10 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Nariyel pani kon se mahine se pina shuru kare?

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप नारियल पानी प्रेग्न्सी के पूरे 9 महिने पी सकती है .नारियल पानी इलैक्ट्रोलाइट्स, क्लोराइड्स, पोटेशियम चीनी, सोडियम व प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम,और विटामिन सी से भरपूर हैlनारियल पानी डिहाइड्रेशन को रोकने में मदद करता हैl हमेशा ताजा, साफ और हरे नारियल ही चुनेंlजैसे ही नारियल काटा जाए, उसी समय इसका पानी पी लें, ताकि यह ताजा और पोषक तत्वों से भरपूर होlअगर, आपको नारियल पानी का स्वाद अच्छा न लगे तो इसे न पीएं।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पहले महीने से कोकोनट पानी पीना चाहिए
उत्तर: हेलो जी हां आप प्रेग्नेंसी के शुरुआत मही ने से नारियल पानी पी सकती है प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल पानी पीना बहुत ही फायदेमंद होता है नारियल पानी में बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं यह बॉडी के पीएच को कंट्रोल करता है जिससे पेट में एसिडिटी और जलन से राहत मिलती है इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एमिनो एसिड होता है जो प्रेग्नेंसी के लिए बहुत ही जरूरी होता है नारियल पानी में विटामिन भी कंपलेक्स विटामिन सी और आयरन होता है नारियल पानी में बहुत प्रकार के मिनरल्स भी पाए जाते हैं जैसे पोटेशियम कैल्शियम मैग्नीशियम जिंक जो कि । बॉडी के इम्युनिटी पावर को बढ़ाता है और बच्चे के ग्रोथ में मदद करता है। प्रेग्नेंसी के दौरान जो मॉर्निंग सिकनेस होती है नारियल पानी पीने से वह दूर होता नारियल पानी पीने से बीपी कंट्रोल में रहता है और यूरिन इन्फेक्शन भी ठीक करता है कब्ज और थकान होने से भी नारियल पानी पानी पीने से बहुत फायदा मिलता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: केशर का दूध कौन से महीने से पीना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर """केसर का प्रयोग आप प्रेगनेंसी के दूसरी तिमाही के बाद कर सकते हैं | सुबह ,शाम दूध के साथ कर सकते हैं | केसर से पाचन तंत्र ठीक रहता है | रक्तचाप की समस्या durहोती है | केसर को खरीदते समय बहुत ही ध्यान रखना चाहिए बाजार में एक प्रकार उपलब्ध नकली केसर उपलब्ध है नकली केसर के प्रयोग से हानि हो सकती है इसलिए असली केसर खरीदें| प्रेगनेंसी मे अत्यधिक मात्रा नुकसान पहुंचा सकती है इसलिए केवल एक चुटकी का ही प्रयोग करें |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Baby kon se mahine se sarkana shuru karata h
उत्तर: जब शिशु आठ महीने का हो गया है, वह आराम से घुटनों के बल चल रहा होगा। या फिर हो सकता है वह नितंबों के बल हिलना-डुलना, पेट के बल सरकना (कमांडो क्रॉलिंग) या पलटना शुरु कर रहा हो। आपका शिशु फर्नीचर को पकड़कर खुद खड़ा होने का प्रयास भी कर सकता है। अगर आप शिशु को सोफे के साथ खड़ा करती हैं, तो वह शायद खड़े होने के लिए इसका सहारा ले सकता है। शिशु गिर न जाए, इसके लिए आपको उसके पीछे ही रहना होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें