35 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe kal raat se ek side kamar bahut dard kar rha h aur pair v kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर--आपका वजन सामान्य से अधिक होना गर्भावस्था में कमर पर पड़ने वाले भार की वजह से कमर दर्द होता है तो आपको पीठ दर्द होने की संभावना अधिक रहती है।आपकी मांसपेशियों में थकान और हड्डियों पर आपके शरीर एवं शिशु का वजन पड़ने से होने वाले हल्के खिंचाव के कारण होता है।  आपको कम उचाई या फ्लैट और आरामदायक चप्पलें पहनें पैरो मे गुनगुने तेल हल्की मालीश लें कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण पैरो मे दर्द के साथ सूजन और ऐंठन भी हो सकती है यह दर्द और सुजन बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है यह कभी किसी तो कभी किसी पैर में होता है यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण होता है दर्द से राहत के लिए आप पैरों और तलवों में हल्के गुनगुने सरसों तेल से मालिश ले सकती हैं नमक कम खायें।पैर के नीचे तकिया लेकर सोऐं। दर्द वाले की स्थिति में आप ज्यादा देर तक चले नहीं ना खड़े हो आपको आराम करना चाहिए और आपको फ्लैट आरामदायक नरम चप्पले पहननी चाहिए।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe left side sone par pair kamar bahut dard hota write side sone se v hota kya karu bilkul araam ni h ya normal h naa
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान किसी न किसी समय कमर दर्द की शिकायत होती है आपका वजन सामान्य से अधिक है या फिर कभी-कभी गलत तरीके से उठने बैठने से भी कमर में प्रॉब्लम हो जाती है कमर दर्द कम करने के लिए आप कुछ उपाय अपना सकते हैं जैसे kamar के व्यायाम कर सकती हैं आप सरसों के तेल की मालिश भी करवा सकते हैं, मालिश करने से मांसपेशियों का आराम मिलता है अगर आपकी आदत सही मुद्रा में बैठने की नहीं है तो भी आप कमर दर्द के शिकार हो सकते हैं गर्म स्नान दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं उचित जूते या सैंडल पहने कम ऊंचे और आरामदायक जूते पहने फिर भी आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pair sujh rha aur dard v kamar v dard
उत्तर: हेलो डियर गर्भावस्था में कमर का दर्द एक सामान्य दर्द है जोकि हारमोंस के बढ़ने की वजह से या फिर गर्भाशय की विकास की वजह से हो जाता है इस समस्या से राहत पाने के लिए आज ज्यादा से ज्यादा आराम करें और ज्यादा देर बैठे नहीं और अगर बैठती भी है तो टेक लगा कर बिल्कुल कंफर्टेबल होकर बैठे हैं ताकि आपको तकलीफ ना हो और अगर फिर भी ज्यादा दर्द हो तो कमर का मसाज भी करवा सकते हैं या फिर किसी बाम का भी इस्तेमाल कर सकती हैं उससे भी आपको काफी राहत मिलेगी गर्भावस्था में पैरों में दर्द होना या फिर सूजन होना भी एक आम समस्या होती है इस समस्या से राहत पाने के लिए आप निम्नलिखित उपाय कर सकती हैं 1आप ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन का सेवन करें उससे आपको काफी राहत होगी 2 दवा का सेवन हमेशा समय से करें 3 आप अपने पैरों को गर्म पानी में एक चम्मच गुनगुना पानी डालकर पैरों को आधे घंटे तक डाल कर रखें ध्यान रखे कि पानी उतना ही गर्म हो जितना आप सहन कर सकें उससे भी आपको काफी राहत मिलेगी 4 ज्यादा देर एक ही जगह पर खड़ी ना रहे चलती फिरती रहे उससे भी आपको आराम मिलेगा 5 रोज सुबह शाम वॉक करें वॉक करने से आपका रक्त स्त्राव बढ़ेगा और सूजन की समस्या कब होगी 6 अगर आपके डॉक्टर की सलाह हो तो योगा और एक्सरसाइज करें इससे आपको काफी आराम मिलेगा और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ेगी जिससे आपको कुछ कम समस्याओं का सामना करना पड़ेगा 7 और आप अपने पैरों की सूजन में राहत पाने के लिए सरसों के तेल से पैरों का मसाज भी करवा सकती है उससे भी आपको काफी राहत मिलेगी इन सब बातों को नियम के साथ पूरा करें आपको काफी आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Kal raat se kamar dard bahut hai
उत्तर: प्रेगनेंसी में हो रहे बॉडी changes और hormonal changes की वजह से हमें वीकनेस महसूस होती है और कभी इसके कारन कमर में भी दर्द होता है. आप पौष्टिक आहार लेते रहे. पानी और प्रवाही ज्यादा ले. एक साथ बहोत सारा खाना न खाये पर थोड़ा थोड़ा करके हर दो घंटे में कुछ खाये. लम्बे समय तक खड़े होक काम ना करे बिच बिच में थोड़ा आराम ले. और सोते वक़्त अपनी जांघ के निचे तकिया रखकर सोये तो कमर दर्द में रहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: kal raat se mere kamr or pair me bahut dard ho rha h ..
उत्तर: हेलो प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता hai.हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में 10 से 15 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पानी भरपूर पीये स्ट्रेस ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें