23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere right per me pata nahi kya hua mjhe khadne nahi aara uspar ghutna bhut dard karra kya kro

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होना बहुत ही कॉमन है इसमें घबराने की कोई बात नहीं है या अब बहुत सी महिलाओं को होता है प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होने का एक कारण हो सकता है कैल्शियम की कमी और दूसरा कारण हो सकता है वजन बढ़ना कुछ घरेलू उपचार के साथ आप अपने पैरों के दर्द को ठीक कर सकते हैं हल्का चलना-फिरना आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होगा सुबह शाम थोड़ा थोड़ा वॉक करें आई वॉक अप उतना ही करें जिसमें जिसमें आपको थकान महसूस ना हो गर्म पानी में आप थोड़ी देर अपने पैर डालें उस गर्म पानी में पहले थोड़ा सा नमक डालें फिर उस पानी से अपने पैरों की सिकाई करें अपने खाने-पीने का भी ध्यान रखें ,कैल्शियम रिच डाइट लें दूध दही पनीर यह सब अपने आहार में लें.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे पर और हाट में बहुत दर्द है क्या करो
उत्तर: हेलो डियर अपने पैरों को दिन में दो बार गर्म पानी में डालकर बैठा कर ए हो सके तो गर्म तेल से मसाज करा आया करिए ताकि आप को पैरों के दर्द में राहत मिले , आप हाथों की भी मसाज करा सकती है गर्म तेल से
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere right per me bhut dard ho rha h kya kru
उत्तर: प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होना बहुत ही कॉमन है इसमें घबराने की कोई बात नहीं है या अब बहुत सी महिलाओं को होता है प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होने का एक कारण हो सकता है कैल्शियम की कमी हल्का चलना-फिरना आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होगा सुबह शाम थोड़ा थोड़ा वॉक करें वॉक अप उतना ही करें जिसमें जिसमें आपको थकान महसूस ना हो गर्म पानी में आप थोड़ी देर अपने पैर डालें उस गर्म पानी में पहले थोड़ा सा नमक डालें फिर उस पानी से अपने पैरों की सिकाई करें अपने खाने-पीने का भी ध्यान रखें ,कैल्शियम रिच डाइट लें दूध दही पनीर यह सब अपने आहार में लें. खूब सारा पानी पिएं नियमित व्यायाम करें खासकर चलना फिरना पोषण संतुलित आहार खाएं पर ज्यादा नमक वाले फूड प्रोडक्ट्स नमकीन चिप्स ना खाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere right per me bhut dard hota he kya kru 4 5 hours chala nhi jata
उत्तर: हैलो डियर-कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण पैरो मे दर्द के साथ सूजन और ऐंठन भी हो सकती है यह दर्द और सुजन बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है यह कभी किसी तो कभी किसी पैर में होता है यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण होता है दर्द से राहत के लिए आप पैरों और तलवों में हल्के गुनगुने सरसों तेल से मालिश ले सकती हैं नमक कम खायें।पैर के नीचे तकिया लेकर सोऐं। दर्द वाले की स्थिति में आप ज्यादा देर तक चले नहीं ना खड़े हो आपको आराम करना चाहिए और आपको फ्लैट आरामदायक नरम चप्पले पहननी चाहिये
»सभी उत्तरों को पढ़ें