5 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere pet me mitha mitha dard hote rahta rahta hai mai kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: अभी आपको ५ वीक हुए है. और प्रेगनेंसी में कभी कभी पेट में और आपकी छाती में या स्तन में दर्द होना आम बात है| प्रेग्नेंसी के दौरान आपका गर्भाशय बड़ा हो रहा है जिसकी वजह से डायाफ्राम पर भी प्रेशर आता है| डायाफ्राम पेट और छाती को अलग करने वाली एक पतली सी झिल्ली है| तो इस वजह से आपको ब्रेस्ट में थोड़ा पेन हो सकता है| प्रेग्नेंसी के दरमियान ब्रेस्ट का कद भी थोड़ा बढ़ता है और इस प्रक्रिया के दरमियान भी थोड़ा दर्द होता है| प्रेगनेंसी में पेट और छाती या ब्रेस्ट में दर्द का दूसरा कारण इनडाइजेशन या गैस की समस्या हो सकता है| प्रेगनेंसी में कई चीजों खाने से इनडाइजेशन हो सकता है और जिससे गैस की समस्या से कारण पेट या तो फिर छाती में दर्द या जलन होता है| ऐसा ना हो इसके लिए आप खाने में ध्यान रखें| ज्यादा ऑइली य स्पाइसी फूड ना खाएं| और जब भी खाना खाए थोड़ा-थोड़ा करके ज्यादा बार खाए एक बार बहुत सारा खाना ना खाए|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेंre पेट me मीठा मीठा दर्द होरहा है और हुल आ रहा है क्या हरु जी
उत्तर: प्रेगनेंसी में हार्मोन चेंज होने की वजह से पेट में दर्द होता है और यह गैस की वजह से हो सकता है आप थोड़ी अजवाइन गर्म पानी के साथ ले sakte है या गरम पानी की बोतल ले कर सिंकाई kar sakte है इससे आपको आराम मिल जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेंre पेट me दर्द रहता h और मैं क्या करूं
उत्तर: वैसे तो प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना नॉर्मल है और यह पूरे प्रेगनेंसी में थोड़ा बहुत होते रहता है और कुछ ही देर के बाद खुद ही ठीक हो जाता है मगर आपको यदि लगातार दर्द हो रहा है तो आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए और ज्यादा भारी सामान ना उठाएं कोई भी ऐसा काम ना करें जिससे आपके पेट में दबाव पड़े या झटका लगे कम हील वाला फ्लैट सैंडल .पहने
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं प्रेग्नेंट हूँ dहै महीना हुआ है पेट के nichle हिस्से में पीरियड जैसा दर्द hote रहता hai.........क्या करूं
उत्तर: शुरुआती दिनों में शरीर में बहुत बदलाव होते हैं इस वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होना नॉर्मल बात है आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए अजवाइन खाना चाहिए नींबू शरबत पीना चाहिए दही खाना चाहिए इससे आपको आराम मिलेगा आप अदरक का रस पी सकती है इससे भी राहत मिलती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें