीं है आप गर्भावस्था के शुरुआती चरण पर है इस समय यह सब होना स्वाभाविक है इसमें आप जितना हो सके उतना ज्यादा पानी पीजिए और एक पौष्टिक आहार खाई
हेलो, वजन बढ़ने के कई कारण हो सकता है जैसे कि आप बहुत अधिक खा रही हों या फिर बहुत कम मात्रा में खा रही हों। हो सकता है कि आप कम खा रहे हों लेकिन आप बहुत आलसी हों। क्योंकि, भोजन और जीवनशैली के अलावा एक बहुत ही सामान्य चीज है जो वजन बढ़ाती है और वह है थायराइड। थायराइड शरीर के मेटाबोलिज्म, हृदय गति, रक्तचाप के लिए आवश्यक हार्मोन का उत्पादन करता है। यदि हार्मोन के स्तर में गड़बड़ी हो, तो इससे वजन बढ़ने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। थायराइड के सामान्य लक्षणों में थकान, कमजोरी, अतिरिक्त ठंड लगना, वजन बढ़ना, शुष्क और खुरदरे बाल और त्वचा, सूजन, अनियमित पीरियड्स आदि शामिल हैं। यदि संभव हो तो जल्द से जल्द जांच करवाएं। यह आपके वजन बढ़ने के कारण का पता लगाने में मदद करेगा।