9 महीने का बच्चा

Question: meri beti 7months 20 din ki h wo din me 3-4 bar potty kr rhi h diaper laga hone ke karan potty se uski hip ki skin red red ho gai h mai kya kru

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 6 month ki h wo green watery mucus wali potty kr thi h din me 4-5 bar kya kru
उत्तर: स्तनपान करने वाले शिशुओं में हरा potty आना काफी सामान्य है यदि आप bachhe को स्तनपान करवाती हैं और उसका मल हरे रंग का है, तो इसके kuchh कारण हो सकते हैं जैसे अगर आप अपने आहार में ग्रीन कलर की वेजिटेबल्स ले रहे हैं या फिर गाय का दूध पी रहे हैं तो इसे बच्चे की पार्टी का कलर हरा होता है नवजात शिशु एक दिन में चार से पांच बार पॉटी कर सकते हैं या फिर 2 से 3 दिनों में एक बार जो कि सामान्य माना जाता है हरे रंग का मल इस बात की ओर इशारा करता है कि आपका शिशु बहुत ज्यादा लैक्टोस ले रहा है हरे रंग का potty सामान्य माना जाता है लेकिन यहां दो-तीन दिनों से ज्यादा नहीं होना चाहिए अगर ज्यादा दिन तक के फोटो आपको डॉक्टर के परामर्श की जरूरत पड़ती है कभी-कभी बच्चे को हरा रंग की पॉटी होना उसके bahari दूध पीने की वजह से या फिर पेट में संक्रमण होने की वजह से भी होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 1 month 20 din ki meri beby h meri wo na din me ya rat ko potty kr deti h 4 ya 5 bar kon sa dawa de
उत्तर: हेलो डियर छोटी बेबी का दिन में 5 से 6 बार पॉटी करना बिल्कुल नॉर्मल है यदि बेबी फीड करने के बाद पॉटी कर देता है तो इसमें भी घबराने वाली कोई बात नहीं है क्योंकि यह बिल्कुल सामान्य बात है यदि आपका बेबी अच्छी तरह से दूध पी रहा है फार्मूला मिल्क है या फिर मां का दूध अच्छे से पी रहा है और बेबी को पांच छह बार पोटी हो रही है दिन में तो बिल्कुल भी घबराए नहीं आपका बेबी स्वस्थ है यदि आपका बेबी दिन में 8 से 10 बार पतली पानी की तरह पोटी करता है तो आप बेबी को डॉक्टर के पास ले जाएं और किसी भी तरह का घरेलू नुस्खा आजमाएं डॉक्टर के सलाह से ही मेडिसिन दें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 9month ki hai wo pichhle 10 dino se din m 2-3 bar potty kr rhi h plz btaiye m kya kru ?
उत्तर: hello dear आप परेशान ना हो माँ का दूध पीने वाले बेबी अगर 1 week मे 1 बार poti करें तों परेशान ना हो ये सामान्य है |baby को दूध पिला कर अच्छे से डकार दिलाये | सरसों के तेल के तेल से बेबी के पेट की उगंलियों की सहायता से गोल गोल घुमाते हुये मसाज करें | गुनगुने पानी मे हींग डाल कर उसका पेस्ट बनाये और उसे बेबी की नाभि के चारों ओर लगायें | बेबी के पैरों को साइकिल की तरह चलाये |
»सभी उत्तरों को पढ़ें