16 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe niche sarir me dard rahta h mera baby niche ki or h

3 Answers
सवाल
Answer: Hello dear प्रेग्नेंसी में (लोअर एब्डोमिनल )पेट के निचे daard कभी कभी होता है। Lower abdominal मतलब कि पेट के नीचे की तरफ अगर आपको दर्द हो रहा है तो उसका kard यह है कि आपका यूट्रस अब बढ़ रहा है. राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव होने के कारण आप नीचे की तरफ दर्द महसूस करती हैं और यह दर्द फर्स्ट ट्राइमेस्टर में बहुत ही नॉर्मल है. अपना ध्यान रखे । भरी सामान नहीं उठए। बहुत समय तक खड़े नहीं रह। बैठा ते समय या लेते समय आपने पैरो को ऊपर की और थोड़ा ucha रखे। Paani बहुत पिए । पोषतीक और हल्का आहार ले। Jyada दर्द होने पे तुरंत ही डॉक्टर को दिखाए। take care
Answer: यदि आपमें योनि दर्द की समस्या किसी संक्रमण के कारण हो रही हो तब आप दही का सेवन कर सकती हैं। क्योंकि, दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं और इस प्रकार दही योनि में खमीर संक्रमण को बढ़ने से रोकती है और अच्छे बैक्टीरिया को बनाए रखने में मदद करती है। aap wajan mat utaiye jyada deer khadi mat rahiye rest kariye jyada derr baetheye nahi.
Answer: ans already have done .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा शरीर बाहर आता ह और दर्द भी रहता ह
उत्तर: हेलो डियर जैसे-जैसे प्रेगनेंसी बढ़ती है वैसे-वैसे किसी किसी को लेफ्ट साइड तो किसी को राइट साइड किसी को बॉडी पेन ,थोड़ा मीठा मीठा दर्द महसूस होने लगता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बच्चे का निरंतर अंदर वेट बढ़ रहा है जिसकी वजह से पेट पर और कमर पर भार पड़ता है और इसी वजह से दर्द होता है आपको जिस साइड में दर्द है उस साइड में ना सोकर जिस साइड में दर्द नहीं हो रहा है उस साइड पर सोए बहुत देर तक कभी भी खड़े नहीं रहे बहुत देर तक बैठे नहीं रहे पैरों को कभी लटका पर नहीं बैठना चाहिए थोड़ा बहुत दर्द रहना चाहे वह बॉडी पेन हो या फिर पेट में प्रेगनेंसी में बिल्कुल नॉर्मल है क्योंकि अंदर यूट्रस फैल रहा होता है जिसकी वजह से हम को यह दर्द होता है पर यदि दर्द बढ़ने लगे या कोई और प्रॉब्लम होने लगे तो डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hlo mere pet ke niche ki side me dard rahta h .. or mujhe 5month complit hone wale h
उत्तर: hello प्रेगनेंसी के चौथे पांचवें महीने में पेट पर होने वाला दर्द ज्यादातर गैस की वजह से होता है आप रात में सोने से पहले गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच त्रिफला चूर्ण ले जिससे आपको पेट साफ होगा और दिन भर गैस नहीं बनेगा और दर्द से आराम मिलेगा और अगर यह दर्द गैस का नहीं है तो कभी-कभी यूट्रस का आतो पर दबाव पड़ता है जिसके कारण दर्द होता है इससे बचने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा पानी पीये और अपने खाने पर सलाद और हरी पत्तेदार सब्जियों की मात्रा बढ़ा दे। लेकिन अगर दर्द साथ बुखार किसी प्रकार का डिस्चार्ज और चक्कर आ रहा है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 8 mounth स्टार्ट ho gya h mere pair hath orpoore sarir m सुजन rahta h or dard v mujhe kya karna chahiy
उत्तर: इसे एडिमा या शॉप कहा जाता है आम भाषा में यह वाटर रिटेंशन यानी पानी प्रतिधारण के नाम से जाना जाता है अतिरिक्त तरल आपके हाथों और पैरों, panjo या घुटनों में सूजन का कारण बनता है प्रेग्नेंसी के दौरान यह होना काफी आम है जैसे-जैसे आपका बेबी बढ़ता है शरीर के दाहिने हिस्से में बड़ी नस जिसे निचले अंगों में रक्त प्रवाह होता है पर गर्भाशय दबाव डालता है इससे ब्लड सरकुलेशन धीमा हो जाता है शरीर के निचले हिस्से में खून इकट्ठा हो जाता है इस फंसे हुए रक्त का दबाव पानी को छोटी-छोटी नलिकाओं के जरिए नीचे की तरफ धकेलता है और यह आपके पैरों और घुटनों के दर्द में आ जाता है यह पानी आमतौर पर शरीर द्वारा absorb कर लिया जाता है मगर क्योंकि आप गर्भवती हैं आप ज्यादा पानी प्रतिधारित करती है जिससे सूजन बढ़ती है सुबह के समय ठीक रहती है क्योंकि आप बिस्तर में लेटी हुई थी दिन गुजरने के साथ-साथ यह और ज्यादा बढ़ती जाती है गर्भावस्था के अंतिम चरण में पहुंचने पर यह सूजन आपको हाथों पर भी असर डालती है प्रेगनेंसी के दौरान face ,हाथों और पैरों में थोड़ी सूजन होना सामान्य है मगर यदि आपको सूजन ज्यादा लगे तो अपने डॉक्टर से बात करें पैरों की सूजन के लिए ऐसे बहुत से उपाय हैं जो आप आजमा सकती हैं जब भी समय हो अपने पैरों को थोड़ी ऊंची सता पर रखकर बैठे ऑफिस में अपनी बॉक्स रखकर पैरों को उस पर रखें बीच बीच में थोड़ा चलें और उठे घर में जब भी संभव हो अपने बाएं तरफ करवट लेकर लेटे सुबह बिस्तर से निकलने से पहले socks भी पहने ताकि खून को आपके घुटनों के पास इकट्ठा होने का मौका ना मिले खूब सारा पानी पिएं नियमित व्यायाम करें खासकर चलना फिरना पोषण संतुलित आहार खाएं पर ज्यादा नमक वाले फूड प्रोडक्ट्स नमकीन चिप्स ना खाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें