16 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: konse month se walk krna chahiye

2 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप प्रेगनेंसी के पूरे 9 मंथ वॉक कर सकती है अगर आपको कोई हेल्थ कॉम्प्लिकेशन नही है और आपकी प्रेगनेंसी हेल्थी है तो आप वॉक कर सकती है आप रोज 30 मिनट वॉक करे थकान होने पर वॉक ना करे वॉक के लिए कुछ खा कर निकलें वॉक के समय कपड़े और शू कम्फर्टेबल पहनें .प्रेजेनसी में होने वाली थकान और कमज़ोरी वॉक से कम होती है बॉडी फ्लेक्सिबल बनी रहती है और ब्लड प्रेशर शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है डेली वॉक से आपको रात में नीन्द अच्छी आती है गर्भावस्था में टहलने से मांसपेशि‍यों में तनाव नहीं आता है और वे लचीली बनी रहती हैं. मांसपेशियों के ललीचेपन के चलते नॉर्मल डिलीवरी होने की संभावना बढ़ जाती है और बच्चे का विकास मॉर्निंग वॉक करने से अच्छा होता है
Answer: हेलो डियर आप अपने प्रेगनेंसी के दूसरे महीने से ही walk करना शुरू कर सकती हैंप्रेग्नेन्सी में सबसे अच्छा एक्सर्साइज होता है वॉक करना आप प्रेग्नेन्सी में जीतन वाक करेगी आपके सेहत के लिए उतना ही अच्छा होगा कुछ अन्य व्यायाम हैं, जैसे, पेल्विक ब्रीथिंग एक्सरसाइप्राणायाम ,स्क्वैटिंग, बटरफ्लाई एक्सरसाइज इत्यादि। यह सब व्यायायम आपको नार्मल डिलीवरी में मदद करेंगे। लेकिन डॉक्टर ने आपको यदि बेड रेस्ट के लिए बोला है या आपके प्रेगनेंसी में किसी तरह का कॉम्प्लिकेशन है तो आपको यह सब एक्सरसाइज नहीं करना चाहिए और वह भी नहीं करना चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: नॉर्मल डिलीवरी k लिए वाक करना कौनसे मंथ से स्टार्ट करनी चाहिए और किस टाइम
उत्तर: नॉर्मल डिलीवरी के लिए आपको प्रेगनेंसी के तीसरे महीने के बाद जैसे वाकिंग करनी चाहिएजैसे, पेल्विक एक्सरसाइज(पेल्विक एक्षेर्सिसे),ब्रीथिंग एक्सरसाइज(ब्रीदिंग एक्षेर्सिसे), प्राणायाम ,स्क्वैटिंग(सक़टींग), बटरफ्लाई एक्सरसाइज इत्यादि। यह सब व्यायायम आपको नार्मल डिलीवरी में मदद करेंगे। बहुत ज्यादा आराम या सुस्त होने की जरूरत नहीं है, आप अपने आपको हमेशा एक्टिव रखें अगर डॉक्टर ने आपको बेड रेस्ट की हिदायत न दी हों तो।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: kesar milk konse month se start krna chahiye
उत्तर: हेलो . आप 22 वीक्स प्रेगनेट है आप केसर मिल्क के साथ प्रेग्नसी के दूसरे तिमाही से ले सकती है .आप केसर का यूज़ आज से ही कर सकती है इसका यूज़ सिमित मात्रा में करे केसर की 2 से 3 रेशे ही मिल्क में पर्याप्त है इसका अधिक सेवन करने से गर्भवती महिला और उसके बच्चे को नुकसान भी हो सकता है। गर्भावस्था के दौरान शरीर में हार्मोन में बदलाव आने की वजह से उन्हें हैवी फूड नहीं पच पाता जिस वजह से अक्सर महिलाओं का पेट खराब रहता है। ऐसे में केसर वाला दूध पीने से पाचन मजबूत होती है प्रैग्नेंसी के दौरान महिलाओं को तनाव की वजह से ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाता है। केसर दूध का सेवन करने से ब्लड प्रेशर संतुलित रहता है l
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: एक्सरसाइज कौनसे मंथ से करना चाहिए और कौन सी
उत्तर: अब आप की प्रेगनेंसी मैच्योर हो रही है अगर आप चाहें तो डॉक्टर की सलाह लेकर एक्सरसाइज कर सकती
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेंसी के कौनसे मंथ से सेक्स नहीं करना चाहिए
उत्तर: आपको आखिरी महीने में इंटीमेट होने से बचना चाहिए डियर क्योंकि इस समय बच्चे का साइज काफी बढ़ जाता है और काफी सारे कॉम्प्लिकेशंस इस समय हो सकते हैं इसीलिए फिलहाल जरूर एवोइड करें ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें