6 months old baby

Question: meraबेबी 6 month ka h 2 din से potty ni gya है

1 Answers
सवाल
Answer: hello dear, बेबी का पॉटी ना करना ,कम पॉटी करना या तीन चार दिनों में एक बार नॉर्मल है बच्चे मां का दूध पीते हैं और मां के दूध में बहुत कम मात्रा में वेस्टेज होता है वेस्टेज की मात्रा कम होने के कारण पार्टी का निर्माण बेबी के शरीर में बहुत कम मात्रा में होती है जिसके कारण भी तीन-चार दिनों में पॉटी करते हैं| बच्चे के पेट में एंटी क्लॉक वाइज हिंग से धीरे-धीरे मसाज करें ,बेबी,को साइकिल एक्सरसाइज कराएं जिससे की पॉटी सॉफ्ट होकर बाहर निकलेगी अगर आपको फिर भी बहुत ज्यादा समस्या हो रही है तो आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं बेबी को किसी भी प्रकार की दवाइयां या और चीजें बिल्कुल भी ना दे।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera baby 6 month 8 din ka ho gya h potty nhi jata kaya kru m
उत्तर: अगर आपका बच्चा फार्मूला दूध पीता है तो उसे एक से दूसरे के बीच थोड़ा पानी पिलाते रहें दूध में बहुत ज्यादा पाउडर ना मिला है इससे बच्चे के शरीर में पानी की कमी हो जाती है जिससे कॉन्स्टिपेशन हो सकता है आपका बच्चा सॉलिड खाना khata है तो उसे बॉयल ठंडा किया गया पानी दे आप उसे 2 छोटे चम्मच आलूबुखारे का रस भी दे सकते हैं बच्चे को प्यूरी बनाकर या छोटे छोटे हिस्से में काटकर एप्पल , ग्रेप्स ,स्ट्रॉबेरी ,किशमिश दे सकते हैं इस meinकाफी फाइबर होता है मुनक्का की प्यूरी को ज्यादा फायदेमंद माना जाता है आप उसे यह पूरी एक या दो चम्मच पिला सकती हैं बच्चे के खाने में दालें भी शामिल करें अगर घरेलू उपचार से काम ना चले तो डॉक्टर से जरूर सलाह लें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera beta daily potty ni jatah avi 2 din se ni gya
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो क्योकि अक्सर देखा गया है की माँ का दूध पीने वाले बेबी 1 week मे 1 बार या 1 दिन मे 8 से 10 बार potty करें तों ये नॉर्मल है इस मे परेशान होने वाली कोई बात नही है पर बेबी का susu करना ज़रूरी है | आप कुछ घरेलू उपाय कर सकती है ~1) गुनगुने सरसों के तेल से बेबी के पेट पर उगंलियों की सहायता से मालिश करें दबाव ना डालें |2) गुनगुने पानी मे हींग मिक्स कर के बेबी की नाभि के चारों ओर clock wise लगायें | 3) बेबी के पैरों को साइकिल की तरह चलाये |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera baby 2 month ka h 6 ya 7 din mein ek baar potty krta h koi garelu upay batayien
उत्तर: 🙏अक्सर छोटे बच्चो कौ कब्ज कि परेशानी होती है इस स्थिती में बच्चों कि पौटी इतनी टाईट हो जाती है। कि इनहे निकालते समय बच्चे अपना पैर अकडा़ कर पेट की तरफ मोड़ लेते हैं और बच्चे का मुंह भी लाल हो जाता है।कभी कभी तो खुन भी निकल सकती है।ऐसी स्थिती में बच्चे के पेट में गरम पानी में नहलाते समय मालीश करने से पौटी निकलने में आसानी होती है बच्चे के नाभी के आस पास हिंग में पानी मीलाकर पेस्ट बना कर लगाने से भी बच्चे को राहत मिलती है। ।बच्चे पर मां के खान पान का भी असर होता है इसलिये मां को ध्यान रखना चाहीये कि बच्चे को कब्ज न हो। Take care.
»सभी उत्तरों को पढ़ें