2 months old baby

Question: meri beti 2month की he aur vomitting boht करती h

सवाल
Answer: दूध की उल्टियां करने का एक कारण उसके पेट पर दवाब का पड़ना , क्योंकि, कभी-कभार अनजाने में बच्चे का पेट सोते या गोद में लेते समय दब जाता है, जिससे कि वो उल्टियां कर देते हैं ज्यादातर बच्चों में उल्टी का कारण जरूरत से ज्यादा दूध पी लेना भी हो सकता है क्योंकि, बच्चेको अपने पेट का अंदाज नहीं होता है, कि उन्हें कितनी मात्रा में दूध पीना है, ऐसे में, आप अपने baby को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में कई बार दूध पिलाएं जिससे कि बच्चे को उल्टी करने से बचाया जा सके. छोटे बच्चों में गैस बनना बहुत ही सामान्य है गैस बनने की वजह से भी बच्चे उल्टी कर सकते हैं इसलिए आप हमेशा बच्चे को दूध पिलाने के बाद डकार दिलवाए साथ में बच्चे के पैर को साइकिल की तरह चलाकर एक्सरसाइज जरूर करवाएं सर्दी जुकाम या तेज़ खांसी होने के कारण वह दूध की उल्टियां करना शुरू कर देते हैं , बच्चे को हमेशा मौसम के अनुसार कपड़े पहना है अगर ठंडा तो बच्चे को सॉक्स और टोपी जरूर पहना के रखे.
Answer: हेल्लो डियर अगर आपका बेबी दूध पीने के बाद दूध पलट देता है तो बेबी को दूध थोड़ा थोड़ा करके पिलाये और दूध पिलाने के बाद बेबी को डकार ज़रूर दिलाए ।बेबी का उल्टी करना नॉर्मल है ।आप परेशान बिल्कुल भी ना हो ।
  • avatar
    Deepu Khatri120 days ago

    meri beti bhi karti thi 9 mhine tk

  • avatar
    Deepu Khatri120 days ago

    karegi phir बन्द hojayegi

  • avatar
    Uma Kanojia120 days ago

    मेरी |बेटी भी बहुत दूध निकालती हे

  • avatar
    Uma Kanojia120 days ago

    आपने जो बटाया आसे भी कर लिया तब भी नेकल्तहि है

  • avatar
    Uma Kanojia120 days ago

    mint main nekal deti hai or uska wait bhi thik dr ko bhi dekha deya

  • avatar
    Uma Kanojia120 days ago

    kapde bhut jyda geley ho jate hai or baar baar

  • avatar
    Deepu Khatri7 days ago

    meri beti bhi karti thi 9 mhine ki hone के baad bnd हो gyi thi

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 2month ki h woh vomitting boht krti h
उत्तर: hello dear vomit होने पर आप बिल्कुल फिर घबराएं नहीं.आराम से रहें. यह उल्टियां बहुत ही सामान्य है .हां लेकिन अगर यह उल्टियां बहुत ज्यादा हो रही है और बच्चे का पेट में दूध रहा ही नहीं पा रहा है तो जरूर डॉक्टर को दिखाएं. बच्चों को डिहाइड्रेशन नहीं होना चाहिए.छोटे बच्चों में vomit की प्रॉब्लम बहुत ज्यादा होती है. खासतौर से दूध पीने के तुरंत बाद ही वह vomit कर देते हैं .उनका पेट बहुत ही छोटा होता है इसलिए वह बहुत सारा दूध ले नहीं पाते. उन्हें समझ में आता नहीं है वह कितना piye. वह बस पीते जाते हैं pite जाते हैं .जब उन्हें एक लिमिट क्रॉस होती है उसके बाद उन्हें जब डकार आ rahi होती है dakaar के बदलe अपना पूरा दूध vomit रूप में निकाल देते हैं. बाचो का पैट बहुत छोटा होता है। आप 10 min फीड लेफ्ट साईद से करे फिर ।10 min फीड बाई साइड से करे। बाद में संभल केर उसे कंधे पर ले और उसकी पीठ पर हाथ फेरे । दकार आने में २ से 4 min लगते है। आराम से करे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 2.4 year ki he use sardi boht he ab ky kru
उत्तर: छोटे बच्चे को सर्दी खांसी बहुत ही जल्दी लगती है आप भी बीच में बच्चे की गीली नैपकिन बदलते रहिए आप उन्हें ज्यादा से ज्यादा अपना दूध पिलाई है। अब बच्चे को सर्दी से संक्रमित व्यक्ति से दूर रखने की कोशिश कीजिए आप उनके कपड़ों को किसी अच्छे एंटीबैक्टीरियल शॉप में धोकर एंटीबैक्टीरियल पानी में डुबोकर धोकर फिर धूप में अच्छे से सुखा कर रखिए और यूज कीजिए। आप बच्चे के सीने में सरसों के तेल में 3... 4 कड़ियां लहसुन की kadka कर तेल को गर्म करके ठंडा करके अच्छे से सीने में मसाज कर सकती इससे बच्चे को सर्दी और खांसी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप बच्चे को भाप दे सकती है पर छोटे बच्चों को भाप देने के लिए आप गर्म आप बाथरूम में गर्म पानी टब में ऑन कर दीजिए। थोड़ी देर के लिए बाथरूम को बंद करके रखे जिससे बाथरूम में बाप भर जाएगा और अपने छोटे बच्चे को आप लेकर थोड़ी देर के लिए बैठ जाइये। जिससे उनको सीने में कफ नहीं जमेगा और खांसी और सर्दी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप बच्चे का सिर हल्का सा ऊपर रखकर ने दूध pilaiye और सुलाएं जिससे उन्हें खांसी काम आएंगी सिर का पोजीशन थोड़ा सा ऊपर होना चाहिए इसके लिए आप पतला तकिया कभी यूज कर सकती है। ज्यादा तकलीफ है या आपको आराम नहीं मिलता है तो आप डॉक्टर के पास जाइए और बच्चे का इलाज करवाइए बच्चे की खांसी सर्दी देखकर सीने को चेक करके आपको बेहतर सलाह देंगे। आप डॉक्टर की सलाह जरूर लीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 28 din की है उलटी bhut करती kya kru
उत्तर: बच्चे दूध इसलिए निकालते हैं क्युकी वह दूध पीते पीते गैस भी पी लेते हैं और वह गैस डकार दिलाने के बाद दूध के साथ बहार आ जाती है।।। इसमे घबराने की कोई बात नहीं है। आप अपना दूध पिलाने का पोजीशन सही राखिय। थोड़ा थोड़ा दूध पिलाने के बाद डकार दिलाते रहिय। थोड़ी थोड़ी देर में कम से कम कम हर दो घंटे मे बच्चे को दूध पिलाते रहिया और डकार दिलाते रहिय ।अगर हर बार अच्छे से डकार दिलाने के बाद भी बच्चा दूध बहुत ज्यादा मात्रा में निकलता है तो अपने डॉक्टर से जरूर मिलें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें