23 weeks pregnant mother

Muje baby ki movement bahot kam mehsus hoti hai sirf rat ko sone ke samay lagta hai jaise pet mai babbles nikal rahe ho o bhi sirf khuch second mujhe baby ki Kick mehasus nahi hoti aur uska pet mai ghumna (firne)bhi mehsus nahi hota

सवाल
हाय डिअर लिए कोई टेंशन लेने की बात नहीं है क्योंकि बच्चे कभी-कभी थोड़ी मूविंग करते हैं जिसको हम समझ नहीं पाते हैं इसलिए आपको इसमें टेंशन नहीं ले बच्चे थोड़ी थोड़ी मूविंग तो करते ही रहते हैं| हाय डियर आप लेफ्ट साइड में लेटे हैं जिससे बच्चों की मूवी करना जल्दी बढ़ जाती है| आप कोई जूस पिए जूस पीने से बच्चों की मूविंग जल्दी बढ़ जाती है|खाने के बाद थोड़ी वाकिंग जरूर किया करें यह प्रेगनेंसी में सबसे ज्यादा अच्छी होती है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Hello,muje rat ko sone me bahot problem hota hai,or rat ko baby ki movement bhi bahot jyada hoti hai,rat ko 3 baje tak muje nind nahi aati,mai kya karu , koy upay bataye....
उत्तर: हेलो प्रेग्नेसी में होर्मोन के चेंजेज और माँ और बेबी के बढ़ते वेट के कारण नीन्द ना आने की समस्या आने लगती है प्रेग्नेसी में पेट के बड़े आकार की वजह से सोने की किसी भी पोजीशन में आराम नहीं मिल पाता है। नींद आ भी जाए तो हल्का सा भी पोजीशन बदलने पर नींद में disturb ho ही जाती है। प्रेग्नेसी के दौरान आपको मुलायम गद्दे और तकिये का प्रयोग करना चाहिए जिससे आपके पेट को सहारा मिले। बाईं तरफ सोने की आदत डालें क्यों कि इसी तरफ से शिशु के लिए बेहतर तरीके से रक्त प्रवाह हो पाता है।आप सन्तुलित और हेल्थी खाना खायें दिन में ऍक्टिव रहें पानी दिन में जयाद और रात में कम पीये ,kai बार यूरिन जाने के लिए उठने के बाद नीन्द नही आती है lचाय कोफ़ी का सेवन band करेl सोने से पहले मोबाइल टी.वी. ना देखें l वॉक करे l सोने से पहले गुनगुन ढूध पीये और सोने से पहले कुछ सोचें ना lतनाव ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muje back me bahot pain hota hai aur ab sone me bhi bahot dikkat ho5i hai karvat badalti rahe jati hu puri rat par so nahi pati..pet me bhi bahot khichav mahesus hota hai..kya karu me...
उत्तर: प्रेग्नेंसी के आखिरी आखिरी मंथ में हमारी pelvic एरिया के मसल्स और बोन दोनों फैलने लगते हैं जिससे हमें बीच-बीच में पेन होता रहता है यह नॉर्मल है आप घबराइए नहीं यह प्रेगनेंसी में होता ही है इससे हमें नॉर्मल डिलीवरी के लिए हेल्प मिलती है हमारा बॉडी अपने आप को इसके लिए तैयार करता रहता है जैसे-जैसे बच्चे का साइज बढ़ता जाता है जिससे पेट में हल्का दर्द या खिंचाव महसूस होता है । प्रेगनेंसी के मंथ में हमारे कमर पर जोर पड़ता है जिससे कमर दर्द, पीठ दर्द, पैर दर्द, पसलियों मे दर्द की शिकायत होती है। वजन बढ़ जाने की वजह से पैरो में भी दर्द रहता है। आप करवट लेकर लेफ्ट साइड करके सोय। पैरों में दर्द के लिए आप कुछ देर आराम कीजिए अपने पैरों में सरसों के तेल से मालिश कीजिए और अपने पैरों को halka गर्म पानी में हल्का नमक डालकर थोड़ी देर duba कर रखिए इससे आपको पैरों के दर्द में आराम मिलेगा। दोनो पैरो के बीच में तकिया लेकर सोये। इससे बहुत आराम मिलेंगा। आप सरसो के तेल से हलकी हलकी मालिश भी कर सकती है। कमर के दर्द पीठ और पैरो के दर्द के लिए सरसो का तेल बहुत फायदेमंद रहता है। आप थोड़ा जयाद अराम किया कीजिए. जयाद देर खड़े होकर और जयाद झुक कर काम करना अवोइड कीजिए .. खाने पीने मे पोष्टिक अहर लीजिए अगर दर्द कमज़ोरी से हुआ तो वह खाने पीने में धयान देन से ही ठीक हो जायेगा. अगर आपको ज्यादा दर्द है तो आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muze nausea ki bahot pareshani hoti hai, body me bahot hi sustpan lagta hai bahot aalas rehta hai muzse khuch bhi khaya bhi nahi jata aur pani to bilkul bhi piya nahi jata, muze ek 5yr ki daughter hai, 7 months pehale miscarriage hua tha, ab aap bataiye me kya karu, kuch bhi khane ka ya pani tak pine ki iccha nahi hoti.
उत्तर: पहले ट्राइमेस्टर में मॉर्निंग सिकनेस समस्या ज्यादा होती है मैं आपको कुछ सुझाव देना चाहूंगी इस टाइम आप को थोड़ा-थोड़ा करके खाना खाना चाहिए एक साथ पेट भर कर पूरा खाना ना खाएं पूरे दिन में थोड़ा थोड़ा करके कुछ न कुछ खाते रहें सुबह अदरक की चाय पीने से भी आराम होता है बिस्तर से उठने के बाद तुरंत चलने की कोशिश करिए खाली पेट ना रहे एप्पल साइडर विनेगर को शहद के साथ लेने से मॉर्निंग सिकनेस की समस्या कम होती है पानी नींबू और पुदीना मिलाकर पिएं इससे भी सिकनेस में आराम मिलता है सही मात्रा में कैल्शियम ,विटामिंस लेने से भी आराम रहता है अधिक मात्रा में प्रोटीन लेना ठीक रहता है चिंता की कोई बात नहीं है थोड़ा टाइम पास मॉर्निंग सिकनेस अपने आप ठीक हो जाती है भूख ना लगना वोमिटिंग सा फील होना या चक्कर आना जी घबराना या मिचली जैसा लगना यह सब मॉर्निंग सिकनेस के सिम्टम्स होते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें