7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe bht jyada ghabrahat or sans fulti he kya kru

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेग्नन्सी में सांस लेटे हुए दिक्कत(शोर्टनेस ऑफ़ ब्रेथ)बहुत कॉमन है। प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में बहुत से चंगेस होते हैं उनमे से एक है हारमोनल चंगेस। प्रेगनेंसी टाइम प्रोजेस्टोजेन एक हर्मोने है इस्सके लेवल जब हाई होने लगता है तोह रेस्पिरेटरी सिस्टम मे बहत प्रेशर आता है जिस्सकी वजह से प्रेगनेंसी में सांस लेने मे प्रॉब्लम होती ह। प्रेग्नन्सी की शुरुवात मे आपका ब्लड ५०,% बढ़ जाता है जिस्सकी वजह से हार्ट को पंप करने म बहुत लोड पड़ता है जिस्सकी वजह से सांस लेने मे दिक्कत होती है। babyके वेट की वजह से आपके लंग्स पर प्रेशर पड़ता है जिस्सकी वजह से आपको सांस लेने मे प्रॉब्लम होती है। बाबी की वजह से ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ जाती है जिस्सकी वजह से साँस लेने मे प्रॉब्लम होती है। सांस न फूले कैसे कण्ट्रोल करें उसस्के लिए ये टिप्स फॉलो करे १)जब भी सांस लेने मे प्रॉब्लम हो तब २०मिन्स तक डीप ब्रीथिंग करे। २)ज़्यादा भरी या हैवी लोड वाला कोई काम न करे। ३)अगर आप कहीं बैठे या लेटे हैं तोह आपकी सांस फूल रही है तोह आप पोजीशन चेंज करे। ४)डेली थोड़ी एक्सरसाइज करें जैसे की वॉकिंग,दीप ब्रीथिंग ेट्स।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri kbhi kbhi sans bhut jyada fulti h kya kru
उत्तर: हेल्लो डीयर प्रेग्नन्सी मैं सांस लेने की परेशानी बहुत कॉमन है। ये ७५% प्रेगनेंट वीमेन को होती है जो नार्मल है। सांस फुल्ने के कारण प्रेगनेंसी के दौरन बॉडी मैं बहुत से परिवर्तन होते हैं उनमे से एक है हारमोनल परिवर्तन। प्रेगनेंसी टाइम मे प्रोजेस्टोजेन एक हर्मोने है इसका लेवल जब हाई होने लगता है तोह रेस्पिरेटरी सिस्टम मै बहत प्रेशर आता है जिस्सकी वजह से प्रेगनेंसी मैं सांस लेने मै प्रॉब्लम होती है। प्रेग्नन्सी की शुरुवात मै आपका ब्लड ५०,% बढ़ जाता है जिस्सकी वजह से हार्ट को पंप करने मे बहुत लोड पड़ता है जिस्सकी वजह से सांस लेने मै दिक्कत होती है। बेबी के वेट की वजह से आपके लुंग्स पर प्रेशर पडता है जिस्सकी वजह से आपको सांस लेने मै प्रॉब्लम होती है। बेबी की वजह से ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ जाती है जिस्सकी वजह से साँस लेने मै प्रॉब्लम होती है। सांस न फूले उसस्के लिए ये टिप्स फॉलो करे १)जब भी सांस लेने मै प्रॉब्लम हो तब २०मिन्स तक डीप ब्रीथिंग करे। २)ज़्यादा भरी या हैवी लोड वाला कोई काम न करे। ३)अगर आप कहीं बैठे या लेटे हैं तो आपकी सांस फूल रही है तो आप पोजीशन चेंज करे। ४)डेली थोड़ी एक्सरसाइज करें जैसे की वॉकिंग,दीप ब्रीथिंग आदि।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujy bhut sans fulti kya kru
उत्तर: hello प्रेगनेंसी के दौरान सांस का फूलना नार्मल है यह प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में बहुत प्रकार के हार्मोनल चेंजेस होते हैं और इन्ही हार्मोनल चेंजेज के कारण सांस फूलना चक्कर आना उल्टी होना और शरीर में दर्द होना होता है। जब आपको सांस लेने में दिक्कत होती है या आपको घबराहट और बेचैनी होती है। तो आप ठंडा पानी पी कर। खुली जगह में थोड़ी देर के लिए वॉक करें। नारियल पानी पिए। ठंडी ठंडी चीजें खाएं। और आराम करें। सोते समय बस यह ध्यान रखें कि आप सीधे ना सोएं। सीधे सोने पर बच्चा ऊपर की तरफ आ जाता है जिसके कारण सांस लेने में दिक्कत होती है जहां तक हो सके लेफ्ट करवट सोये लेफ्ट करवट में बेबी को ऑक्सीजन सप्लाई अच्छे से होता है। यह पोजीसन माँ और बेबी दोनो के लिये आरामदेह होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muje 3 month hai or meri sans bhut fulti hai kya kru
उत्तर: हेल्लो डीयर प्रेग्नन्सी मैं सांस लेने की परेशानी बहुत कॉमन है। ये ७५% प्रेगनेंट वीमेन को होती है जो नार्मल है। सांस फुल्ने के कारण प्रेगनेंसी के दौरन बॉडी मैं बहुत से परिवर्तन होते हैं उनमे से एक है हारमोनल परिवर्तन। प्रेगनेंसी टाइम मे प्रोजेस्टोजेन एक हर्मोने है इसका लेवल जब हाई होने लगता है तोह रेस्पिरेटरी सिस्टम मै बहत प्रेशर आता है जिस्सकी वजह से प्रेगनेंसी मैं सांस लेने मै प्रॉब्लम होती है। प्रेग्नन्सी की शुरुवात मै आपका ब्लड ५०,% बढ़ जाता है जिस्सकी वजह से हार्ट को पंप करने मे बहुत लोड पड़ता है जिस्सकी वजह से सांस लेने मै दिक्कत होती है। बेबी के वेट की वजह से आपके लुंग्स पर प्रेशर पडता है जिस्सकी वजह से आपको सांस लेने मै प्रॉब्लम होती है। बेबी की वजह से ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ जाती है जिस्सकी वजह से साँस लेने मै प्रॉब्लम होती है। सांस न फूले उसस्के लिए ये टिप्स फॉलो करे १)जब भी सांस लेने मै प्रॉब्लम हो तब २०मिन्स तक डीप ब्रीथिंग करे। २)ज़्यादा भरी या हैवी लोड वाला कोई काम न करे। ३)अगर आप कहीं बैठे या लेटे हैं तो आपकी सांस फूल रही है तो आप पोजीशन चेंज करे। ४)डेली थोड़ी एक्सरसाइज करें जैसे की वॉकिंग,दीप ब्रीथिंग आदि।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: man sans fulti hau kya iru ?
उत्तर: इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपको प्रेगनेंसी में कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है और डॉ ने मना नहीं किया है तो आपसे हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको राहत मिलेगी. आप खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन पानी के साथ ले इससे भी आपको राहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें