13 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 1 साल 1मंथ की हो गई ह मगर दूध के अलावा और कुछ नहीं खाती पीती नहीं ...

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अगर आपका बेबी दूध के अलावा कुछ खाता-पीतानहीं है ,तो भोजन की शुरुआत आप तरल पदार्थ जैसे दाल का पानी चावल का पानी से प्रारंभ करें बच्चा अगर दाल या चावल का पानी खाना सीख जाता है तब आप धीरे-धीरे उसे अच्छी तरह मसला हुआ आलू शकरकंद सूजी का हलवा ऐसी तरह चीजें खिलाना प्रारंभ करें आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों में बेबी इन चीजों को खाने का भी हो जाएगा और धीरे-धीरे उसके खाने में जब लाभ होने लगेगा इसलिए आप परेशान ना हो प्रयास करें बेबी को अपनी बातों में लगाकर रखें थोड़ी मेहनत आपको करनी जरूर होगी पर बच्चा खाना जरूर सीखेगाl
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 15 mahine ki hai or bo bottle s doodh piti h uske alawa kuchh ni khati kya karu
उत्तर: बच्चे के हाथ में कुछ न कुछ खाने के लिए दें:- आपको उसके हाथ में कुछ न कुछ खाने के लिए देना चाहिए। जैसे किसी फ्रूट की स्लाइस, बिस्कुट, रोटी का टुकड़ा आदि। ऐसा करने से आपका बच्चा शुरू से ही खुद खाना सीखने लगता है। उसके बाद आप उसके थोड़ा बड़ा होने पर प्लेट में खाना खाना सीखाएं ऐसा करने से आपको शुरुआत से ही आसानी रहेगी। साथ ही ध्यान रखें की आप जो भी चीज बच्चे को खाने को दे जिसे बच्चा आसानी से खा लें, और यह भी ध्यान रखें की बच्चा धीरे धीरे खाये एक दम से सब कुछ मुँह में न लें। बच्चे के साथ बैठकर अपनी प्लेट में भी खाना लगाएं:- आप भी अपने बच्चे के साथ बैठकर खाना खाएं। और बच्चे को छोटी छोटी बाइट बनाकर दें और कहें की जैसे में खा रही हूँ वैसे खाओ। बच्चें देखकर बहुत जल्दी सीखते हैं। और देखिएगा ये ट्रिक आपके जरूर काम आएगी और धीरे धीरे आपके बच्चे खुद खाना खाने लग जाएंगे। ऐसा करने से आपको जरूर फायदा मिलेगा, और आपकी इस परेशानी का हल भी हो जाएगा। कार्टून वाले बर्तन लाएं:- आज कल मार्किट में बच्चों को खुश करने के लिए तरह तरह के खिलौनों के साथ तरह तरह के बर्तन भी आते हैं। जिन्हे देखकर बच्चे बहुत खुश होते है आप उनकी मदद से भी अपने बच्चों को खाना खाने की आदत सीखा सकती हैं। आप उन्ही में फ्रूट, खाना, पानी आदि दें फिर देखिये आपका बच्चा खुश भी हो जाएगा और खुद खाना खाना भी सीख जाएगा। दूसरे बच्चों के साथ खिलाएं:- यदि आपके घर में और बच्चे हैं तो आप सभी को इक्कठा बिठाकर खिलाएं। और सभी बच्चे अपने आप खाएंगे तो आपका बच्चा भी उन्हें देखकर खुद खाने की कोशिश करेगा। इससे आपके बच्चे को धीरे धीरे आदत हो जाएगी और वो खुद खाना शुरू कर देगा। साथ ही आप उन्हें अच्छे से खाना खाने को कहे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 17 mhine ki ho gyi h kuch khati nhi sirf mera dudh piti h
उत्तर: हेलो डियर आप परेसान ना हों छोटे बच्चे अकसर खाने को लेकर बहुत परेसान करते है इसलिए आप भुक लगने पर ही बेबी को खानें के लिए दें कभी कभी बेबी रोज एक ही जैसा टेस्ट के खाने से बोर हो जाते है इसलिए कुछ अलग खिलाने की कोसिसि करें लिक्विड चीज़ें दें जैसे की ताजे फ़लो का जूस इस्से बेबी का पेट भि भेड़ेगा ऑर ताकत भि मिलेगी कुछ भि खिलाते टाइम बेबी का दयान किसी खिलोने या कुछ ऑर में लगवा सकती है जिस्सर बेबी खेलने में बिजी रहे तो आप उस वक्त खाना खिला सकें एक ही बार में जादा खिलाने की कॉशस ना करें थोड़ी थोड़ी करके खिलाते रहें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 1 साल 1 महीने की हो गई बहुत कमजोर ः कुछ नहीं खाती ए
उत्तर: हेलो बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए घी और मक्खन खिलाएं  घी और मक्खन फैट से भरपूर खाद्य है।दाल अथवा रोटी में लगाकर इसका सेवन किया जा सकता है।  दालें प्रोटीन की सबसे बड़ी स्रोत हैं। दाल के पानी में भी पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अगर आपका बच्चा कमजोर है तो उसका वजन बढ़ाने के लिए उसे नियमित रूप से दाल का पानी पीने को दें। इससे बच्चों का वजन तेजी से बढ़ता है।  मलाई वाले दूध में पर्याप्त मात्रा में फैट पाया जाता है। बच्चों का वजन बढ़ाने के लिये फायदेमंद होता है। अगर बच्चा दूध पीने से मना करता है तो शेक या फिर चॉकलेट पाउडर मिक्स करके उसे पिलाने की कोशिश करें। केला एनर्जी का बेहतरीन स्रोत है। कमजोर बच्चों के लिए यह बेहद फायदेमंद होता है। केले का शेक या दूध और केला बच्चे को खिलाने से उनके वजन में वृद्धि होती है। शकरकंद फाइबर ,पोटेशियम, विटामिन ए, बी और सी से भरपूर होता है, जो बच्चों के वजन को बढ़ाने में काफी मदद करता है। कमजोर बच्चों को इसका हलवा या फिर उबाल कर दूध में मिलाकर खिलाया जा सकता है।आलू में कार्बोहाईड्रेट और अंडे में प्रोटीन काफी मात्रा में पाया जाता है। कमजोर बच्चों का वजन बढ़ाने के लिए इनका सेवन बेहद जरूरी है। बच्चों को आलू या अंडा उबाल कर खिलाने से वजन बढ़ता है। हरी सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें