11 weeks pregnant mother

Question: Mujhe back pain bohut hota h kya kru

1 Answers
सवाल
Answer: अभी आप ११ वीक प्रेग्नेंट हो. प्रेगनेंसी में हो रहे बॉडी changes और hormonal changes की वजह से हमें वीकनेस महसूस होती है और कभी इसके कारन कमर में भी दर्द होता है. आप पौष्टिक आहार लेते रहे. पानी और प्रवाही ज्यादा ले. एक साथ बहोत सारा खाना न खाये पर थोड़ा थोड़ा करके हर दो घंटे में कुछ खाये. लम्बे समय तक खड़े होक काम ना करे बिच बिच में थोड़ा आराम ले. और सोते वक़्त अपनी जांघ के निचे तकिया रखकर सोये तो कमर दर्द में रहत होगी.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: maam mera back pain hota h bohut
उत्तर: हेलो डियर आपको seven week की प्रेगनेंसी चल रही है प्रेगनेंसी में पीठ का दर्द होना बहुत ही संभावित और सामान्य बात है इसलिए आप परेशान ना हो| पीठ दर्द के लिए सरसों के तेल में लहसुन की कलियां डालकर गर्म करें और इसी तेल से कमर ,पीठ हल्की हल्की मसाज करें| हाई हिल्स के जूते चप्पल ना पहने ,आरामदायक ढीले ढाले कपड़े पहने ,एक ही पोजीशन में अधिक समय तक खड़े या बैठे ना रहे इसे पीठ में दर्द हो सकता है पीठ के बल ना लेते हैं बाई करवट हो कर लेटे ,किसी भी प्रकार के भारी समान को ना उठाएं ,ऐसे काम ना करें जिसमें आपको अत्यधिक मेहनत या पीठ पर बल पड़ रहा हो ,हल्की वॉक एक्सरसाइज करते रहें इससे मांसपेशियां लचीली होगी व पीठ दर्द में कमी आएगी | संतुलित आहार ,10 से 12 गिलास पानी लेते रहे | टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe back me bhut pain hota h kya kru
उत्तर: करीब आधे से ज्यादा महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान किसी न किसी समय कमर और पीठ दर्द की शिकायत होती है आपका वजन सामान्य से अधिक है या फिर कभी-कभी गलत तरीके से उठने बैठने से भी पीठ और कमर में प्रॉब्लम हो जाती है पीठ और कमर दर्द कम करने के लिए आप कुछ उपाय अपना सकते हैं जैसे kamar और पीठ के व्यायाम कर सकती हैं आप सरसों के तेल की मालिश भी करवा सकते हैं, मालिश करने से मांसपेशियों का आराम मिलता है सही मुद्रा में बैठने की आदत डालनी चाहिए इससे भी कमर और पीठ दर्द में आराम मिल सकता है, गर्म स्नान दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं उचित जूते या सैंडल पहने कम ऊंचे और आरामदायक जूते पहने
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere back me pain bahut hota h kya kru
उत्तर: गर्भावस्था में पीठ व कमर दर्द होना एक आम बात है। करीब आधी से ज्यादा महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान किसी-न-किसी समय कमर और पीठ दर्द की शिकायत होती है। अच्छी बात यह है कि इस तकलीफ को दूर करने और इसे एक दीर्घकालिक तकलीफ में बदलने से रोकने के लिए बहुत कुछ किया जा सकता है।  अगर, आपको गर्भावस्था में पीठ व कमर दर्द है, तो भी शिशु के जन्म के समय इसके प्रभाव को लेकर आप चिंतित न हों। अगर, सही इलाज लिया जाए, तो प्रसव के समय पीठ दर्द के कारण परेशानी पैदा होना दुर्लभ है।पीठ और कमर दर्द कम करने के लिए आप कुछ उपाय अपना सकती हैं,मालिश: ---मालिश करने से थकी और पीड़ाग्रस्त मांसपेशियों को आराम मिलता है। एक कुर्सी की पीठ के ऊपर से आगे की ओर झुकें या फिर करवट लेकर लेटें। अपने पति या माँ से पीठ के निचले हिस्से और रीढ़ की हड्डी के साथ-साथ चलने वाली मांसपेशियों पर कोमलतापूर्वक मालिश करने के लिए कहेंसही मुद्रा:---- अपनी पीठ को आगे की ओर उतना झुकाकर बैठें, जितना कि आरामदायक हो। एक कोमल गद्दी या गद्देदार घेर पर बैठने की कोशिश कीजिएमां के लिए विशेष तकिया: अपने पेट के नीचे पच्चर के आकार का तकिया लगाकर करवट लेकर लेटने से पीठ दर्द कम करने में मदद मिलती है।ताप और पानी:----- एक गर्म स्नान, एक गर्म पैक या फिर शावर से गर्म पानी का तेज प्रवाह, ये सभी पीठ दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं।उचित जूते या सैंडल पहनें: -------उचित सहारा देने वाले कम ऊंचे और आरामदायक जूते या सैंडल, आपकी पीठ के लिए हितकर हो सकते हैं। ऊंची ऐड़ी के सैंडल या जूते आपकी कमर के निचले हिस्से पर बहुत ज्यादा दबाव डालते हैं। इसकी वजह से वजन बढ़ने पर आपको पीठ दर्द शुरु हो सकता है। 
»सभी उत्तरों को पढ़ें