गर्भावस्था की तैयारी

Question: mujhe kadvi dakar aati h . chahe mein khana khau ya nhi mujhe seene me jalan bhi hoti h .

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर , आपको ऐसा ऍसिडिटी होने की वजह से होता है इसके लिए आप प्रेग्नेंसीय मे कुछ इस तरह से देखभाल कर सकती है आप इस तरह से एसिडिटी के लिए घरेलू उपाय कर सकती है आप तैलीय या मसालेदार खाना , और चॉकलेट, खट्टे फल, शराब और कॉफी, ये सभी चीजे एसिडिटी को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। आप इसे ना ले सोडायुक्त चीजो की बजाय पानी पीएं, बाहर की चीजो का सेवन कम करें, जैसे कि टॉमेटो कैचअप, अचार और चटनी आदि। इनमें बहुत ज्यादा मात्रा में नमक, प्रिजर्वेटिव्स और एडिटिव्स होते हैं। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी के लिये पुराना इलाज माना जाता है। एक कप अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है। केला खाने से भी इसमें फायदा होता है। थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार खाना खाती रहें।खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं खाना खाने के दौरान लम्बा गैप रखे खाना के दौरान बहुत ज्यादा मात्रा में पानी न पीएं। गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी हैं कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना भोजन कर लें। एसिडिटी होने पर आप ग्लास पानी मे एक चम्मच जीरे को डाल कर खौला ले फिर इसको पिये इससे भी बहुत आराम मिलता है एसिडिटी में आप इसमें 10 , 12 पुदीने की पत्तियों को रोज चबाये इससे भी फायदा होता है रोज रात को खाना खाने के बाद गुड खाये इससे आपका खाना पच जायगा और जलन नही होगी सुबह खाली पेट एलोवेरा जेल खाये या थोड़े पानी मे डालकर पिये इससे भी आराम हो जाएगा
Answer: गर्भावस्था के दौरान प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का बढ़ जाने की वजह से एसिड का प्रोडक्शन बढ़ जाता है और इसी के वजह से एसिडिटी होती है और एसिडिटी की वजह से सीने में जलन होती है। गर्भवती महिलाओं के लिए सीने में जलन होना आम समस्या होती है इस समय खाना भी सही तरीके से नहीं पचने की वजह से एसिडिटी की प्रॉब्लम होती है क्योंकि बढ़ता गर्भाशय आंसू हाथों और पैरों पर दबाव डालता है इसके लिए आप कुछ घरेलू उपचार कर सकते हैं जैसे आपको है थोड़ी थोड़ी देर में थोड़ा थोड़ा पानी पीते रहना है क्योंकि पानी की कमी भोजन को नहीं बचा पाएगा इसलिए भरपूर मात्रा में पानी पिए ज्यादा अच्छा होगा कि आप एक बार में बहुत ज्यादा भोजन ना खाए थोड़ी थोड़ी मात्रा में थोड़ी थोड़ी समय पर खाते रहें। खाना खाकर आप थोड़ी देर सीधा बैठे क्योंकि तुरंत लेने से पेट में मौजूद खाना वापस ऊपर आ सकता है और खाना खाते-खाते आप ज्यादा पानी ना पिए या तो पहले या बाद में पी सकते हैं और हो सके तो 1 घंटे आधे घंटे का अंतराल रखें यदि आपको एसिडिटी की प्रॉब्लम है तो इस समय आप बादाम हरी पत्तेदार सब्जियां और लहसुन का सेवन करें क्योंकि यह सब एसिडिटी को कम करने में मदद करती है| आपको जो कड़वी डकार आ रही है वह भी गैस बनने की वजह से होती है इसलिए आप यह सब सावधानी बरत सकते हैं|
Answer: acidity aam baat h pregnancy me.pani me kismis bhigo kr खेओ .kele or thanda dudh pina sugges करते h डॉक्टर yese me
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Hello me kitna bhi kam khana khau par night me mujhe khatti dakar or seene me jalan hoti hai koi upay bataye
उत्तर: प्रेगनेंसी में सीने में जलन होना आम बात है क्योंकि गैस की प्रॉब्लम की वजह से ही सीने में जलनहोती हैइसलिए आपको पूरी तरह से संतुलित आहार लेना चाहिए था किसी भी तरह से तेल मसाले और ज्यादा ऑइली चीजें नहीं खानी चाहिए चाय कॉफी कूल ड्रिंक सोडा इन सब चीजों का प्रयोग बहुत कम करें या फिर हो सके तो इन चीजों से परहेज करेंखाना खाने के बाद तुरंत आराम ना करें कुछ देर तक वाक करें और एक ही बार में बहुत सारा खाना ना खाए थोड़ा थोड़ा करके दिनभर खाएं इससे आपका खाना आसानी से बचेगा और आपको गैस की प्रॉब्लम भी नहीं होगी जिससे आपको सीने में जलन की पर नारियल पानी पीने ताजे फलों का जूस पीए इस तरह से आपको तकलीफ भी कम होगी और आपको नींद आने में भी आसानी होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mujhe seene me jalan h..khatti dakar h kya kre
उत्तर: प्रेग्नन्सी के थर्ड ट्रिमस्टर मे गले में जलन होना नार्मल है।मैं आपके साथ कुछ टिप्स हैं आप फॉलो कीजिये:- आप तीन टाइम अच्छे से खाना खाने की बजाये थोड़ी थोड़ी देर मैं खाना खाए दही का सेवन करे। खाना खाते समय पानी नहीं पीजिये। खाना खाने के बाद तुरंत लेटे नहीं वॉक करें जब लेटे तोह पिलो का सहारा लें इससे आपका दिगेंस्टीवे सिस्टम ठीक रहेग। जब ज़्यादा जलान हो तोह ठंडा मिल्क लीजिये। इन सबसे अगर कुछ फ़र्क़ न पड़े तो डॉक्टर से कंसल्ट करे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere seene me bht jalan h dakar lene me bhi bht jala hoty h me kya karu
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और एसिडिटी शरीर में हार्मोनल और शारीरिक बदलाव के कारण होती है आप कुछ उपाय आजमा कर इसे कम करने का प्रयास अवश्य कर सकती हैं जैसे कि तेलिया मसालेदार भोजन ,चॉकलेट खट्टे फल, कॉफी यह सभी खाद्य पदार्थ एसिडिटी को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं इस समय आप इन्हें अवॉइड करें पानी पिएं टोमेटो केचप डिब्बाबंद चीजें ना खाएं इनमें प्रिजर्वेटिव्स यूज़ करते हैं एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी और का सदियों पुराना इलाज माना जाता है अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है कुछ लोगों का मानना है कि केला खाने से भी इसमें फायदा होता है फिर भी अगर आपको आराम नहीं होता है तो आप अपने डॉक्टर से भी परामर्श ले सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें