20 weeks pregnant mother

Question: meri pregnancy around 19 weeks ho chuki h pet m awaz kiu aati h or farfraht feel hoti h

1 Answers
सवाल
Answer: अभी आपको २० वीक हुए है. तो आपको जो फड़फड़ात या गुदगुदी जैसा पेट में महसूस हो रहा है वो बच्चे के मूवमेंट हो सकते है.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 2month ki h use bhut tez cold ho gai h dr ko bhi dikha liya or malish bhi kr chuki bhut gale se cuf ki awaz aati h plz solution btay
उत्तर: Hello...dear आप के बेबी को अन्दर कफ़ जम गया है .. इसलिए इस तरह की आवाज़ आ रही है ...आप बेबी को थोड़ा रिलीफ dene के लिये कुछ टिप्स यूज़ कर सकती है .आप उसकी चेस्ट पर काऊ घी क साथ सेन्धा नमक मिलकर रब करे...सरसों क तेल को २ स३ लहसुन की कलियां डालकर गए कर क भी बेबी क बैक चेस्ट और हाथ पेरों मई अच्छे से रब करे...बaबी को थोड़े गर्म रूम में रखे.....यसे बेबी को रिलीफ हो जयga...ओर आप अज्वाइन की पोटली से बेबी की छाती को सेक करे। बेबी को डॉक्टर के पास ले जाकर nebulize करवायें . बेबी को बहुत रिलीफ लगेगा . और बेबी आसानी से साँस ले सकेगा .cough से रहत मिलेगी...अधिक प्रॉब्लम लगे तो आप डॉक्टर क पास ले जा सकती है...
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera baby 23 din ka h or iske pet m sayad dard h pet mrorta h yesa kiu
उत्तर: हैलो डियर--- बच्चे को स्तनपान के बाद डकार दिलाएं, क्योंकि इससे बच्चे के पेट का गैस बाहर निकलेगा। डकार दिलाने के लिए बच्चे को अपने कंधे पर सुला कर हाथों से पीठ को सहलाएं इससे बच्चे का डकार निकेगा जिससे गैस की समस्या खतम होगी बच्चे के पेट में गैस को कम करने के लिए बच्चे के पैरों को हल्के से उठायें, जैसा कि आप मालिश के समय सायकल चलाने के समान चलायें इससे बच्चे के पेट से गैस बाहर होगी। बच्चे के पेट में गैस की समस्या होने पर अपने बच्चे के पेट को हल्के हाथों से गुनगुने सरसों के तेल से मालिश कर सकती हैं। आप ऐस खाने से बचे जिससे कि बच्चे को गैस की समस्या हो। माँ के गलत खान-पान की वजह से बच्चे को गैस होता है। बच्चे को बिना डाक्टरी सलाह के कोई मेडिसीन न दें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam meri dilevari ho chuki h or mera pet vesa hi fula huva h ye kese kam hoga
उत्तर: हेलो आपकी डिलिवरी कैसे हुई है ये आपके सवाल से क्लियर नही है आपकी डिलिवरी नॉर्मल हो या सी सेक्शन से आप वेट और पेट कम करने के लिए जलदिबाजी ना करे आप 6 मंथ वेट कम करने की कोशिश ना करे पहले बॉडी को अच्छी तरह से रिकवर होने दे .आप अगर ब्रेस्टफीडिंग karwati है तो वेट लॉस करने में जल्दी ना करे आपके बच्चे को सारे न्यूट्रिशन आप से ही मिलते है .पहले बॉडी को अच्छी तरह से रिकवर होने दे . प्रेगनेंसी के बाद बॉडी को शेप में laana थोड़ा सा मुश्किल होता है lआपने इस बॉडी को बनाने में 9 मंथ दीए है तो पेट और वेट कम करने में भी समय देना होगा आप भोजन में वसा ना खा कर प्रोटीन फ़ूड जैसे एग बीन्स दालें खायें जिसके कारण पेट bhara हुआ लगता है और भूख कम लगती है पानी जयाद पीये ये वेट कम करने में हेल्प करता है adhik से adhik ब्रेस्ट फीड करवायें ये आपके वेट लॉस में हेल्प करता है . फ़स्टफ़ूद मैदा प्रॉडक्ट khane से बचे खाना हेल्थी और चबा चबा के खायें . भरपूर नीन्द लें और स्टरेस ना ले . वेट लॉस के लिए हलकी हलकी एक्सर्साइज करे प्रेग्नेसी के बाद यूज़ होने वाले मैटरनिटी बेल्ट का यूज़ करे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam meri beti 3.5 month ki h wo green poty kr rhi h uske pet se gudh gudh awaz aati h
उत्तर: हेलो डियर , अगर आप का 3.5 मंथ का बेबी हरी पॉटी कर रहा है तो इसमें समस्या की कोई बात नहीं है, ब्रेअस्टफ़ीफ़ करने वाले बच्चों में कभी-कभार ग्रीन स्टूल आना काफी सामान्य है, यदि बच्चे का वजन बढ़ रहा है और उसका विकास सही हो रहा है तो चिंता की कोई बात नहीं होती यदि आप बेबी को एक निश्चित समय तक दूध पिलाकर ब्रेअस्टफ़ीफ़ करवाना बंद कर देती हैं, तो हो सकता है कि बेबी को वसा युक्त दूध न मिल पाए ब्रेस्ट फिट करते समय शुरुआत का दूध ज्यादा पी लेने की वजह से बच्चों की potty का कलर ग्रीन हो जाता है, ग्रीन potty हो जाने का मतलब है कि बच्चों को बीच का न्यूट्रिशन वाला दूध नहीं मिल रहा है. कोशिश करें कि बच्चे को एक ही साइड के breast से ज्यादा देर तक दूध पिलाएं ताकि बच्चे को आखिर तक का गाढ़ा दूध मिल सके, अगर बच्चा ज्यादा देर तक दूध नहीं देता है तब आप दूध पिलाने से पहले शुरू का दूध थोड़ा निकाल दें जो पानी की तरह होता है , ताकि बच्चे को बीच का अच्छा गाड़ा दूध मिल सकें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें