31 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe left said sone m problm hoti h .sidhe sone or hi aram milta h

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप 31 वीक प्रेगनेट है कुछ समय आप सीधे सो सकती है लेकिन जैसे-जैसे महीने बीतते जाते हैं वैसे-वैसे शरीर का अगला हिस्सा भारी होने लग जाता है. गर्भ बढ़ने के साथ ही पीठ पर भी बल पड़ने लगता है. जब गर्भवती महिला पीठ के बल लेटती है तो गर्भाशय का पूरा भार शरीर के दूसरे अंगों पर पड़ता है. इससे ब्लड सर्कुलेशन भी बिगड़ सकता है.आप जब भी सोएं लेफ्ट करवट ले कर सोएं .सोने के बाद अगर आप राइट करवट या पीठ के बल सो जाती है तो कोई प्रॉब्लम नही है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 7th month chal rha h mujhe left side sone me dikkat hoti एच right side sone me thoda aaram milta but sidha letne me jyada aaram milta h kya mai sidhe let sakti हु plzz bta do
उत्तर: आपको जिस तरह से भी सोने मे आराम मिलें आप वैसे हि सोएं . कोई प्रॉब्लम नही होगी . ज़्यादा कोशिश करे लेफ्ट सोने का. प्रेग्नेंसी में आप जितना भी लेफ्ट करवट सो सके सोए. इससे आपको और आपके पेट मे पल रहे बच्चे को स्वस्थ बनाता है. लेफ्ट तरफ सोने से आपके और आपके शिशु की body मे रक्त का प्रवाह सही तरीके से होता है. जिससे आप के बेबी को भरपूर ऑक्सीजन और पोषण मिलता है| इससे आपके शरीर के अंदरूनी अंगो मे कम से कम दबाब पड़ता है. लेफ्ट करवट  मे सोने से बच्चे को कोई भी चोट लगने के कम से कम chances होते है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe sidhe sone me aaram milta hai...but sblog kahte h bayi karwat sona chahiye...sidhe sone me koi khatra h? mera 6 mnth start ho gya h
उत्तर: कमर के बल पूरा जोर लगाकर सोना सही नहीं है। गर्भवती महिला को किसी एक ओर हल्‍की करवट से सोना चाहिए। इससे उसे किसी प्रकार की कोई समस्‍या नहीं होगी। चूकिं हमारा हार्ट लेफ्ट साइड होता है ऐसे में बाएं ओर करवट लेकर सोना सबसे ज्‍यादा सही रहता है। इससे पेट पर भी ज्‍यादा जोर नहीं पड़ता, हार्ट बीट भी सही रहती है और ब्‍लड़प्रेशर भी कंट्रोल रहता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: is it complsory ki hm karvat lekar hi soye kyoki mujhe sidhe sone me jyada aaram milta h ... plz btaiye??
उत्तर: हेलो प्रेगनेंसी में आप जैसे सोने में कम्फर्टेबल हो वैसे सोएं लेकिन   कमर के बल पूरा जोर लगाकर सोना सही नहीं है। गर्भवती महिला को किसी एक ओर हल्‍की करवट से सोना चाहिए। इससे उसे किसी प्रकार की कोई समस्‍या नहीं hogi.हमारा हार्ट लेफ्ट साइड होता है ऐसे में बाएं ओर करवट लेकर सोना सबसे ज्‍यादा सही रहता है। इससे पेट पर भी ज्‍यादा जोर नहीं पड़ता, हार्ट बीट भी सही रहती है और ब्‍लड़प्रेशर भी कंट्रोल रहता है प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में अगर आप पीठ के बल सोती हैं तो चिंता की कोई बात नहीं है लेकिन जैसे-जैसे महीने बीतते जाते हैं वैसे-वैसे शरीर का अगला हिस्सा भारी होने लग जाता है. गर्भ बढ़ने के साथ ही पीठ पर भी बल पड़ने लगता है. जब गर्भवती महिला पीठ के बल लेटती है तो गर्भाशय का पूरा भार शरीर के दूसरे अंगों पर पड़ता है. इससे ब्लड सर्कुलेशन भी बिगड़ सकता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें