31 weeks pregnant mother

Question: meri wife ka 31 week chal rha h usko dinbhar mae 4 bar letrin jati h or uske pet bhut mamarta h koi upay btaiye

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो आपकी वाइफ का प्रेगनेंसी पीरियड चल रहा है इसमें तीन से चार बार पोटी जाना बिल्कुल नॉर्मल है .. अगर आपकी वाइफ को लूज मोशन की समस्या हो रही है तो उन्हें अच्छी तरह लिक्विड चीजें लेने को कहें और घर पर ही ओआरएस का घोल बनाकर pilate रहें समस्या कम ना होने पर आप डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं ..पेट में दर्द होने पर आप तुरंत रिलीf के लिए बर्फ की पोटली से पेट की सिकाई कर सकती हैं या हल्के गर्म पानी k towel से भी सिकाई कर सकती हैं दर्द वाली जगह पर आप हल्के हाथों से नारियल तेल की मालिश कर सकती हैं इससे आपको बहुत ही आराम मिलेगा. ओके
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera pregenecy ka 31 week chal rha h mai dinbhar mai 4 bar letrin jati hu or pet bhut mamoran bhut deta h or weakness lgta h, isse koi problem hai kya koi upay btaiye
उत्तर: हलों डियर , प्रेग्नेन्सी में अगर आप 3 से 4 बार अगर दिन भर पोट्टि करती है तो ऐसा होना नॉर्मल बात है ऐसे में प्रेग्नेन्सी में तिसरी तिमाही में ऐसा होता है ऐसे में लेकिन आपके पेट में बहुत जयाद मरोड़ होता है तो आपको एक बार डॉक्टर को भी दिखा देना चाहिये , और अगर weekness लग रही है तो आपको पानी अदिक से अदिक पीना चाहिये , आपको नमक चीनी का घोल बना कर पीना चाहिये , इससे आपको weekness नही होगी अच्छे से deit ले , फल खाएं , हरि सब्जियां खायें अपना अच्छे से धयान रखें !
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri wife ke pet me hamesa pain rhta h. abhi uske 4 mhina chal rha h. koi upay bataye
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। अगर आपकी गर्भावस्था एकदम स्वस्थ चल रही है, तो पेट दर्द आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होते।  गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।   मजबूत, मांसपेशियां जो आपकी हड्डियों को जोड़ते हैं, उनमें पूरी गर्भावस्था के दौरान बढ़ते गर्भ को सहारा देने के लिए खिंचाव होता है। इसलिए जब आप हिलती-डुलती हैं, तो आपको शरीर में एक या दोनों तरफ हल्का दर्द महसूस हो सकता है।थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं।जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या गेहूं की छोटी पोटली से सिकाई करें। अगर आप गर्म पानी की बोतल का इस्तेमाल करें, तो इसमें गर्म पानी भरें (खौलता हुआ पानी नहीं) और ध्यानपूर्वक इसे तौलिये या किसी मुलायम कपड़े में लपेट लें। वहीं दूसरी तरह, गेहूं की पोटली एक कपड़े की पोटली होती है जिसमें गेहूं की भूसी भरी होती है। इस पोटली को माइक्रोवेव में कुछ मिनटों तक गर्म करना होता है। यह पोटली आपके शरीर के आकार के अनुसार ढल जाती है और एक घंटे या इससे ज्यादा के लिए गर्म रहती है।आराम करें। कई बार, sexकरने और पर भी मरोड़ या हल्का सा कमर दर्द हो सकता है। जिससे मरोड़ जैसा महसूस हो सकता है।आप कैसा महसूस कर रही हैं,डॉक्टर को बताएं। वह यह अंदाजा लगा पाएंगी कि आपकी असहजता की वजह गर्भावस्था के दर्द और पीड़ा ही हैं या फिर कुछ और।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mem mera 8th month chal rha h or m bhut baar letrin jati hu plz koi garelu upay btaye bhut paresaani ho rhi h
उत्तर: एक छोटा चम्मच पावडर किया हुआ अदरक, दालचीनी, जीरा में ज़रूरत के अनुसार शहद डालकर पेस्ट जैसा बना लें। इस पेस्ट का सेवन दिन में तीन बार करने से दस्त से जल्दी राहत मिल जाता है एक केला को मैश करके उसमें एक चुटकी नमक और एक छोटा चम्मच इमली का गूदा डालकर पेस्ट जैसा बनाकर दिन में दो बार इसका सेवन करने से जल्दी ही इसके कष्ट से राहत मिल जाता है एक कप बिना चीनी के ब्लैक टी का सेवन दस्त के कष्ट को दूर करने में बहुत मदद करता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें