1 महीने का बच्चा

Question: meri potty bhot tight aa rahi h jisse mere टाँकें me dard hota h or bleeding bhi hoti h me kya karu iske liye

1 Answers
सवाल
Answer: टॉयलेट के टाइम पर ब्लड आना ब्लीडिंग पाइल्स कहलाता है आप पाइल्स से अपना बचाव कर सकती हैं कुछ उपाय करके लिक्विड डाइट लें गर्भावस्था में कम से कम 10 गिलास पानी नियमित रूप से पिए फाइबर युक्त आहार लें आप योग व स्टिचिंग भी कर सकती हैं सांस संबंधी योग और एक्सरसाइज करने से भी राहत मिलेगी आप केगेल एक्सरसाइज भी कर सकती हैं ऐसे करने से काफी लाभ होगा क्योंकि एक्सरसाइज ब्लड सरकुलेशन को ठीक करता है एक ही समय में ज्यादा देर के लिए नहीं खड़े रहना चाहिए ना लेटे रहना चाहिए ना बैठे रहना चाहिए थोड़ा टहलने चलना फिरना और लेटना आरामदायक होता है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 9 month laga h or mere sharir me bhot dard rehta h to iske liye kya karu
उत्तर: हाथ पैर दर्द के लिए कमर दर्द के लिए सरसों के तेल से मालिश कर सकती है इससे आपको थोड़ा आराम मिलेगा कुछ दिन अच्छे से आराम कीजिए। उसके बाद योगा मेडिटेशन और हल्की वॉक स्टार्ट कीजिए तनाव से बिलकुल दूर रहिए।आपकी बॉडी एक्टिव रहेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ko potty kai bar aa rhi h or use pet me dard bhi hota h me kia karu
उत्तर: अगर बच्चा इस समय लैट्रिंग कर रहा है तो वह उसके लैट्रिन पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार का कर रहा है अगर बच्चा पानी जैसे लेट्रिन करता है या फिर काला लैट्रिन करता है तभी परेशानी होती है अगर बच्चा पीला लैट्रिन और पतला अगर 10 बार करता है तो उसकी वजह से आप बिल्कुल ना घबराए कभी छोटे बच्चों में या सामान्य बात होती है लेकिन यदि पानी जैसे दस्त होता है तब ऐसे में बच्चे के शरीर का पूरा पानी बाहर आ जाता है इसे बच्चे को परेशानी होती है इसके लिए आपको डॉक्टर की सलाह की जरूरत होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी एड़ी और पैरों में बहुत दर्द होता है डॉक्टर .क्या करूं सुबह सुबह थकान भी महसूस होती है
उत्तर: हेलो डियर "आ प 28 वीक की प्रेग्नेंट है ...प्रेग्नेंसी में पैर दर्द हो ना कॉमन है हार्मोन में बदलाव या शारीरिक परिवर्तन होने के का रण पैर में दर्द की स्थिति उत्पन्न हो जाती है आप कुछ घरेलू उपाय से पैर दर्द को दूर कर सकती हैं | एक ही पोजीशन में लंबे समय तक खड़े या बैठे ना रहे पोजीशन चेंज करते रहे |सरसों तेल में लहसुन को डालकर गर्म करें और इसी गर्म तेल से पैरों की हल्की हल्की मसाज करे..पैर को लटका कर ना बैठ |पौष्टिक व संतुलित आहार लें |हल्की धूप, मैं बैठे ,धूप से seविटामिन डी मिलता है जो की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है |दूध ,पनीर, दही, सोयाबीन, हरी पत्तेदार सब्जियां आदि का प्रयोग भोजन में करें कैल्शियम में वृद्धि होगी ,जिससे आपके हड्डियों में मजबूती आएगी वशारीरिक दर्द में कमी होगी|रात को सोते समय पैर को खुली हवा में ना रखें |गर्म पानी में नमक डालकर कुछ समय तक पैरों को डूबा कर रखें इससे भी पैर दर्द में कमी आ सकती है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri kamar me bahut dard h iske liye kya karu
उत्तर: अभी आपका तीसरा महीना चल रहा है. प्रेगनेंसी में हो रहे बॉडी changes और hormonal changes की वजह से हमें वीकनेस महसूस होती है और कभी इसके कारन कमर में भी दर्द होता है. आप पौष्टिक आहार लेते रहे. पानी और प्रवाही ज्यादा ले. एक साथ बहोत सारा खाना न खाये पर थोड़ा थोड़ा करके हर दो घंटे में कुछ खाये. लम्बे समय तक खड़े होक काम ना करे बिच बिच में थोड़ा आराम ले. और सोते वक़्त अपनी जांघ के निचे तकिया रखकर सोये तो कमर दर्द में रहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें