27 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: meri sidhi kok me or sidhi lag me kafi dard ho rha h 2 din se me kia kru

1 Answers
सवाल
Answer: बेबी वेट बढ़ने के कारन ऐसा होता है आप चिन्ता ना करे ऑर अपन ख्याल rakhe
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 2 din se meri legs or back m bhut pain ho rha h.. kya kru m??
उत्तर: डियर . बॉडी मे होने वाले हार्मोनल चेंजेज की वजह से इस तारा की समस्या माँ को होना नॉर्मल होता है ..आप अपने पैरों का मालिश सरसों के तेल से करें तो ज्यादा बेहतर होगा सरसों का तेल शरीर को गर्म करता है जबकि जैतून का तेल शरीर ठंडा करता है सरसों के तेल को हल्का गुनगुना गर्म करके ही आप अच्छे से पैरों की मालिश कर सकते हैं यह प्रक्रिया आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं पैरों को ज्यादा देर लटका करना रखें पैरों को हमेशा उठाकर ही बैठे और जब भी सोए पैरों के नीचे तकिया लगा ले आप गर्म पानी गर्म पानी से पैरों की seak भी कर सकते हैं उससे आपको बहुत रिलीफ होगा.आप अपने कमर की सिखाई गर्म पानी के बोतल से या बर्फ की पोटली से भी करें इससे भी आपको बहुत आराम मिलेगा या आप घर पर अगर कोई हो तो मदद ले और कमर की मालिश करवाएं इससे बहुत जल्दी आपको रिलीf होगा..ok
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी ब्रेस्ट के निपल्स में दर्द हो रहा ह 2 दिन से
उत्तर: हेलो डियर पैंन होता है यह प्रेग्नेंसी के तीन या चार हफ्तों बाद से ही निप्पल में दर्द महसूस कर सकती हैं निप्पल इतने कोमल होते हैं कि कपड़ों से उन पर रगड़ लगना भी सहन नही होता यह स्थिति जल्द ही ठीक हो जाएगी, और यह दर्द पहली तिमाही के बाद शायद कम हो जाएगा। दूसरी तिमाही में हॉर्मोनों का बढ़ता स्तर अब ठहर जाएगा। हालांकि, यह जरुरी नहीं है कि इसके साथ स्तनों का दर्द भी पूरी तरह ठीक हो जाएगा। पूरी गर्भावस्था के दौरान समय-समय पर आपको दर्द हो सकता है। 
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 2 dino se mere pet m bhut dard ho rha h..or vegina me bh khichaw lag rha h kya kru??
उत्तर: हेलो डियर वैसे तो प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना नॉर्मल है और यह पूरे प्रेगनेंसी में थोड़ा बहुत होते रहता है और कुछ ही देर के बाद खुद ही ठीक हो जाता है मगर आपको यदि लगातार दर्द हो रहा है तो आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए प्रेगनेंसी में प्राइवेट पार्ट में khichaav होना नॉर्मल है क्योंकि यह गर्भाशय का साइज बढ़ने की वजह से नीचे की और उसका दबाव पड़ता है इसलिए खिचाव महसुस होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें