3 महीने का बच्चा

Question: meri ldki 3 month ki ho gyi ...ab b thodi thodi potti kr deti h....chik ke sth thodi si potty aajati h ...kya kru

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri gudiya 12 din ki h .kl s wo br br potti kr rhi h.ky kru. wo tej awaj k sth potti kr rhi h .
उत्तर: देखिए आप बिल्कुल परेशान ना हो बच्चे के जन्म के बाद शुरुआती दिनों में ज्यादा potty करता है..जैसे कि दिन में पांच छह बार हो सकता है यह एक सामान्य चीज है ..बच्चे की लैट्रिन इस बात पर डिपेंड करती है कि वह ब्रेस्ट फीडिंग करता है या फार्मूला मिल्क पीता ह..अगर बच्चा ब्रेस्टफीडिंग करहा है तो वह दिन में 5 या उससे ज्यादा बार लेट्रिन कर सकता है ऐसा भी हो सकता है कि उसे दो-तीन दिन तक लैट्रिन ना आए पर इसमें कोई भी चिंता वाली बात नहीं है ..लेकिन जो बच्चा फार्मूला मिल्क पी रहा है उसे डेली फ्रेश होना बहुत जरूरी है जिससे उसके पेट को आराम मिलेगा और कॉन्स्टिपेशन की शिकायत नहीं होगी बस आपको इतना ध्यान रखना है कि बच्चे के लैट्रिन बिल्कुल मुलायम हो हां बच्चे की लैट्रिन ठोस बिल्कुल नहीं होनी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti kuch bhi khati h uske bad potti kr deti h btaiye mai kya kru
उत्तर: हेलो डियर ऐसा तो नहीं है कि आपकी बच्ची के दांत भी कर रहे हो बिकॉज अक्षर बच्चों के जब दांत निकलते हैं तो बच्चे बहुत ज्यादा पॉटी करते हैं , आप उसको दही खिलाई है उसके अंदर काला नमक और हींग का तड़का मार के ताकि उसके पेट में ठंडक पहुंचे और उसकी पार्टी कब हुआ ना अब उसे केला भी खिला सकती है केला भी बहुत फायदेमंद होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti ek sal ki hai usko kuch bhi khilao potty kr deti h kya kru
उत्तर: हेलो डियर छोटे बेबी को दस्त की प्रॉब्लम हो जाती है और यह अधिकतर 6 महीने से 2 साल तक के बेबी को ज्यादा होती है इसके लिए आप घबराएं नहीं और कुछ घरेलू उपाय करके देखें जिससे बेबी को दस्त में आराम मिलेगानमक ऑर चीनी का घोल बनाए नमक चीनी को समन मात्रा मि मिलना बार बार इस घोल को पिलाएं मगर याद रखें की घोल ताजा रहे दूसरे दिन उस घोल का उपयोग ना करें जायफल को पानी में घिस्कर आधा चम्मच दो तीन बार piलाएं बेबी को बनाना सीखना है क्योंकि केला खाने से भी दस्त में आराम मिलता है आप चाहें तो बेबी को खाली अकेला भी खिला सकते हैं और आराम ना होने पर डॉक्टर से सलाह ने
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti bar bar thodi thodi si potty krti h yellow colour ki.. kya karu??
उत्तर: देखिए आप बिल्कुल परेशान ना हो बच्चे के जन्म के बाद शुरुआती दिनों में ज्यादा potty करता है ,जैसे कि दिन में पांच छह बार हो सकता है यह एक सामान्य चीज है ,बच्चे की लैट्रिन इस बात पर डिपेंड करती है कि वह ब्रेस्ट फीडिंग करता है या फार्मूला मिल्क पीता ह, अगर बच्चा ब्रेस्टफीडिंग करहा है तो वह दिन में 5 या उससे ज्यादा बार लेट्रिन कर सकता है ऐसा भी हो सकता है कि उसे दो-तीन दिन तक लैट्रिन ना आए पर इसमें कोई भी चिंता वाली बात नहीं है ,लेकिन जो बच्चा फार्मूला मिल्क पी रहा है उसे डेली फ्रेश होना बहुत जरूरी है जिससे उसके पेट को आराम मिलेगा और कॉन्स्टिपेशन की शिकायत नहीं होगी बस आपको इतना ध्यान रखना है कि बच्चे के लैट्रिन बिल्कुल मुलायम हो हां बच्चे की लैट्रिन ठोस बिल्कुल नहीं होनी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें