गर्भावस्था की तैयारी

Question: muje pcod h aur concive ni ho rha h kya kre

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर , आप अगर प्रेग्नेंट होना चाहती हैं और आपको अगर picos है तो आपको सबसे पहले इसका इलाज करना चाहिए फिर प्रेग्नेंट होने की कोशिश करनी चाहिए ऐसे में आपको डॉक्टर से अपना इलाज करवाना ठीक रहता है Pcod ya pcos एक ऐसी मैडिकल कंडीशन है जो महिलाओं मे होर्मोनल असन्तुलन के कारण पाई जाती है। इसमे महिला के शरीर मे पुरुष होर्मोन का स्तर बढ़ जाता है। और ओवरी मे एक से ज्यादा सिस्ट हो जाती हैं। इसको पोल्य्सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम या पोल्य्सिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर के नाम से जानते हैं। इसके सिम्पटम्स वजन बढ़ना, अनियमित पीरियड होना, शरीर पर ज्यादा बालो की ग्रोथ होना, मुहासे हो सकते हैं। वैसे तो इसका इलाज डॉक्टर से करवाना ठीक रह्ता है लेकिन आप कुछ घरेलु उपाय भी कर सकती हैं। सबसे पहले आपको ऐसे डेली थोड़ा बदलाव करे। मसालेदार और जंक फूड बिल्कुल ना लें। साथ मे दालचीनी गरम पानी मे मिलाकर रोज पिये। अलसी को भी पानी मे मिलाकर पिया जा सकता है। मेथी को रात भर पानी मे भिगो दें सुबाह मेथी दाना शहद के साथ खाएं। एप्पल साइडर विनेगर सुबह २ स्पून १ ग्लास पानी मे मिलाकर पियें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: plz btaiye harmon ko blnce kese kre muje pcod h r concive nai ho rai
उत्तर: हेलो डियर पैदल घूमना, जॉगिंग, योग, ज़ुम्बा डांस, एरोबिक्स,साइक्लिंग, स्विमिंग किसी भी तरह का शारीरिक व्यायाम रोज़ करें। व्यायाम के साथ आप मैडिटेशन भी कर सकती ही जिससे तनाव काम होगा। जंक फ़ूड,अधिक मीठा,फैट युक्त भोजन,अत्यधिक तैलीय पदार्थ,सॉफ्ट ड्रिंक्स, का सेवन बंद कर अच्छा पौष्टिक आहार लेना ज़रूरी है। अपनी डाइट में फल,हरी सब्जियां,विटामिन बी युक्त आहार,खाने में ओमेगा 3 फेटी एसिड्स से भरपूर चीज़ें शामिल करें जैसे अलसी, फिश, अखरोट आदि। आप अपनी डाइट में नट्स, बीज, दही, ताज़े फल व सब्जियां ज़रूर शामिल करें। दिन भर भरपूर पानी पीएं। मीठा खाने से परहेज करें क्योंकि डाइबिटीज़ होना इस बीमारी कारण हो सकता है। किसी भी तरह का मोटापा पैदा करने वाला पदार्थ जैसे, सफेद आटा, पास्ता, डब्बाबंद आदि न खाएं। सही आहार, नियमित व्यायाम और लाइफस्टइल में सुधार कर के इस समस्या को रोका जा सकता है।बाकी एक आम तरीका अपनाया जाता है वह है, ओव्यलैशन करानेवाली दवाइयां या इंजेक्शन्स का इस्तेमाल। सही डायट, एक्सरसाइज़ और वज़न नियंत्रित करने के साथ-साथ इन दवाइयों को लेने ले प्रेगनेंट होने में मदद हो सकती है। इन दवाइयों में ऐसे हार्मोन्स होते हैं जो अंडाशय या ओवरी को एक से अधिक अंड़े निकालने के लिए उत्तेजित करने का काम करते हैं। इसलिए अगर आप इन दवाइयों की मदद से नियमित रुप से आव्युलेट कर रही हैं या आपके अंडाशय से नियमित रुप से एग रिलीज़ हो रहे हैं। तो आप प्रेगनेंट हो सकती हैं। बेहतर यही होगा कि आप किसी अच्छे गाइनकलॉजिस्ट से अपनी स्थिति के बारे में बात करें। ताकि पता लगाया जा सके कि पीसीओएस के साथ आपके गर्भधारण की सम्भावना कितनी है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muje labour pain ni ho rha kya kre due date 15 aug h
उत्तर: हेलो डियर,40 सप्ताह के बाद आने वाली तारीख को डिलीवरी की तारीख माना जाता है।वैसे ज्यादातर 9 महीने के बाद ही बच्चा नीचे की ओर आने लगता है और जब बच्चा नीचे आता है तो उसके बाद पेल्विक बोन खिसकना चालू हो जाते हैं और बच्चे को नीचे आने के लिए जगह देते हैं ऐसे 1,1 प्रोसेस चालू होता हैऔर धीरे-धीरे बच्चा नीचे की ओर आने लगता है और इसी दौरान बच्चेदानी का मुंह खुलता है उसके बाद ही डिलीवरी वाला दर्द स्टार्ट होता है पानी की थैली फट जाने पर-इसमें आपको योनि से सफेद पानी का तेज़ रिसाव होगा।पेट में लगातार संकुचन होना ।पेट और पीठ के निचले हिस्से में असहनीय दर्द होना।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Sex krne k bd spam bhr aa jta h aur baby concive ni ho pa rha h nd muje baby ki bhut need h
उत्तर: ऐसा ओवरी में कोई प्रॉब्लम हो सकती है जैसे सूजन या ओवरी की पोजीशन ठीक ना होने की वजह से हो सकता है . आप किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह ले skte है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam muje baby concive nhi ho rha kya kru
उत्तर: Aap ek bar aapka or apke pati ka checkup karvalo kuch problem hogi to pata chal jayega
»सभी उत्तरों को पढ़ें