5 महीने का बच्चा

Question: meri beti k bal jhad re h...wo 5 mahine ki h...or mere b jhad re h...operation se hui wo...koi upay btaye plz

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर छोटे बच्चों के बाल 6 महीने तक बहुत झड़ते हैंऔर यह बिल्कुलनॉर्मल है क्योंकि 6 महीने के बाद बेबी के बाल उतनी ही तेजी से आने लगते हैं आप बेबी के बालों की ग्रोथ के लिएसर में रेग्युलर मसाज करें नारियल तेल सरसों का तेल जऐतुन तेल या फ़िर बादाम तेल से भी मसाज कर सकती है रेग्युलर शैम्पू करें लेकिन शैम्पू केमिकl वाला उपयोग ना करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: delevry k do mahine bad se mere bal bahut jhad rhe h....plz koi upay btaiye
उत्तर: हेलो डियर, आप अपने कोकोनट ऑयल से अच्छे से मसाज करे हफ्ते में दो से तीन बार ऐसा करिए l *अपने बालों में नहाने से पहले egg और नींबू के रस को मिलाकर 1 घंटे तक अपने बालों में लगाएंl *घर पर ही आप हेयर मास्क बनाएं उसको नहाने के पहले लगाएंl * प्याज का रस नहाने के 1 घंटे पहले लगाएं फिर उसे अच्छे से शैंपू से धो ले यह सभी चीजें बालों को झड़ने से रोकने में बहुत हेल्पफुल हैl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: delivry ke bad bal bhut jhad rhe h koi upay btaye
उत्तर: डिलीवरी के बाद बाल झड़ना बहुत ही कॉमन है कुछ बाल तो हर रोज chhadte हैं लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में एस्ट्रोजन हार्मोन के ज्यादा होने की वजह से यह बाल के growth को रोक देता है लेकिन डिलीवरी के बाद झूलेलाल के नॉर्मल हो जाने के बाद झगड़ा चालू हो जाता है यह एक नॉर्मल प्रोसेस है लेकिन कुछ दिन बाद आपके बाल अपने से ही बढ़ने लगते हैं आप चिंता ना करें डिलीवरी के 3 महीने तक लगभग बाल बहुत झड़ते हैं उसके बाद ठीक हो जाता है इसके लिए आप जो नॉर्मल अपने बाल का किया करते हैं ऐसे कर सकते हैं अगर बाल बहुत ज्यादा झड़ रहे होंगे तो आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जैसे आप अपने बालों को हमेशा अच्छी तरह धोकर नारियल के तेल से मालिश करना चाहिए मालिश करने से ब्लड का सरकुलेशन अच्छे से होता है जिससे कि बाल झड़ना कम होता है| आप प्याज के रस का भी इस्तेमाल कर सकती है क्योंकि प्याज के रस में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो बाल को जल्दी उठने में मदद करते हैं सल्फर कहा जाता है सफेद बाल को तेजी से बढ़ाने में बहुत मदद करते हैंl आप सरसों, नारियल और तिल ka Tel का उपयोग कर सकते हैंl यदि बाल को जल्दी से बढ़ाने के लिए बहुत मदद करते हैं| बाल को घना करने में भी मदद करते हैं| आप अपने बालों में आंवला और एलोवेरा का भी उपयोग कर सकते हैं यह भी बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है आंवला में विटामिन सी पाया जाता है जो बालों की ग्रोथ के लिए पैसा ज्यादा महत्वपूर्ण होता है| आप दही और नींबू का भी इस्तेमाल कर सकती है इससे डैंड्रफ खत्म होते हैं जिससे कि बाल को बढ़ने में सहायता मिलती है| आप अपने खान-पान में पौष्टिक आहार लें और पानी की मात्रा को बढ़ाएं जिससे कि शरीर में ब्लड का सरकुलेशन अच्छा होगा तो बाल भी हेल्थी होंगे|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 40 din ki h wo paida hui thi to bhut gori thi din b din sawli hoti jaa rhi h koi upay btaye
उत्तर: हेलो डियर आप बिल्कुल भी टेंशन ना ले क्योंकि बच्चे का रंग हमेशा माता-पिता या उनके परिवार के ऊपर ही जाता है बच्चे जब पैदा होते हैं तो सभी पिंक होते हैं. बच्चे जैसे जैसे बड़े होते जाते हैं उनका कलर कभी गोरे और कभी काला होता है इससे आप बिल्कुल भी ना घबराए बच्चे का कलर 1 साल तक कम और ज्यादा हो सकता है.कुछ उपाय मै आप से शेयर कर राही हूँ .. जो कारगर है .... * बेबी की मालिश कुन्कुने तेल से करे और 2 से 3 बार डिन मे .. इस्से आप को अच्छे parinam दीखेंगे .... * आप बेबी को नियमित uchit tapman wale pani से नहलाया करे .... * अपने बच्चे की त्वचा पर कभी भी साबुन का उपयोग न करें... साबुन त्वचा की बाहरी नमी की परत को हटा देता है.... ओके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri baby 2 month 10 days ki h wo 5 din se potty nhi krrhi or roti b bhut h kya kru koi upay btaye
उत्तर: हेलो डियर, आपका बेबी केवल आपके मिल्क पर ही निर्भर रहता है अगर आपका बेबी 4 से 5 दिन से पोटी नहीं किया है, तो कोई भी परेशानी वाली बात नही हैं ब्रैस्ट मिल्क पीने वाले बेबी का 4 से 5 दिन में पोट्टी होना नार्मल बात है , अगर बेबी को एक दिन में 4 से 5 बार सु करता है तो ऐसा होना ठीक है , आप ऐसे में अपने बेबी के नाभि के आसपास हींग का लेप लगा दे और रोज 2 या 3 घंटे पर अपना ब्रेस्ट मिल्क पिलाएं आपके बेबी को पॉटी हो जाएगी परेशान ना हो आप अपने बेबी के एक्सरसाइज करें और पैरों को साइकिल की तरह चलाएं इससे आपकी बेबी को हो सकता है कि पेट के हिलने डुलने से अच्छे से पोट्टी हो जाये और अगर इससे भी ज्यादा दिन से बेबी पोट्टी न करे तो डॉक्टर को दिखाना चाहिए ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें