30 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mujhe इन दिनों पेट बहुत halka महसूस होता है और कुछ एहसास वि नही होता है क्या शाब तिक hai

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: इन दिनों साँस लेने में बहुत प्रॉब्लम होती है .. खाना भी पेट भर के नही खाया जाता . ऐसा क्या करु के घुटन महसूस ना हो
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान सांस लेने की समस्या किसी भी महिला को हो सकती है लेकिन ऐसा होना एकदम सामान्य बात भी नहीं है और यह समस्या डिलीवरी के बाद अपने आप ही खत्म हो जाती है गर्भावस्था के दौरान सांस लेने की समस्या दूसरे लक्षणों के जैसे ही है जो कुछ दिनों तक होता है और फिर अपने आप ठीक हो जाता है यह समस्या आपको पहले दूसरे तीसरे किसी भी महीने में हो सकता है कभी-कभी किसी महिलाओं को यह समस्या पूरे गर्व काल के दौरान झेलनी पड़ती है सांस लेने की समस्या बहुत सारे कारणों से हो सकता है गर्भावस्था के दौरान क्योंकि के दौरान हमारे शरीर में बहुत सारे परिवर्तन होते रहते जिसके वजह से हमें कभी कभी बहुत ज्यादा सफोकेशन होने लगता है प्रेगनेंसी के दौरान प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का लेवल बढ़ जाने की वजह से यह शासन तंत्र को प्रभावित करता है और यहां ब्रेन के उस भाग को प्रभावित करता है जो श्वसन तंत्र को कंट्रोल करके रखता है इस कारण हमें सफोकेशन होने लगता है क्योंकि इस दौरान शरीर में ऑक्सीजन की maang काफी ज्यादा बढ़ जाने की वजह से सफोकेशन होने लगता है गर्भावस्था के दौरान शरीर में खून 50% तक बढ़ जाता है इसलिए दिल को खून को pump करने के लिए काफी ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है जिसके कारण भी हमें सांस लेने में तकलीफ होने लगती है और गर्भावस्था के लास्ट महीनों में बच्चा के आकार में वृद्धि होने के कारण वहां फेफड़ों में दबाव डालता है जिसके कारण फेफड़ों को फैलने में दिक्कत होती है जिसके कारण हमें सांस लेने में बहुत तकलीफ होने लगती है इसके लिए आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जैसे आपको हमेशा उठते-बैठते सोते समय अपने पोजीशन या स्थिति का ध्यान रखना होगा ताकि आपको सांस लेने में किसी प्रकार की परेशानी ना हो अगर आपको सांस लेने की परेशानी हो रही है तो आप इस समय थोड़ा बहुत ब्रीथिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं ताकि इससे आपको अच्छा फील हो सांस लेने की समस्या या सफोकेशन होने से बच्चे को किसी प्रकार का कोई effectनहीं होता यह एकदम नॉर्मल है इस से maa aur बच्चों को किसी प्रकार का कोई इफेक्ट नहीं होता जब आपको लगे कि आपको बहुत ज्यादा safocationहो रहा है तो उस स्थिति में आपको आराम से रहना चाहिए और कुछ देर के लिए breathing एक्सरसाइज करना चाहिए इस दौरान आपको ज्यादा भारी सामान नहीं उठाना चाहिए गर्भावस्था के दौरान आपको हमेशा उल्टे हाथ की तरफ होना चाहिए इससे आपको सफोकेशन से राहत मिलेगी प्रेग्नेंसी के समय हमें कभी-कभी कुछ भी खाने का मन नहीं करता और खाने के बाद उल्टी हो जाती है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस समय हार्मोन में परिवर्तन के वजह से होता है जो कि गर्भावस्था में बच्चे के विकास के लिए सही नहीं होता अगर आप सही तरीके से नहीं खा पाएंगे तो बच्चे को पोषक तत्व नहीं मिल पाएगा और बच्चे का विकास हो जाएगा इसलिए अगर आप चाहते हैं कि बच्चे का विकास अच्छे से हो तो आपको ना मन लगने के बावजूद भी खाना चाहिए प्रेगनेंसी में भूख नहीं लगने का दूसरा कारण भी हो सकता है यदि आपका पेट का आकार बच्चे के आकार के बढ़ने के साथ-साथ बढ़ रहा है उसके वजह से आपको आदि की समस्या हो रही होगी तो भूख नहीं लगता तीसरा कारण यह भी हो सकता है प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन का स्तर बढ़ जाने की वजह से आपका डाइजेस्टिव सिस्टम शुरू कर जाता है जिसकी वजह से आपको भूख नहीं लगती और कभी-कभी आयरन की गोलियां खाने से भी उसके साइड इफेक्ट से हमें भूख कम लगते हैं इसलिए इस समय भूख को बढ़ाने के लिए आप कुछ उपाय कर सकती हैं यदि आपको भूख कम लगती हो तो आप दिन में थोड़ा-थोड़ा करके कई बार खाएं ताकि आपको और आपकी शिशु को पोषण की कमी ना रहे गर्भावस्था में ज्यादा आराम मत करें हल्का-फुल्का व्यायाम और घर में थोड़ा बहुत काम करते रहे जिससे आपका खाना जल्दी पचेगा और दोबारा आपको भूख लगेगी सुबह-शाम वाकिंग यानी टहलना जरूर करें इससे आपको और आपके बच्चे को बहुत फायदा होता है यदि आपको कम भूख लगती हो तो आप फाइबर प्रोटीन युक्त भोजन जैसे फल सब्जियां दूर आदि ज्यादा मात्रा में खाएं ताकि ताकि आपकी शिशु को जितना जरूरत है उतना मिल जाए आप ऐसी चीज खाए जो आपको पसंद हो लेकिन वह जल्दी होना चाहिए आप कभी कबार अपने मुंह के टेस्ट के लिए थोड़ा बहुत फास्ट फूड खा सकते हैं लेकिन यह आप को नुकसान भी पहुंचा सकता है घर पर ऐसे हेल्दी चीज बनाए अपने से जो आपको पसंद हो जिसमें सारे पोषक तत्व शामिल हो
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: भुक नही लगती और उलटी जी मचलने ये शाब कुछ अच्छा नही लगता नीन्द नही आती पेट मि भि थोड़ा दरद महसूस होता है
उत्तर: प्रेगनेन्सी मे वीक्नेस्स आना नॉर्मल है , आप ज़्यादा परेशान ना हो , सुरुवात मे बहुत तकलीफ़ होती है , उल्ती चक्कर कमज़ोरी की वजह से , पर 3 माह खतम होने पर आपको ठीक लगने लगेगा . आप बहुत पानी पीजीये साथ हि आराम भि कीजिए प्रेगनेन्सी के शुरू के 3 माह मे ज़्यादातर महिलाओ के उलटी की प्रॉब्लम होती हि है , जैस जैस प्रेगनेन्सी बढ़ने लगेगा , उलटी चक्कर की तकलीफ़ काम हों जाएगी , आप उल्ती के लिए ये ट्राइ करे , आराम मिलेगा जिस भोजन में फाइबर की मात्रा ज्यादा हो उनका सेवन करें नींबू को काटकर बीज निकाल दें। कटे हुए नींबू पर थोड़ा सेंधा नमक और काली मिर्च पाउडर डालकर चूसने से उल्टी और जी मिचलाना कम हो जाता है संतरा और अनार खाने से उल्टी में आराम मिलता है हरा धनिया ( धनिये की पत्ती ) का रस रस निकाल कर एक एक चम्मच लेते रहने से उल्टी होना बंद होता है तनाव को कम करे,ज्यादा पानी पीए,रोज शाम को थोड़ा walk करे . प्रेगनेंसी के समय में ज्यादा वजन उठाने वाला काम करने और ज्यादा नीचे झुकने वाला काम करने से भी पेट दर्द हो सकता है जमीन पर ना बैठे और क्रॉस लेग करके नहीं बैठे वरना दर्द ज्यादा बढ़ सकता है पीठ के बल सोने की बजाए साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  यह दर्द हील वाली सेंडिल पहने से भी हो सकता है इसलिए हमेशा स्लिपर ही पहने
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझ अभी कुछ महसूस नही होता है पेड me halka dard rahta hai
उत्तर: बच्चे का मूवमेंट 18 से 23 सप्ताह के बीच में पता चलता है बच्चा इतना छोटा होता है कि वह मूवमेंट करता तो आपको पता नहीं चलता है बच्चे का मूवमेंट गैस के बुलबुले की तरह होता है इसलिए बहुत से महिलाओं को यह समझ में नहीं आता कि बेबी का मूवमेंट है खासकर के पहले प्रेगनेंसी में आप चिंता ना करें थोड़े दिन रुक जाइए आपको बेबी का मूवमेंट जल्दी ही पता चल जाएगा प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाला काम या कोई ऐसा काम जिसमें आपको थकावट ज्यादा लग गई तब पेट में दर्द बढ़ सकता है इसलिए आप ज्यादा भारी काम या ज्यादा झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजिशन भी ऐसे रखें जिससे आपको पीठ और पेट में दर्द कम हो जैसे कि आप left सोए ,पीठ के बल सोने से आपकी यह तकलीफ बढ़ सकती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें