17 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere pero me sujan h

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप परेसान ना हों अकसर प्रेग्नेन्सी में पैर में सुजन हो जाते है ऐसे में कुछ उपायो के द्वारा आप सुजन कम कर सकती है अदिक से अदिक पानी पीएं इस अवस्था मे आप जितना अधिक पानी पिएगी उतना ही कम पानी आपका शरीर पतिधारित करेगा नियमित व्यायाम कारें जैसे चलना घूमना ऑर तऐरना सन्तुलित आहार लें ऑर नमक का कम से कम उपयोग करें नमकीन चिप्स ये सब पैकेट वाली चीज़ें ना खाएँ मलीस करवाएं पैरो की ऑर एक ही स्थिति में जादा देर खेड़े ना रहें सरीर को आराम दें जादा काम ना करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere hatho v pero me sujan aane lgi h kyo
उत्तर: हेलो डियर ,,,,aap 35 week ki pregnet hai..प्रेगनेंसी में हाथ पैरों का शरीर में सूजन आना बहुत ही नॉर्मल है सूजन हो सोडियम कीअधिकता लेना ,अधिक देर तक खड़े होकर काम करना,अत्यधिक काम कर लेना हो सकता है kuch upya se सूजन में कमी कर सकती हैं लंबे समय तक एक ही पोजीशन में खड़े हैं बैठे ना रहे बीच-बीच में पोजीशन चेंज करते रहे पापड़ ,अचार ,नमकीन , कोल्ड ड्रिंक ,आदि का सेवन कम करते हैं|पहनने वाले वस्त्र को अत्यधिक टाइट ना पहने ,इनरवियर व चप्पलें सॉफ्ट वह हल्की पहने |8 से 10 गिलास पानी का सेवन जरूर करें |हल्की वॉक एक्सरसाइज जरूर करें|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pero me or hath me sujan aa gyi h eska kya karan h
उत्तर: हेलो डियर ,,,,aap 17 week ki pregnet hai..प्रेगनेंसी में हाथ पैरों का शरीर में सूजन आना बहुत ही नॉर्मल है सूजन हो सोडियम कीअधिकता लेना ,अधिक देर तक खड़े होकर काम करना,अत्यधिक काम कर लेना हो सकता है kuch upya se सूजन में कमी कर सकती हैं लंबे समय तक एक ही पोजीशन में खड़े हैं बैठे ना रहे बीच-बीच में पोजीशन चेंज करते रहे पापड़ ,अचार ,नमकीन , कोल्ड ड्रिंक ,आदि का सेवन कम करते हैं|पहनने वाले वस्त्र को अत्यधिक टाइट ना पहने ,इनरवियर व चप्पलें सॉफ्ट वह हल्की पहने |8 से 10 गिलास पानी का सेवन जरूर करें |हल्की वॉक एक्सरसाइज जरूर करें|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muje 4th month lag rha h mere pero me sujan ho rhi h kya kru me
उत्तर: हेलो डियर पैरों ममे बहुत स्वेलिंग होना प्रेगनेंसी म नार्मल है।१/३ विमेंस को होती है। जब बॉडी को पूरी तरह से पानी नहीं मिलता तब स्वेलिंग की षिकायत ज़यादातर रेहटी है सो इस्सके लिए आप सबसे पहले पानी अच्छे से ले। बाबी की ग्रोथ की वजह से बढ़ता uterus aapke veins को प्रेशर देता है जो की ब्लड फ्लो के लिए प्रॉब्लम क्रिएट करता है। निचे दिए गए टिप्स फॉलो करें:- जयादा से ज़्यादा पानी पीजिये। वेइट चेक करवाते रहे वेट बढ़ने से भी स्वेलिंग की प्रॉब्लम होती ह एक्सेरसीसे करें-आराम से कुर्सी पर बैठकर अपने पैरों को उठाकर एड़ी को 10 मिनट राइट और 10 मिनट लेफ्ट घुमाए ऐसा दिन म ३बार करे। जयादा होने पर डॉक्टर से कंसल्ट ज़रूर करे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें