2 महीने का बच्चा

Question: Meri bby ulti krti hai feed k bad kya krna chahie...ulti krte wqt uski sas atk jati h

4 Answers
सवाल
Answer: नवजात शिशु उल्टी के कारण-- -(1)कभी-कभी नवजात में दूध की उल्टियां करने का एक कारण उसके पेट का दब जाना ।कभी-कभार बच्चे का पेट सोते या गोद में लेते समय दब जाता है, जिससे कि वो उल्टियां कर देते हैं ।(2)ज्यादातर बच्चों में उल्टी का कारण ज्यादा दूध पी लेना होता है। अपने बच्चे को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में कई बार स्तनपान कराएं। जिससे कि बच्चे को उल्टी न हो। (3)छोटे बच्चे में गैस की समस्या बहुत आम है माँ जाने-अनजाने में वैसे चीजों का खा लेती हैं जो बच्चे में गैस के साथ दर्द के कारन होता है। (4) सर्दी जुकाम या खांसी होने के कारन भी बच्चे दूध की उल्टियां करते हैं (5) बच्चे मुंह में ऊँगली डालते हैं, जिससे कि शिशु उल्टि कर देते हैं नवजात बच्चों को अगर स्तनपान के बाद कुछ उपाय किया जाय तो बच्चों कि परेशानी खतम हो सकती है। (1)बच्चे को गैस से राहत दिलाने के लिए उसे सबसे पहले डकार दिलाएं, क्योंकि इससे बच्चे के पेट का गैस बाहर निकलेगा। डकार दिलाने के लिए बच्चे को अपने कंधे पर सुला कर हाथों से पीठ को सहलाएं इससे बच्चे का डकार निकेगा, गैस की समस्या से राहत मिलेगी। (2)बच्चे के पेट में गैस को कम करने के लिए बच्चे के पैरों को हल्के से उठायें, जैसा कि आप मालिश के समय करती हैं, इससे बच्चे के पेट से गैस निकलने में मदद होगी। (3)बच्चे के पेट में गैस की समस्या होने पर अपने बच्चे के पेट को हल्के हाथों से गुनगुने सरसों के तेल से मालिश कर सकती हैं। (4)आप ऐस खाने से बचे जिससे कि बच्चे को गैस की समस्या हो। माँ के गलत खान-पान की वजह से बच्चे को गैस होता है।
Answer: मां अपने बच्चे को गोद में लेकर ज्यादातर समय दूध पिलाती है। फिर उन्हें गोद में ही लिटाती है। अगर इस दौरान बच्चे को उल्टी हो जाती है तो मतलब है कि बच्चे कि छाती हल्की हो गई है। इसका मतलब है कि बच्चे का पाचन तंत्र अच्छा है। इससे बच्चे को नींद भी अच्छी आती है।   बच्चे की उल्टियां रोकना आपके बस में नहीं है और रोकने की कोशिश करनी भी नहीं चाहिए। लेकिन अगर बच्चा अधिक उल्टी करता है तो इन तरीकों के जरिये इसे कम जरूर कर सकते हैं। बच्चे को खाना खिलने के 30 मिनट बाद तक सीधे बिठा कर रखें। एक साथ पूरा खाना ना खिलाएं। थोड़ा-थोड़ा करके खिलाएं। दूध पीने के बाद बच्चे को पीठ के बल ही लिटायें।  
Answer: बच्चे को ठीक प्रकार से डकार दिलाएं बच्चे को कंधे से लगाकर उसकी पीठ को हल्के हाथों से थपथपाएं या फिर पीठ सहलये और थोड़ा धैर्य रखें क्योंकि बच्चा थोड़ी देर से डकार लेता है जब आपका बच्चा दूध पीने के बाद ठीक प्रकार से डकार लेने लगेगा तो वह दूध की उल्टी नहीं करेगा साथ ही आप अपने बच्चे की नाभि के चारों ओर हींग को गुनगुना करके लगा दीजिए जिससे बच्चे की गैस ठीक प्रकार से पास होगी और वह उल्टियां नहीं करेगा . सांस अटके तो पीठ और सिर सहलाये .
Answer: हेलो डिअर, आप अपने बेबी को जब भी अपना स्तनपान कराये , तो अपने बेबी को कंधे पे लेकर डकार जरूर लगवा दे , डकार लगाने से आपके बेबी का दूध भी पच जाएगा और आपका बेबी अपने मुँह से दूध भी नही निकालेगा या उल्टे गा नहीं aur apne baby ki pith ko haatho se thapthapye aapke baby ko aram ho jayega
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri baby bar bar dud ki ulti krti h dkar lene k bad b ulti hoti h use .. kya krna chahiye jise wo ulti na kre
उत्तर: hello जब बच्चे एक ही बार में ज्यादा दूध पेट भर कर पी लेते हैं तो थोड़ी हलचल या पेट दबने से दूध निकाल देते हैं अगर बच्चे को लेटे-लेटे में डकार आता है तो भी मुंह या नाक से दूध निकल जाता है ध्यान रखें बच्चे को दूध पिलाते समय थोड़ी-थोड़ी देर में उठा कर कंधे पर चिपकाए और पीठ में थोड़ी थपकी दें इससे बच्चे को डकार आएगी एक डकार लेने के बाद बच्चे को फिर से दूध पिलाएं। एक दो बार ऐसा करने से बच्चे के मुंह से दूध निकलना बंद हो जाएगा। अगर फिर भी दूध निकलना बंद नहीं होता है तो आप बच्चे को एक ही बार में ज्यादा दूध ना पिलाए। दूध पिलाते समय बच्चे के पेट को छू कर देख ले एकदम टाइट होते तक बच्चे को दूध ना पिलाये
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hii muje sam ko khana khane k bad ulti ho jati h kya kru
उत्तर: हैलो डियर-गर्भावस्था में उल्टी मीतली और जी घबराना बहुत आम समस्या है। और यह शुरूवात से लेकर पूरे प्रेगनेंसी तक भी रह सकती है इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं छोटे-छोटे घरेलू उपाय द्वारा आप उल्टी से राहत पा सकती हैं उल्टी होने से शरीर में पानी की कमी होने की संभावना हो सकती है।ईसलिये अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए । एक दिन में कम से कम 8 से 10 गीलास पानी पीना चाहिए । सुबह सुबह जुस भी पीने से उल्टी से राहत मीलती है। ैजसे पूरे दिन कुछ न कुछ खाते रहना जो आपको पसंद हो वही खाऐं जो आपको पसंद न हो वह न खायें अक्सर जो चीजें पसंद न हो उन चीजों को खाने से भी मीतली और उल्टी की परेशानी होती है।अदरक वाली चाय नारीयल पानी जुस का सेवन करने से अक्सर उल्टी मितली से राहत मिलती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: medem ye btao kesar dudh ubalne k bad dalna h ...ya boil krte wqt ...
उत्तर: kesar dudh ubalte time dalna he lekin yaad rahe aap kesar ki jyada matra use na kare kesar achha hota he pr kesar ki jyada matra use karne se uterus me sakunchan paida ho jata he jo pareshani ka karan ban sakta he
»सभी उत्तरों को पढ़ें