कुछ हफ्ते का बच्चा

Question: Meri beti ko bat dast ho gae h me esa kuch nai khati jisse usko taklif ho plz batao me kya karu.. Me jayfal pila sakti hu

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चे हमेशा दूध पीने के बाद लैट्रिंग कर देते हैं लेकिन इसमें कोई डरने वाली बात नहीं होती यह बात निर्भर करता है कि वह स्तनपान करता है या फिर फार्मूला दूध पीता है अगर बच्चा स्तनपान करता है तो| नॉर्मल बच्चे का लैट्रिंग Patla और नरम या पतला होता है और दिन में करीब करीब 5 बार तक वह पॉटी कर सकता है| लेकिन अगर बच्चा फारमुला milk है तो, बच्चा ज्यादाporty नहीं करताl क्योंकि फार्मूला दूध पीने से बच्चे का लैट्रिन बहुत खड़ा होता है| बच्चे जब 1 महीने se छोटे होते हैं, तब jadatar दूध पीते हाथ तुरंत पॉटी करते हैं उसके बाद स्तनपान करने वाले बच्चे ज्यादा एक या दो बार ही पोटी करते हैं| लेकिन अगर बच्चा jarurat से भी ज्यादा बार बार लेट्रिन करता है और उल्टी और बुखार साथ में आता है तो ऐसे में अभी डॉक्टर की जरूरत पड़ती है| छोटे बच्चे को हम किसी प्रकार का अलग से aहार नहींkarte इसलिए बच्चे को कुछ भी देने से पहले एक बार आप डॉक्टर की सलाह जरूर लें|
  • avatar
    Bindiya Kaushik1009 days ago

    आप छोटे बच्चे को जायफल का सेवन बिल्कुल ना करें 6 महीना से छोटे बच्चे को मां के दूध और formula milk के अलावा कुछ भी ना दें|

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 6 month ki ho gae h plz btae ki m usse kya kya khane ko de sakti hu... or kya m use pani pila sakti hu
उत्तर: छे महीने के बच्चे को दिन में एक बार सॉलिड खाना दे. छे महीने के बेबी को आप सभी फ्रूट्स दे सकते हो. जो फ्रूट्स सॉफ्ट है जैसे केला चीकू ऑरेंज पपीता वो आप उसे हाथ से मसलकर दो. और जो फ्रूट हार्ड है जैसे सफरजन और पैर उसे आप स्टीम करके दे सकते हो. उसे आप सभी शाकभाजी कुकर में स्टीम करके दे सकते हो. स्टीम करके हाथ से मसल दे. उसे आप रोटी दाल में डुबो कर हाथ से मसलकर दे सकते हो. दाल चावल भी दे सकते हो. बेबी के १२ महीने पुरे होने से पहले उसे नमक मिर्ची शक्कर गुड़ शहद न दे ये बच्चे के लिए अच्छा नहीं है. इसके साथ उसे ब्रेस्टफीडिंग करवाते रहे. बच्चे के १२ महीने पुरे होने तक उसे गाय भैस बकरी का दूध न दे.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Bache ko dast Ho gaye he Kya karu ors pila Sakti hu
उत्तर: हेलो डियर एक मंथ के बेबी को डॉक्टर से बीना पूछे ors नही पिलाना चाहिए।आप परेशान ना हो बेबी को बार बार पोटी लगना आम बात है। क्यूकी अभी बेबी का पाचन तंत्र बिल्कुल भी मजबूत नही होता है उसे कुछ भी पचने में अभी थोड़ी परेशानी होती है इसलिए आप जब उसे दूध पिलाती है तो बेबी पोटटय बार बार करने लगता है।आप बस अपनी बेबी को बार-बार अपना दूध पिलाएं ।उसे डीहाड्रते ना होने दें। अगर आपका बेबी 12 से ज्यादा बार पॉटी कर रहा है तो अपने डॉक्टर को जरूर दिखाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी कुछ नहीं खाती ः बस दूध पीती ः क्या करूं
उत्तर: हेलो बच्चे जब शुरुआत में दूध के बाद कुछ सॉलिड चीजें लेना शुरू करते हैं तो एकदम से उन्हें एक्सेप्ट नहीं कर पाते और खाना नहीं चाहते या तो उन्हें उनका स्वाद अच्छा नहीं लगता या उनकी थिकनेस के कारण वह नहीं खाना चाहते क्योंकि उन्हें खाना गटकने की आदत नहीं होती इसलिए बच्चे उल्टी कर देते हैं और बच्चे उसे ठीक से पचा नहीँ पाते। और उन्हें दस्त की प्रॉब्लम होती है इसलिए बच्चों को लिक्विड के बाद डायरेक्ट सॉलि़ड ना देकर सेमी सॉलि़ड फूड देना चाहिए। सेमी सॉलि़ड फूड में सेरेलक दाल और चावल की मिक्स पतली खिचड़ी दलिया की खिचड़ी या दलिया का खीर चावल का खीर फलों की स्मूदीज या फ्रूट शेक देना शुरू करें बच्चा जब यह सब चीजें खाने लगे तो एक या दो माह बाद उसे यही सब चीजें थोड़ा गाढ़ा करके दे। और साथ में दाल चावल मसलकर और दूध रोटी मसल का या दाल रोटी मसलकर खिलाएं और जब बच्चा ऐसे भी खाने लगे तो उसके 2 महीने बाद फिर नॉर्मल खाना बच्चे को खिलाना शुरू करें स्टेप बाई स्टेप बच्चों के आहार को गाढ़ा करने से बच्चे आसानी से डाइजेस्ट कर लेते हैं और खाना भी सीख जाते हैं। इससे बेबी का वजन जरूर बढेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें