28 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere pet k nichle hisse me aksar dard

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर हल्का फुल्का पेट दर्द तो आपकौ पूरी प्रेग्नंसी मे ही होगा ।जैसे-जैसे प्रेग्नन्सी बढ़ती है बेबी का वजन भी बढने लगता है और baby की ग्रोव्थ के बढ़ने के साथ-साथ उतरुस में मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से पेट के निचले हिस्से मे दर्द जैसी प्रॉब्लम होने लगती है ।कभी कभी पेट दर्द गैस या कब्ज की वजह से भी होता है। पेट दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- आप लगातार एक ही स्थिति में खड़ी ना रहे ,ना ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे ।संतुलित और पौष्टिक भोजन ही करें । ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए । ज्यादा हील वाली च्प्पल ना पहने। तनाव मुक्त रहें । जमीन पर पैरों को मोड़ कर ना बैठे । एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक ना सोए। और अगर आपको ज्यादा पेट दर्द हो रहा है तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से मिलें ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere pet k nichle hisse mai dard ho
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में पेट के निचले हिस्से में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल है और यह पूरे प्रेगनेंसी में थोड़ा बहुत होते रहता है और कुछ ही देर के बाद खुद ही ठीक हो जाता है मगर आपको यदि लगातार दर्द हो रहा है तो आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere navi ke nichle hisse me baye said me aksar dard hote rahta h
उत्तर: Hello dear प्रेग्नेंसी में (लोअर एब्डोमिनल )पेट के निचे daard कभी कभी होता है। Lower abdominal मतलब कि पेट के नीचे की तरफ अगर आपको दर्द हो रहा है तो उसका kard यह है कि आपका यूट्रस अब बढ़ रहा है. राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव होने के कारण आप नीचे की तरफ दर्द महसूस करती हैं और यह दर्द फर्स्ट ट्राइमेस्टर में बहुत ही नॉर्मल है. अपना ध्यान रखे । भरी सामान नहीं उठए। बहुत समय तक खड़े नहीं रह। बैठा ते समय या लेते समय आपने पैरो को ऊपर की और थोड़ा ucha रखे। Paani बहुत पिए । पोषतीक और हल्का आहार ले। Jyada दर्द होने पे तुरंत ही डॉक्टर को दिखाए। take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pet k nichle hisse me har waqt dard rehta h.letne me zyada
उत्तर: हेलो प्रेगनेंसी के शुरुआती महीनों में ऐसे दर्द होते हैं इसमें घबराने वाली बात नहीं है। शुरुआती 3 महीने थोड़ी कॉम्प्लिकेटेड और परेशानी भरा होता है इस दौरान शरीर के अंदर बहुत प्रकार के हार्मोनल चेंजर्स होते रहते हैं जिसके कारण पेट में पेट के नीचे पेडु में दर्द सीने में दर्द कमर में दर्द उल्टी लगना एसिडिटी होना कमजोरी लगना और चक्कर आना जैसे कई समस्याएं होती ही है। इस दौरान खाने पीने का खास ध्यान रखना चाहिए कोई भी गरम चीजें नहीं खानी चाहिए। ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए और आराम करना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें