9 weeks pregnant mother

Question: mujhe 1.5 mahina chal raha hein , vomiting bahot hoti hein, kuch khaya nahi jata

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेगनेंसी में हार्मोन के बदलने की वजह से उल्टी होना बहुत ही नॉर्मल बात है और यह प्रेगनेंसी में किसी भी महीने तक हो सकता है कभी-कभी यह 3 महीने तक ही होकर बंद हो जाता है मगर कभी-कभी पूरे 9 महीने तक उल्टी हो सकता है और इससे आपके बेबी को कोई प्रॉब्लम नहीं होगी मगर इसके लिए आपको अपने खान-पान में खास ध्यान देना चाहिए ताकि आपको किसी तरह की कमजोरी ना हो सकेताकि आपका बेबी पूरी तरह स्वथ रह सके इसके लिए आप पूरी तरह से संतुलित आहार ले तथा उल्टी होने की स्थित मे कोशिश करे कि जादा तला भुनाना खाए जितना हो सके हल्का भोजन करे एक ही बार मे पेट भरकर ना खाऐ दिन भर मे थोढा थोढा करके खाऐ इससे आपका पेट जादा नही भरेगा और खाना को पचने मे आसानी होगी और आप जादा उल्टी होने से बच पाये। तथा तरल वस्तुओ का इस्तमाल जादा से जादा करे ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe vomiting bhot hoti hai or kuch khaya nh jata kya krna chahiye
उत्तर: प्रेगनेन्सी के शुरू के 3 माह मे ज़्यादातर महिलाओ के उलटी की प्रॉब्लम होती हि है , जैस जैस प्रेगनेन्सी बढ़ने लगेगा , उलटी चक्कर की तकलीफ़ काम हों जाएगी , आप उल्ती के लिए ये ट्राइ करे , आराम मिलेगा जिस भोजन में फाइबर की मात्रा ज्यादा हो उनका सेवन करें नींबू को काटकर बीज निकाल दें, कटे हुए नींबू पर थोड़ा सेंधा नमक और काली मिर्च पाउडर डालकर चूसने से उल्टी और जी मिचलाना कम हो जाता है संतरा और अनार खाने से उल्टी में आराम मिलता है धनिये की पत्ती का रस रस निकाल कर एक एक चम्मच लेते रहने से उल्टी होना बंद होता है तनाव को कम करे,ज्यादा पानी पीए,रोज शाम को थोड़ा walk करे . भले ही आपको भूख लगे या न लगे आप समय पर, पोषक आहार लीजिए क्योंकि यह आपके और आपके बेबी के लिए बेहद जरूरी है। भले ही आपका मन खाने का न कर रहा हो, लेकिन जब आप एक बार धीरे-धीरे खाना शुरू करेंगी तो आपको भूख का अहसास भी होने लगेगा एक साथ भोजन न करके थोड़ी - थोड़ी देर पर कुछ - कुछ खाती रहें हल्‍का व्‍यायाम करें, इससे भूख में बढ़ोत्‍तरी होगी,व्‍यायाम करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें अगर आप एक ही प्रकार का भोजन खाकर तंग आ गई है तो कुछ नया ट्राई करें, बस वो भोजन ऐसा हो, जो आपको और आपके बच्‍चे को ताकत दें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello docter mera third month chal raha mujhe kuch khaya nai jata batye me kua karun
उत्तर: हेलों ऐसा होता है क्योंकि प्रेगनेंसी में हार्मोन में चेंजेज होते हैं आप से कुछ खाया नहीं जा रहा है आपको भूख नही लॅग रही है आपको जो अच्छा लगें वो खाइए पर हेल्थी खाइए जिन चीजे से हाइ एनर्जी मिलती है जैसे नट्स मूनगफ़लि की पट्टी एग पनीर दलिया केला मिल्क का सेवन करे आप खाना एक बार में ना खा कर थोड़ा थोड़ा कर के बार बार खाइए आप लेमन , काला नमक ,देही ,अजवाइन,अनार आवले का सेवन करे ये आपके भुख badhane में हेल्पफूल hongi .मॉर्निंग में लेमन वाटर ले आपको राहत मिलेगी आप नारियल पानी ज्यूस छाछ जैसे तरल पेय पीये ताकि आपको एनर्जी मिलें आप को कुछ खाने का मन हो या ना हों बेबी के लिए आपको खाना पड़ेगा क्योकी उसके हेल्थी ग्रोथ के लिए आपका हर 2- 3 घण्टे में कुछ खाना ज़रूरी होता है तनाव ना ले पानी भरपूर पीये ऍक्टिव रहें पॉजिटिव रहें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri mrs ko 8 weak chal raha hein . vomiting bahut hoti hein, doc ne bola normal hein
उत्तर: हेलो डियर, प्रेगनेन्सी के शुरू के 3 माह मे ज़्यादातर महिलाओ के उलटी की प्रॉब्लम होती हि है , जैस जैस प्रेगनेन्सी बढ़ने लगेगा , उलटी चक्कर की तकलीफ़ काम हों जाएगी , कभी-कभी उल्टी पूरी प्रेगनेंसी तक चल सकती है ya last के महीनों में फिर से उल्टी की समस्या हो सकती है कुछ घरेलू उपचार से आप अपने उल्टी पर काबू पा सकते हैं कटे हुए निंबू पर सेंधा नमक और काली मिर्च लगाकर चाटने से उल्टी जैसा लगना और उल्टी होना कम हो जाता है सेंधा नमक जीरा और नींबू को मिलाकर एक डब्बे में रखें और बीच-बीच में थोड़ी मात्रा में से खाते रहे उल्टी जैसा लगना उल्टी होना बंद हो जाएगा Adrak का छोटा टुकड़ा मुंह में रखें रहने से उल्टी जैसा नहीं लगता Khoob पानी पिए ,रोज शाम को थोड़ा वॉक करें जिससे आपका मन फ्रेश रहेगा और ताजी हवा से उल्टी जैसा होना कम हो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe bahot jaln ho rhi h kuch b khaya nhi jata .. eska koi ilaj h
उत्तर: 🙏 अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है।ऐ तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है। गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये। एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें। खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें। Take care💐
»सभी उत्तरों को पढ़ें