6 महीने का बच्चा

Question: mere stech maks ho gye h wo kaise theek honge

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप की डिलिवरी हुए 6 महिने हो गये है और स्ट्रेच मार्क है ये स्ट्रेच मार्क समय के साथ धीरे धीरे कम होङ्गे आप स्ट्रेच मार्क कम करने के लिए बायो ऑयल नारियल का तेल कोकोबा बटर बादाम का तेल jaitun का तेल एलोवेरा जेल विटामिन ई टैब्लेट लगा सकती है स्ट्रेच मार्क्स इसलिए होते हैं, क्योंकि पेट बढ़ने की वजह से केवल आपकी त्वचा की ऊपरी परत में खिंचाव होता है, ये ही स्ट्रेच मार्क्स के रूप में दिखाई देते हैं। स्ट्रेच मार्क्स रोकने वाली क्रीम भी इनसे बचाव नहीं कर सकतीं, क्योंकि क्रीम त्वचा की अंदरुनी परतों की गहराई तक नहीं पहुंच पाती है इसलिए, पर्याप्त मात्रा में ताजे फलों व सब्जियों, अनाज,  सेहतमंद आहार लें।खूब सारा पानी पीएं। आप पानी की अधिकता वाले फल और सब्जियों जैसे कि तरबूज, खीरा, lauki आदि का भी सेवन कर सकती हैं।इस बात कि कोशिश करें कि आपका वजन एकदम तेजी से बढ़ने की बजाय धीरे-धीरे और नियमित रूप से बढ़े।वजन बढ़ना नियंत्रित करने के लिए नियमित हल्के व्यायाम करें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mam mere bhut strech marks ho gye hain,kyA ye kbhi theek nhi honge
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ने और पेट बड़ा होने की वजह से त्वचा में खिंचाव होता है, जिस वजह से स्ट्रेच मार्क्स होते हैं।स्ट्रेच मार्क्स रोकने वाली क्रीम भी इनसे बचाव नहीं कर सकतीं, क्योंकि क्रीम त्वचा की अंदरुनी परतों की गहराई तक नहीं पहुंच पाती। मॉइस्चराइजिंग क्रीम आपकी त्वचा को मुलायम रखने में मदद कर सकती है, मगर खिंचाव के निशान रोकने के लिए इनका सहारा नहीं लिया जा सकता। यही बात तेल के इस्तेमाल पर भी लागू होती है। कई गर्भवती महिलाएं गेहूं के बीज का तेल, नारियल तेल, अरंडी का तेल, जैतून का तेल या बादाम का तेल इस्तेमाल करती हैं। त्वचा को मुलायम रखने के साथ-साथ क्रीम या तेल लगाने से आपको रुखी त्वचा और खारिश से राहत मिल सकती है।स्ट्रेच मार्क्स पर विटामिन ई का तेल भी लगा सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere face pe kafi daane ho gye हैं . kaise theek honge .. kya ye garmi ki wajehse hain ??
उत्तर: गर्भावस्था में hormones change होते हैं गर्भावस्था में मुंहासे होने का कारण सिर्फ हार्मोंस परिवर्तन ही नहीं बल्कि खानपान भी हो सकता है। गर्भावस्था में सही जीवनशैली न होने, अधिक पानी न पीने, समय से न सोने, त्वचा को पूर्ण पोषण न देने, व्यायाम-योगाभ्यास न करने, पौष्टिक आहार न लेने इत्यादि से भी मुंहासे की समस्या पनप सकती है। मुंहासों से बचने के लिए गर्भावस्था में साफ-सफाई का बहुत ध्यान रखना चाहिए। मुंहासों से बचने के लिए आपको दिन में कई बार चेहरे को साफ पानी से धोना चाहिए। चेहरे पर उपयुक्त मॉश्चराइजिंग लोशन या क्रीम लगानी चाहिए। खानपान में जंकफूड और तैलीय भोजन को कम से कम खाना चाहिए। तैलीय खाद्य पदार्थ भी गर्भावस्था में मुंहासों के लिए जिम्मेदार हो सकते है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere brest me marks ho gye h to ye theek kese honge
उत्तर: हेलो डियर , प्रेग्नेन्सी में हार्मोन चेंज होने की वजह से ब्रेस्ट का साइज बढ़ जाता है जिसकी वजह से स्ट्रेच मार्क पड़ जाते है ऐसे में आपको ऐसे में आप बायो आयल का प्रयोग कर सकती है , और नारियल के तेल में थोड़ा सा कपूर मिलाकर लगाने से इचिंग नही होगी और जब इचिंग नही होगी ब स्ट्रेच मार्क्स नही होगा , आप अपने बॉडी पर एलोवेरा जेल भी लगा सकती है कोकोआ बटर एक दूसरा उपाय है जिसे आप आसानी से इस्तेमाल कर सकती हैं. दिन में करीब दो बार कोकोआ बटर से प्रभावित जगह पर मसाज करें. रात को सोने से पहले और सुबह नहाने के बाद जरूर से बटर लगाएं. ताकि मॉइश्चर बना ले !
»सभी उत्तरों को पढ़ें