34 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: normal delivery के symtoms kya hai

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो dear ,,,लेबर पेन के समय आपको पीरियड के समय जिस प्रकार पेट में दर्द होता है उसी प्रकार का दर्द का अनुभव होने लगेगा |पेट में खराबी ,लूज मोशन ,बार बार पॉटी जाने का अनुभव होने लगेगा| सफेद पानी का अधिक मात्रा में निकलना या फिर सफेद पानी के साथ हल्के गुलाबी रंग का द्रव भी बाहर निकलने लगेगा |कमर में दर्द' बैक व कमर में दर्द का एहसास बढ़ते जाएगा |पेट में रुक रुक कर दर्द होने लगेगा और कभी दर्द में कमी होगी और कभी दर्द तेज रूप से होगा |अगर इस प्रकार के लक्षण आपको अनुभव हो तो आप तुरंत ही अपने चिकित्सक से संपर्क करें|
Answer: लेबर पेन h 1st symtom aapka बेबी निचे की ऑर शिफ्ट हों जेएगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Delivery pain ke kya symtoms hai...???
उत्तर: में आपको लबर पैन क लक्षण बताती हु. लेबर पेन की शुरुआत पिरियड में होने दर्द जैसे हो सकती है ।ये दर्द के साथ आपको पेट में दर्द कमर दर्द सर दर्द , उलटी पोटी जाने की इच्छा हो सकती है ।जब दर्द समय के साथ लगातार बढ़े और असनीय होने लगे, जब लगातार और थोड़ी-थोड़ी देर पर गर्भ की पेशियों में खिंचाव महसूस हो, इसके अलावा जब यह अधिक समय तक और तीव्रता से हो, आपके कमर के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत हो, तो यह प्रसव का ही एक लक्षण है।अगर रक्त स्त्राव की समस्या हो रही हो बुखार सिरदर्द या पेट में दर्द हो। तो आप तुरन्त डॉक्टर से सलाह ले. गर्भावस्था के दौरान आपका शिशु एक तरल पदार्थ से भरी थैली से घिरा रहता है जिसे एमनीओटिक सैक कहते हैं। आपके प्रसव के शुरुवात में संकुचन के साथ-साथ आपके एमनीओटिक सैक की झिल्ली टूट जाएगी। इसके द्वारा आपके शरीर से एक रंगहीन स्त्राव निकलेगा जिसे वाटर ब्रेक कहते हैं. वाटर ब्रेक होने पर लेडी को बॉडी से कुछ गिरने जैसा फील होता है जहाँ किसी तरल पदार्थ की धारा के गिरने जैसा महसूस होता है।गर्भवती महिला को कहा जाता है की अगर उनका वाटर ब्रेक हो गया है तो उन्हें शिशु का जन्म २४ घंटे के अंदर ही कर देना चाहिए। वाटर ब्रेक के साथ आप को दर्द हो भी सकता है या कई बार नहीं भी होता. पर वाटर ब्रेक हो जाये तो डॉ क पास तुरंत जाये.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 1 वीक प्रेग्नेंसी के सिम्पटम्स
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के कुछ लक्षण में आपके साथ शेयर करती हूं जिससे आपको यह पता चल पायेगा कि आप प्रेग्नेंट है या नहीं बाकी डियर आप प्रेगनेंसी किट से घर पर ही आसानी से चेक कर सकते हैं सुबह उठकर कमजोरी लगती है और मितली आती है. कई बार कुछ खाने पर उल्टी जैसा महसूस होने लगता है. ऐसे समय में किडनी ज्यादा सक्रिय हो जाती हैं, जिससे बार-बार टॉयलेट जाना पड़ता है.ब्लड वॉल्यूम बढ़ जाने की वजह से सिर में दर्द रहने लगता है. ये गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक प्रमुख लक्षण है. पर धीरे-धीरे ये खुद ही ठीक हो जाता है. इस दौरान समय-समय पर मूड भी बदलता रहता है. कभी कोई चीज अच्छी लगने लगती है तो कभी उसी चीज से नफरत हो जाती है. गर्भ धारण करने के साथ ही शरीर में हॉर्मोनल चेंज होना शुरू हो जाते हैं. इससे ब्रेस्ट में सूजन आ जाती है या फिर भारीपन आ जाता है. यह सब लक्षण आपको प्रेगनेंसी में महसूस हो सकते हैं बाकी डियर पीरियड्स मिस होने के 7 दिन बाद आप प्रेगनेंसी किट से चेक करें और जल्दी ही हम सभी के साथ अपने गुड न्यूज़ शेयर करें ऑल द बेस्ट
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: delivery pain k kya symtoms hote h?
उत्तर: हेलो डियर सभी महिलाओ को अलग अलग तरीके से पेन आता है मगर कुछ सन्केत है लेबर पेन आने का जो मै आपको बता रही जब लेबर पेन आता है तो मेनसेस आने से पहले जैस मरोड़ वाला दर्द कमर ऑर पेट में होता है प्रेगनेन्सी के पूरे महीने जो पेट में दर्द होता था ऑर ठीक हो जता था कुछ समय में वही दर्द लगातार जादा देर तक आए तो समज लें कि लेबर पेन है योनी शे भुरे ऑर हलकें लाल रंग का पानी जाने लगता है इन्ही से पता चल जता है की डिलेवरी होने ही वाली है
»सभी उत्तरों को पढ़ें