17 महीने का बच्चा

Question: Meri beti 17 months ki hai lekin use sirf 6 daant hai aur voh kuch bhi chabake (roti) khaneko nahi chahti kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर मेरे baby के साथ भी same प्रॉब्लम रही है आप चिंता नहीं करें अभी आप अपने बच्चे को दलिया खिचड़ी पोहा अंडा आदि है सब दे शाम या जब भी आपको टाइम मिले बेबी के साथ थोड़ा बाहर चले जाया करें उस टाइम पर अपने बच्चे छोटा सा पराठा या रोटी जो भी आप देना चाहते हैं अपने साथ रख लिया करें बेबी खेल खेल में खा लेगा मैंने भी अपने बच्चे को ऐसे ही खिलाना शुरू किया था अब मेरा बच्चा खाने लगा है अभी ट्राई करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Meri beti 6 month ki hai voh abhi tak ulta sona nahi sikhi me kya karu
उत्तर: आप बिल्कुल भी घबराए नहीं बच्चे 6 महीने की उम्र से पलटना सीखते हैं लेकिन यह उनकी शारीरिक क्षमता और उनके ग्रोथ पर भी डिपेंड करता है कई बच्चे थोड़ा लेट से भी सीखते हैं इसमें घबराने की कोई बात नहीं है.. आप अपने बच्चे को खुद से पलटा दिया कीजिए थोड़ी देर रखने के बाद वापस से पीठ के बल लिटा दिया कीजिए बार-बार ऐसा करने से बच्चे को यह समझ में आया कि ऐसे भी हम पलट सकते हैं और वह खुद से सीधा होने की भी कोशिश करने लगेंगे। आप बच्चे के पास दूसरी साइड में कुछ उनके पसंद के खिलौने भी रख सकती हैं जिसको लेने के लिए वह पलटने की कोशिश करेंगे। आप उनके शरीर को सरसों के तेल से अच्छे से मालिश किया कीजिए और उन्हें अच्छा पौष्टिक आहार भी दीजिए जिससे उनकी हड्डियां मजबूत होंगी और उनके मसल्स के स्ट्रांग होंगे। आप अपना दूध भी अच्छे से पिलाते रहिए बहुत जल्दी आपका बच्चा भी पलटना सीख जाएगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 8 month ki hai lekin upr ka kuch bhi nahi khati kya karu
उत्तर: आठ महीने की उम्र तक कुछ बच्चे दिन में दो बार तो कुछ बच्चे दिन में तीन बार आहार ग्रहण करने लगते हैं। अगर आप का बच्चा दिन में तीन बार भोजन ग्रहण करना नहीं चाहता तो इसमें कोई चिंता की बात नहीं। जब तक की बच्चा एक साल का नहीं हो जाता उसका मुख्या आहार माँ का दूध यानि स्तनपान ही होना चाहिए। स्तनपान के साथ साथ अगर बच्चा त्यार है तो तीन बार नहीं तो दिन दो बार या एक बार भी आहार सही है। जैसे-जैसे समय बीतेगा ठोस आहार की मात्रा आप बच्चे में बढ़ा सकती हैं। इसके साथ ही अगर बच्चा अभी दिन सिर्फ एक बार ही भोजन ग्रहण कर रहा है तो इसको बढ़ा कर दिन में दो बार, फिर कुछ समय पश्च्यात दिन में तीन बार कर दें। जल्दबाजी ना करें। अगर आप का बच्चा दिन में तीन बार आहार ग्रहण नहीं करना चाहता तो जबरदस्ती ना करें। बस इस बात का ध्यान रखें की अगर बच्चा ठोस आहार कम ग्रहण कर रहा है तो आप उसे स्तनपान के जरिये या फिर formula milk के द्वारा उसके आहार की आवश्यकता को पूरी कर देंफल – केला, सेब, नाशपाती, आम, आड़ू, आलूबुखारा, खजुर, एवोकैडो, और पपीता। कोई खट्टे फल नहीं। सब्जियां – शकरकंद, गाजर, हरे बींस, चुकंदर, कद्दू, मटर, तुरई, पालक, राजमा। अनाज, साबुत अनाज – चावल, रागी, सूजी या रवा, जौ, साबूदाना, बाजरा, ज्वार, गेंहू और जई। दाल  – मूंग दाल, साबुत मूंग दाल । 
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 2 mahine 6 din ki hai aur ao ratbhar nahi soti hai aur roti bahot roti bhi hai
उत्तर: हाइ डियर आपकी बेटी को पुरा दूध नही मिलता होगा जिससे उसका पेट पुरा भर जाये ,इसलिए भूख से भी रो सकती है . लेकिन आप एक बार डॉक्टर की भी सलाह ले .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 5.25 month ku hai lekin voh abhi tak ukta nahi hoti me kya karu
उत्तर: हेलो डिअर , सभी बेबी एक जैसे नही होते है कुछ बेबी जल्दी पलटते हैं तो कुछ बेबी में समय लग जाता है इसलिए आप बिलकुल भी परेशान न हो , ज्यादातर बेबी 6 स 7 महीने में पलटना सिख जाता हैं कुछ बेबी जल्दी पलटना सिख लेते है वो 3 महीने में सिख जाते हैं तो कुछ बेबी को पलटने में काफी समय लग जाता हैं आपका बेबी कभी कभी अचानक भी पलट सकता है इसलिए अपने बेबी ध्यान रखे आपको अपने बेबी की मॉलिश दिन भर में कई बार करनी चाहिए इससे आपके बेबी की मास पसिया मजबूत होगी!
»सभी उत्तरों को पढ़ें