7 साल का बच्चा

Question: Meri beti 8 saal ki hai... Usko do din Se poti nhi hui hai... Or pet dard bhi bahut hota hai... Kya kru

3 Answers
सवाल
Answer: शायद बच्चे को कब्ज़ है , आप कुछ घरेलू उपचार है , कर के देखें राहत मिलेगी अगर फिर कुछ फर्क नही पडा तो आप डॉक्टर से एक बार दिखा दो बच्चे को रोज गुनगुने पानी पीने को दें इससे कब्ज की समस्या से राहत मिलती है बच्चे को पालक का सूप बना कर पिलाएं मुनक्के को पानी में भिगो दें, जब वह फूल जाए तो इसे मसलकर पानी छान लें. इस पानी को बच्चे को दिन में 2 से 3 बार पिलाएं अंजीर को रातभर पानी में भिगो दें और फिर सुबह-सुबह बच्चें को खाने के लिए दें खाने के बाद पानी ज़रूर पिलाये
Answer: हेलो डियर आप कॉन्स्टिपेशन के लिए नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें आपको जरूर मदद मिलेगी -बेबी के खाने में थोड़ा घी का उसे करे।। -किशमिश को रात में भिगो कर सुबह उस्का पानी डो -गुनगुना पानी डिजिये -पेट के हल्के गरम तेल से मालिश करो -पापाया दो खाने के ली -हींग को नाभि पर लगये -बेबी को पेट के बल लेतायी -जितना पानी दोगे उतना बेबी की कब्ज की समस्या में राहत मिलेगि -दही २ब्ज़े से पहले ज़रूर दें एक कटोरी दही डेली ज़रूर दें
Answer: आप उसके लिए बेबी को पपीता पैर प्रून अनार जैसे फ्रूट ज्यादा खिलाये. थोड़े दिन के लिए केला और सफरजन न दे. उससे स्टूल हार्ड होता है. उसे किशमिश खिलाये. किशमिश रात को पानी में भिगोकर उसे वो भी खिला सकते हो. ये सब से उसको स्टूल ठीक से होगा.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti ka 29 din huye hai or kl se poti nai ki hai kya kru
उत्तर: हेलो डियर, आपका बेबी 29 डेज,,का हो चुका है..बेबी का पॉटी ना करना ,कम पॉटी करना या तीन चार दिनों में एक बार नॉर्मल है बच्चे मां का दूध पीते हैं और मां के दूध में बहुत कम मात्रा में वेस्टेज होता है वेस्टेज की मात्रा कम होने के कारण पार्टी का निर्माण बेबी के शरीर में बहुत कम मात्रा में होती है जिसके कारण भी तीन-चार दिनों में पॉटी करते हैं| बच्चे के पेट में एंटी क्लॉक वाइज हिंग से धीरे-धीरे मसाज करें ,बेबी,को साइकिल एक्सरसाइज कराएं जिससे की पॉटी सॉफ्ट होकर बाहर निकलेगी अगर आपको फिर भी बहुत ज्यादा समस्या हो रही है तो आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं बेबी को किसी भी प्रकार की दवाइयां या और चीजें बिल्कुल भी ना दे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 3 saal ki hai uske pairo me bahut dard rahta hai kya kru.......?
उत्तर: क्या आपका बच्चा पैरों में बढ़ते दर्द से परेशान  है ? क्या पैरों का दर्द आपके बच्चे को मध्यरात्रि में जगा देती है ? पैरों में दर्द के कारण मांसपेशियों में खिचाव और ऐठन होता है।  जो आपके छोटे से बच्चे को कभी – कभी दोनों पैरों में होने लगता हैं। यह प्रक्रिया मुख्यतः दोपहर या शाम में होता है। बढ़ते दर्द आमतौर पर बचपन में शुरू के  3 – 4 साल की उम्र के आसपास या  8-12 वर्ष की आयु के बच्चों में  होता है। इसको हम बढ़ते दर्दका नाम देते  हैं ,ऐसे दर्द सामान्यत जांघ  के पास होते हैं। आपको चिंता करने की जरुरत नहीं है।  हम आपको कुछ खास और अहम टिप्स से रूबरू करा रहें है ,  जो आपके बच्चे के बढ़ते हुए दर्द से निजात दिलाने में आपकी मदद करेगा – बढ़ते दर्द के कारण – बढ़ते दर्द का कोई ठोस सबूत नहीं है कि बढ़ते दर्द के विकास spurts से जुड़ी होती हैं। इसका मुख्य कारण बच्चों का दौड़ना , पेड़ पर चढ़ना और दिन भर घर में कूदना हो सकता है। आप उनके पैरों की मालिश करें। मालिश  के लिए आप सरसों  के तेल को हल्का गुनगुना करके  करें। जितना गर्म बच्चा  बर्दास्त कर सकता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 1 mhineki hue he or vo aj pura din poti nhi ki kya kru
उत्तर: हेलो डियर आपके बेबी आज 1 महीने की हुई है और आपके बेबी नहीं अगर पॉटी नहीं की है तो इसमें घबराने की कोई बात नहीं है .क्योंकि बेबी कभी कभी 5,6 दिन भी पॉटी नहीं करते हैं तो 1 दिन में कभी कभी बहुत बार पॉटी कर लेते हैं डिअर . इसलिए आप टेंशन ना ले ख्याल रखें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 1 month ki he usko roj poti nhi hoti to mai kya kru
उत्तर: हेलों अगर आप का बेबी ब्रेस्ट फीड कर ता है और दिन में 5 से 6 यूरिन पास करता है तो ये नॉर्मल है क्योकी ब्रेस्ट मिल्क में पाये जाने वाले न्यूट्रिशन आसनी से डाइजेस्ट हो जाते है आप बच्चे को समय से बार बार फीड करवायें ताकि बच्चे को पूरा पोषण मिलें और पानी की कमी ना हो और आप अपना खांना हेल्थी और संतुलित रखें .फीड के बाद बच्चे को डकार दिलवाये .डकार दिलवाने के लिए आप बच्चे को कँधे पे हल्क सा ऊपर कर के ले और उनके पीठ में हलके से हाथ फेरे ऐसा करने से बच्चे को डकार आएगी और गैस की समस्या से राहत मिलेगी आप जितनी बार फीडिंग करवायें उतनी बार बच्चे को डकार दील्वाए . साइकल चलाने वाली एक ्सर्साइज करायें बच्चे को गैस में राहत मिलेगी और बच्चे की पॉटी सॉफ्ट हो कर निकलेगी आप बेबी की मालिश ऑलिव ऑयल से दिन में 2 बार करें जिससे बच्चे को पॉटी समय से होगी बच्चे का एक दिन में 7 बार या 7 दिन में एक बार पॉटी दोनो ही नॉर्मल है अगर प्रॉब्लम ज्यादा हो तो डॉक्टर से सलाह ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें