7 महीने का बच्चा

Question: meri beti 6 month की complete h वो green poti krti h jya kru

1 Answers
सवाल
Answer: स्तनपान करने वाले शिशुओं में हरा potty आना काफी सामान्य है यदि आप bachhe को स्तनपान करवाती हैं और उसका मल हरे रंग का है, तो इसके kuchh कारण हो सकते हैं जैसे अगर आप अपने आहार में ग्रीन कलर की वेजिटेबल्स ले रहे हैं या फिर गाय का दूध पी रहे हैं तो इसे बच्चे की पार्टी का कलर हरा होता है नवजात शिशु एक दिन में चार से पांच बार पॉटी कर सकते हैं या फिर 2 से 3 दिनों में एक बार जो कि सामान्य माना जाता है हरे रंग का मल इस बात की ओर इशारा करता है कि आपका शिशु बहुत ज्यादा लैक्टोस ले रहा है हरे रंग का potty सामान्य माना जाता है लेकिन यहां दो-तीन दिनों से ज्यादा नहीं होना चाहिए अगर ज्यादा दिन तक ho toआपको डॉक्टर के परामर्श की जरूरत पड़ती है कभी-कभी बच्चे को हरा रंग की पॉटी होना उसके bhari दूध पीने की वजह से या फिर पेट में संक्रमण होने की वजह से भी होता है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mam meri beti 2mnth ki h aur wo bar bar thoda thoda krke poti krti rhti h me kya kru
उत्तर: hello ब्रेस्ट में जो दूध भरा होता है उसमें दो तरह के दूध होते हैं ऊपर का दूध जिसमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है और जिसे बच्चे की प्यास बुझती है उसे फोरमिल्क कहते है इस फॉर मिल्क के खत्म होने के बाद अंदर का दूध जो गाढा होता है जिसमें प्रोटीन विटामिन मिनरल्स होते हैं जो बच्चे के लिए खाने या आहार की जगह लेता है। और जिसको पीने से बच्चे की पेट भरती है। इस दूध को हिंड मिल्क कहते हैं। जब भी ब्रेस्ट में दूध भर आता है और जब बच्चे को दूध पिलाने लगते हैं तो ऊपर का दूध फोर मिल्क बच्चा पहले पीता है। फीड कराते समय मां अक्सर बच्चे को दोनों ब्रेस्ट के ऊपर ऊपर का दूध पिला देती हैं ताकि ब्रेस्ट से दूध का रिसाव ना हो। और यह पतला दूध बच्चा डाइजेस्ट नहीं कर पाता और उसके उसके पेट मे गैस बनता है और पॉटी में प्रॉब्लम आती है। बच्चा बार-बार पोटी करता है ग्रीन पॉटी, छिछडा पॉटी ,झाग वाली पाॅटी ,और बार बार पॉटी और डार्क येलो पोटी करता है। इस लिये एक ब्रेस्ट के दूध को पहले पिलायें और जब एक ब्रेस्ट का दूध पूरा खत्म हो जाय तो दूसरे का दूध पिलाये ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera beta 6 month k h use kl s green poti a rhi h kiya kru
उत्तर: Hello dear,,,appka baby5 month ka hai..छोटे बच्चे में अगर हरी पोटी हो तो घबराने की कोई बात नहीं है , छोटे बच्चों में होने वाली हरी पॉटी का सिर्फ एक ही कारण है वह है मां के दूध का शुरुआती हिस्सा पीना . मां के दूध के शुरुआती हिस्से में पानी की मात्रा ज्यादा रहती है जिससे बच्चों की प्यास बुझती है, पर कभी-कभी बच्चे सिर्फ शुरूआती हिस्सा पी लेते हैं जिसकी वजह से उनको न्यूट्रिशन कम मिलता है और पोटी का कलर हरा हो जाता है ,इसलिए आप कोशिश कीजिए कि बच्चे को एक साइड से अच्छी तरह से दूध पिलाएं ,अगर आपका बच्चा जल्दी दूध पीकर छोड़ देता है तो आप अपने दूध का शुरुआती हिस्सा निकाल सकते हैं ताकि बच्चे को बीच का दूध मिले जो कि बच्चे के लिए बहुत ही अच्छा है जिससे बच्चे का वजन बढ़ेगा और और पोटी का कलर मस्टर्ड येलो कलर का होगा|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti din main 5 6 baar poti krti
उत्तर: अभी बेबी को दात आने सुरू होंगे इसके लिए वो इतनी बार poti करती है आप उसे रोजाना ORS water पिलाए । और ध्यान रखे कि poti वाली जगह लाल तो नही हुई ना वो जगह poti होने के बाद अच्छे से , हलके हाथो से पोछे और वो जगह सुखी रखे । Poti साफ करने के लिए आप baby wipes use कर सकते है ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें