8 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe 27 aug ko periods hue the or ab m pregnant hu or bhut dard hota h or jb toilet krty hu to bhut jyada pain hota h

2 Answers
सवाल
Answer: अगर पेशाब करने के समय बहुत ज्यादा दर्द होता है तो आप एक बार डॉक्टर को दिखाया तो ज्यादा बेहतर होगा क्योंकि दर्द तभी होता है जब आप की यूरिनरी इनफेक्शन काफी ज्यादा बढ़ गया हो इसके लिए आप साफ सफाई का ध्यान दें और पानी ज्यादा मात्रा में पर शरीर में पानी की कमी होने पर भी ऐसा होता है
Answer: पेट कितने मंथ से दिखने लगता हि मम
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: m jb bhi toilet ko jati hu to toilet krne k bad mujhe pet h hlka dard hota h wo bhi thodi si der k liye esa kyu
उत्तर: हेलो डियर मैं आपकी प्रॉब्लम समझ सकती हूं प्रेगनेंसी के समय में बच्चे की ग्रोथ के कारण हम उसका वजन है वह एक दबाव के रूप में हम नीचे महसूस करते हैं इस वजह से हमें बाथरूम पास करने के समय या फिर नॉर्मल टाइम में भी हल्का पेट दर्द नीचे की ओर होता है मेरे विचार से आपको पानी की मात्रा अपने डेली रूटीन में और बढ़ानी चाहिए ताकि आपको ज्यादा ज्यादा यूरिन पास हो और कुछ ही dino में आपको यह दर्द होना भी ठीक हो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri pithh or niche pet m bhut dard hota h jb m leti hoti hu or jyada der tk bethi hoti hu
उत्तर: कुछ ऐसे कारण भी हैं जो चिंताजनक नहीं होते हैं जैसे की राउंड लिगामेंट्स में दर्द जैसे-जैसे यूट्रस बढ़ता है राउंड लिगामेंट्स खिंचाव होता है जिसकी वजह से पेट के निiचले हिस्से में दर्द होता है आमतौर पर कुछ समय बाद गायब हो जाते हैं अगर दर्द ऐसे असहनीय हो तो आप डॉक्टर से कंसल्ट करें पीठ के व्यायाम कर सकती हैं आप सरसों के तेल की मालिश भी करवा सकते हैं, मालिश करने से मांसपेशियों का आराम मिलता है अगर आपकी आदत सही मुद्रा में बैठने की नहीं है तो भी आप पीठ दर्द के शिकार हो सकते हैं गर्म स्नान दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं उचित जूते या सैंडल पहने कम ऊंचे और आरामदायक जूते पहने फिर भी आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mai karwat leti hu tab meri toilet mai bhut dard hota hai ar jb bhut tej susu ayi ho jab bhut tej toilet ki jagh dard hota hai
उत्तर: hello प्रेगनेंसी के दौरान वेजाइनल पेन और सूजन होना एक आम समस्या है। प्रेगनेंसी में जो हारमोंस रिलीज होते हैं तोशरीर के सारे निचले अंग डिलीवरी के लिए पहले से प्रिपेयर होते रहते हैं। और इसी पर प्रिपरेशन के दौरान वेजाइना मैं संकुचन होता है जिसके कारण निचले अंगों पर हल्का दर्द बना रहता है लेकिन अगर दर्द ज्यादा है तो यह थकावट के वजह से भी या लंबे समय तक खड़े रहने की वजह से भी हो सकता है। लंबे समय तक खड़े रहने से यूट्रस का या बेबी का दबाव शरीर के निचले अंगों पर पड़ता है जिसके कारण कमरदर्द और वेजाइनल दर्द होती है। आप ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं आराम करें और अगर दर्द ज्यादा हो तो गर्म पानी से वेजाइना और कमर की सिकाई कर सकते हैं इससे आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe gastric problem h or ab jab se m pregnent hue hu bhut jyada ho rhi hu khati hu to bhi or nhi khati hu to bhi m bhut presan hu krpya kuch upay btaeye
उत्तर: आहार जैसे चावल, गाजर, हरी पत्‍तेदार सब्जियां, साबुत अनाज और होल ग्रेन फाइबर को बहुत अच्‍छा स्रोत है, जो पाचन तंत्र में पानी को अवशोषित कर आंतों के माध्‍यम से आहार को आगे बढ़ाते हैं। इस तरह से आहार में फाइबर की भरपूर मात्रा से मल त्‍याग को नियमित रखने में मदद मिलती है। लेकिन फाइबर को आहार में शामिल करते धीरे-धीरे शामिल करें, क्‍योंकि आपके शरीर को इसकी आदत नहीं होती है। एक या 2 घंटे में थोड़ा-थोड़ा खाएं जरूर। गर्भावस्‍था के दौरान तनाव नहीं लें. टेंशन होने से पेट में दर्द और ऐंठन हो सकती है. गर्भावस्‍था में शरीर में पानी की कमी हो जाती है और इस कारण पेट फूल जाता है. ऐसे में समय-समय पर पानी पीते रहें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें