कुछ दिनों का बच्चा

Question: mujhe normal डिलेवरी k स्टिचेज jldi theek krne h mujhse utha betha b nhi jata

1 Answers
सवाल
Answer: हैलो डियर --टांको को ठिक होने में कम से कम चार से पांच सप्ताह लगता है। आपको बहुत सावधानी रखनी चाहीये नही तो टांके फटने का डर रहता है। टांको में खिंचाव या दरद हो तो डाक्टर द्वारा दिये गये ointment को बार बार गरम पानी से टांकों को धोने के बाद लगाना चाहीये इससे दरद से राहत होगा और टांके भी जल्दी ठिक होंगे।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: aaj mujhe prvt prt m bahut drd ho rha h. aesa kyu plz btayeg. mujhse chla b nhi ja rha na betha ja rha h
उत्तर: hello डियर ,,,, प्रेगनेंसी की अवस्था में प्राइवेट पार्ट मे दर्द होना नॉरमल प्रक्रिया है बेबी का vikas हो जाने की स्थिति में बेबी के भार का वजन पेट पर पड़ता है इस दबाव के कारण प्राइवेट पार्ट में हल्का सा दर्द या सूजन की स्थिति भी बन जाती है डिलीवरी का समय नजदीक होने के कारण पेल्विक एरिया की मसल्स ,हड्डियां डिलीवरी के लिए फैमिली की स्थिति पर आ जाते हैं बच्चे के जन्म के पूर्व की प्रक्रिया है जिसके कारण रुक रुक कर या अचानक से प्राइवेट पार्ट में दर्द होता है आप आराम कीजिए, अत्यधिक काम ना करें ,भारी समान ना उठाएं पैर ऊपर करके बैठे ,संतुलित आहार व पर्याप्त नींद ले अगर दर्द अत्यधिक बढ़ जाता है तब आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: dctr mujhse pani bilkul b nhi pia nhi jata h main kya karun
उत्तर: हेलो आपको पानी अच्छा नहीं लगता लेकिन पानी तो पीना पड़ेगा पानी प्रेगनेंसी के लिए बहुत ही जरूरी है अगर आपको सादा पानी पीना अच्छा नहीं लगता तो आप पानी को नींबू पानी पिए रूह अफजा का शरबत बनाकर रखने और दिन में दो-तीन बार उसको पी ले दिन में कम से कम दो नारियल पानी पीने जलजीरा पीले छाछ पी ए इससे आपके शरीर में पानी जाएगा और आपको पानी की कमी नहीं होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 14 week h mujhe kamar ऑर kulhe me bahut dard hota h mujhse betha bhi nahi jata h
उत्तर: पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है, इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है महिला के अंदर हर समय हो रहे हार्मोन में बदलाव भी दर्द का कारण बनते हैं दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये, टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं, इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये, इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें