1 महीने का बच्चा

Question: meri beti ek mahine ki h use jukham or khansi dono ho gya h mai kya kru jo wo thik ho jaye

2 Answers
सवाल
Answer: इतने छोटे बच्चों में यह समस्या आम बात है सर्दी और जुकाम होने पे माँ पाने बच्चे को स्तनपान कराएं, दिन में जितनी बार स्तनपान करा सकती हैं,  12 माह तक बेबी का इम्यूनिटी बहुत कमज़ोर होती है , थोड़ा भी weather चेंज होने से कोल्ड और कफ aur jhukam की परेशानी होने लगती है ,इसलिए कुछ चीज़ का ध्यान रखे जैसे 1)शाम होते ही बेबी को गरम कपड़े पहना का रखे 2)1कटोरी सरसों तेल मे अजवाइन और लहसन ki5-6 कली को पका ले फिर उसी तेल से दिन मे 3-4 बार मालिश करे . 3)लहसन और अजवाइन को तवे पर सेक कर muslin के कपड़े मे बाँध कर पोटली बना दे और बेबी के बेड के पास रख दे ,इससे भी बेबी का कोल्ड जल्दी ठीक होगा . 4.)2-3तेजपत्ता जला कर घर मे धुआँ करे ,इससे सारे बैक्टीरिया मर जाते है . 5) बाथरूम मे गरम पानी का स्ट्रीम भर दे और बेबी को लेकर thori देर बैठे ऐसा करने से उसका बन्द नाक खुल jayega और उसे राहत भी मिलेगी . 6)रात मे सोते समय पैर के तलवे मे विक्स से मालिश करकें सॉक्स पहना दे इससे भी शरीर गरम रहेगा और बेबी जल्दी ठीक हो jayega .
Answer: लहसुन ऑर अजवाइन को गरम तेल मे गरम कर ke मलीस kre
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी 2 मंथ का h.इसे खांसी और जुखाम हो गया h ..क्या करूँ की बेबी ठीक हो जाए
उत्तर: हेलो डियर आप नीचे दी गई रेमेडी को फॉलो करें :- -कप सरसों के तेल में अचवाइन और लहसुन की 10 कलियां लेकर उसे पकाएं, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करें। इससे बच्चे को काफी राहत मिलेगी। दरअसल सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु रोधक और विषाणु रोधक गुण होते हैं। इसके अलावा आप सरसों के तेल में जायफल भी डाल सकती हैं। जायफल गर्म होता है, ऐसे में इसके मिश्रण वाले तेल से हुई मालिश से जुकाम खत्म होगा। जितना ज्यादा आप अपने बच्चे को अपना दूध देंगे बच्चा उतनी जल्दी ठीक होगा बाकी आप कोई भी ठंडा काम जैसे कि कपड़े धोना बर्तन धोना या नहाकर एकदम से दूध ना पीना है इससे बच्चे को सर्दी हो सकती है और अपने आपको और बेबी को अच्छे से कवर करके रखें ताकि बच्चे को ठंड से राहत मिल सके आप गर्म चीजों का ज्यादा सेवन करें ताकि बच्चे को आपके दूध से सर्दी में राहत मिल सके इसके अलावा एक तवा या भारी तली वाले बर्तन पर अजवाइन के 2 बड़े चम्मच ले और उन्हे कम आँच पर भुन लें| एक साफ मलमल अथवा कॉटेन के कपड़े में भुना हुआ अजवाइन डालकर एक पोटली बना ले। इस पोटली से अपने बच्चे की छाती पर सेक करें| यह सिकाई से सांस चलने और श्वास-कष्ट में तुरंत राहत मिलती है। यह सर्दी अथवा बंद नाक खोलने में भी बहुत लाभदायक है| कृपया पहेले खुद पर पोटली लगा कर सुनिश्चित करें कि पोटली ज़्यादा गर्म नही है, इस के बाद अपने बच्चे पर इसका इस्तेमाल करे.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe jukham ho gya h kya kru ,meri 3 mahine ki beti h
उत्तर: आप घबराय नहीं, १)आप जुकाम के लिए तुलसी अदरक का रस, अदरक का रस एवं शहद मिलकर उसका सेवन कर सकती है। २)आप भाप लीजिए उससे आपके सीने में कफ नहीं जामग। ३)आप सरसो के तेल में कुछ कलिया लहसुन की डालकर उसे गर्म करके फिर ठंडा करके गले एवं सीने में मालिश कर सकती है। इस तेल को आप अपने पैरो के तलवो में भी लगा सकती है। ४)आप नारयल तेल में एक टुकड़ा कपूर का डाल के उसे सीने में massage के लिए use कर सकती है। Agar ज्यादा परेशानी हो to डॉक्टर ko jarur दिखाए..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर मेरी बेबी 17 दिन की h और use कोल्ड हो गया h मैं क्या करूँ की वो ठीक हो जाए प्लीज हेल्प में नाउ
उत्तर: आप परेशान मत होइए छोटे बच्चों को मोसम बदलने के कारण सर्दी जुकाम हो जाता है ऐसे में सरसों के तेल में थोड़ा सा अजवाइन और लहसुन की तीन से चार कलियां डालकर उबाल लीजिए गुनगुने तेल से बच्चे के सीने पर पैर के तलवों पर पूरे शरीर पर मालिश कीजिए जिससे बच्चे को काफी आराम होगा अजवाइन और लहसुन को भूनकर उसकी पोटली बनाकर बच्चे के पास रख दीजिए उसकी भीनी भीनी खुशबू बच्चे की नाक में जाएगी तो बच्चे को जुखाम में आराम मिल जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें