15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mhuje 4 month m gussa bi bhout aata hai ku

2 Answers
सवाल
Answer: mera 5th month start ho gya h or mujhe baby movements nhi pta chal rhe help someone
Answer: muje luzemosan ho rhe h m kya kro isme plz koi btyega
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mera 4 month chal raha hai muje gussa nahot aata hai or stares bhi bahot rejeta hai
उत्तर: hello डियर ""''''प्रेगनेंसी के दौरान हारमोंस में अनेक प्रकार के परिवर्तन होते रहते हैं इसी का प्रभाव से गुससा ,चिड़चिड़ाहट ,डिप्रेशन आदी प्रकार के समस्याएं जन्म लेती हैं आपको इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए अपने daily life व भोजन में कुछ परिवर्तन करना आवश्यक हो जाता है | 1)भोजन में अधिक से अधिक पानी का प्रयोग जारी रखें क्योंकि इसमें आपके ब्रेन से निकलने वाली चिचड़ा हट जैसे अन्य विचारों को पैदा करने वाले हारमोंस धीरे धीरे कम होने लगते हैं 2)फलों का जूस, हरी पत्तेदार सब्जियां पर्याप्त मात्रा में संतुलित आहार लें इसका प्रभाव भी मानसिक तौर पर आप को मजबूत बनाता है | 3)अत्यधिक थकावट व श्रम युक्त कार्य ना करें इससे भी मानसिक दबाव कम होगा| 4) मेडिटेशन, योगा ,कपाल भारती ,हल्की वॉक जरूर ले ,यह भी मानसिक तनाव उत्पन्न करने वाले हारमोंस में कमी करते हैं | 5) मनपसंद संगीत मूवी या बुक्स भी पड़ सकती हैं इसके अलावा आप लोगों से मिलना जुलना ,अपनी पसंद का काम ,आदि करें इससे भी आपको मानसिक रिलैक्सेशन होगा 6) उन कामों को महत्व दें ,जिनमें आपको अच्छा अनुभव हो आप अपने लिए समय निकालें इस प्रकार आप अपने दिनचर्या में या कार्यविधि में परिवर्तन करें धीरे-धीरे आपको अच्छा fil होने लगेगा| ~टेक केयर~
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mhuje bhout hi acidit bana ti h m ky kro
उत्तर: प्रेगनेंसी में कुछ भी खाने से एसिडिटी जल्दी हो जाती है. इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपको कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है तो आपसे हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको रहत मिलेगी. आप खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन पानी के साथ ले इससे भी आपको रहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे गुस्सा बहुत आता है
उत्तर: थोड़ा शांत रहने की कोशिश करें अच्छे अच्छे गाने जो आपको बहुत पसंद हैं वो सुने और किसी की बात को mann से ना लगाएं को अच्छी सी किताबे पड़े या अपनी किसी फ्रेंड जिससे आप को बात करना अच्छा लगता है उससे बात करें पर पॉजिटिव ही बात करें नेगेटिव नहीं सोचे कुछ भी प्रेस नहीं ले उससे आपका मन बहुत हल्का होगा :)
»सभी उत्तरों को पढ़ें