15 महीने का बच्चा

Question: पर्सनल इशू k वजह से mere हसबैंड ज्यादा टाइम बेबी sath नहीं बिताते h. इससे वो unhe दिन rat याद करती h. रोटी h क्या इससे बेबी k माइंड par कोई असर to नहीं होगा ???

1 Answers
सवाल
Answer: जी नहीं आप परेशान ना हो बच्चे जल्दी ही हर बात भूल जाते हैं अभी अभी आपके हस्बैंड गए हैं इसलिए बच्चा परेशान हो रहा है पर आप उसे बहला आएंगे तो बच्चे का ध्यान उस ओर से हट जाएगा और निश्चिंत रहें इससे बच्चे की दिमाग पर कोई असर नहीं होगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe cold hua h kya isse mere baby par koi asar tho nai hoga
उत्तर: हेलो डियर ,,आपको प्रेगनेंसी में सर्दी खांसी होना मौसम के परिवर्तन या आपके खानपान में बदलाव इसका कारण हो skta hai. आप कुछ घरेलू उपाय करें जिससे कि आप को सर्दी खांसी से राहत मिलेगी| 1) अदरक व तुलसी का रस दिन में दो बार ले अदरक के रस के साथ शहद भी ले सकते हैं 3)तुलसी का रस और शहद का को दिन में दो या तीन बार ले सकते हैं| 4) सर्दी खांसी से खुद को बचाने अपने डायट में ताजे फल सब्जियां और साबुत अनाज शामिल कर सकती हैं। 5) अदरक वाली चाय, हर्बल चाय, फलों का jus le.... गर्म पानी के मशीन से भाप ले सकती हैं इसमें आप दो तीन बूंद नीलगिरी का तेल डाल ले और भाप लें इससे आपकी बंद नाक खुल जाएगी और सर दर्द कम होगी|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं अक्सर अपने हसबैंड के sath इंटिमेट हो जाती हूँ to इससे कोई प्रॉब्लम to नहीं होगी ? बेबी के ऊपर कोई असर to नहीं होगा
उत्तर: हेलो डियर जैसा कि आपके प्रोफाइल से पता चल रहा है कि आपकी प्रेगनेंसी अभी केवल 13 वीक की है तो इस दौरान आपका अपने हस्बैंड के साथ इंटीमेट होना सही नहीं है क्योंकि इस दौरान आपकी बेबी की ग्रोथ हो रही होती है पर आपको ब्लीडिंग होने का खतरा हो सकता है यह आपके बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे TB h waise mera treatment chl rha h TB का or mai pregnant ho gyi hu isse mere baby k mind pr koi asar toh nhi होगा ?
उत्तर: अगर सही समय पर निदान (diagnosis ) हो जाए और संपूर्ण उपचार किया जाये तो टी बी से गर्भवती महिला और शिशु दोनों को ही कुछ भी हानि नहीं होती। यदि ऐसा ना हो पाए या इलाज को बीच में ही छोड़ दिया जाये तो कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। -गर्भपात ( abortion ) -पेट में ही बच्चे की मृत्यु . -गर्भ का ठीक से ना badhana. -नवजात शिशु की मृत्यु . अगर महिला का खान पान समय पर और पौष्टिक ना हो या उसमें खून की कमी हो तो उसे कई तरह की परेशानियाँ हो सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें