20 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Mere pairo me bahut dard hota hai jiske karan rat me nind nahi ati

1 Answers
सवाल
Answer: Hello डियर , प्रेग्नेन्सी में पैरो पे सुजन आना आम बात है क्युकी बेबी का और आपका वेट पैरो पर भारी पडता है.बीच-बीच में उठें और थोड़ा चले-फिरें।घर में जब भी संभव हो अपने बाईं तरफ करवट लेकर लेटें क्योंकि इससे वीना कावा नस पर दबाव नहीं पड़ता। खूब सारा पानी पीएं। हैरत की बात यह है कि आप जितना ज्यादा पानी पीएंगी, उतना ही कम पानी आपका शरीर प्रतिधारित करेगा।नियमित व्यायाम करें, खासकर कि चलना-फिरना, तैराकी, प्रसवपूर्व योग या एक्सरसाइज बाइक का इस्तेमाल। पौष्टिक व संतुलित आहार खाएं और ज्यादा नमक वाले खाद्य पदार्थ जैसे कि जैतून, नमकीन, चिप्स और नमक वाले मेवे न खाएं। ये पानी प्रतिधारण को बढ़ा सकते हैं।अगर आपकी त्वचा में ज्यादा कसाव और दर्द न लगे, तो किसी से अपने टखनों और पैरों की मालिश करवाएं। मालिश के दौरान नीचे से ऊपर की तरफ घुटनों तक जाएं। इससे पैरों से तरल पदार्थ को हटाने में मदद मिल सकेगी।कोशिश करें कि आप खुश और निश्चिंत रहें! हालांकि, आपके सूजे हुए टखने शायद आपको असहज महसूस करा सकते हैं, मगर इडिमा एक अस्थाई स्थिति है, जो कि शिशु के जन्म के बाद दूर हो जाती है। ख्याल रखें डियर.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: muje rat ko nind nh ati or or pairo me dard hota hai.....
उत्तर: गर्भावस्था में निंद न आने का एक कारन घबराहट है जिसकी वजह से नींद आने में कठिनाई होती है। उन्हें लेबर पैन से भी बहुत डर लगता है। साथ ही पेट में दरद होने के कारण बेचैनी और असहजता महसूस होता रहता हैएसीडिटी गैस मरोड़आदी के कारन भी निंद नही आ पाती।निंद लेने के उपाय----- 1)तेलीय नमक मिर्च मसाला चटपटा खाने से दूर रहे। 2)सोने से पहले गुनगुने पानी से नहाए हल्की हल्की मसाज लें मनपसंद गाना सुने या बुक पढे़ जिससे नींद आने लगेगी 3)रोज सुबह-शाम हल्का वॉक करें 4)सोते समय पेट कमर और दोनों पैरों के बीच तकिया लेकर रिलैक्स होकर सोयें। 5)रात को कम से कम पानी पिए ताकि बार-बार उठ कर बाथरूम ना जाना पड़े और आपकी नींद खराब ना हो। 6)जागते समय अच्छी अच्छी किताबें पढे़ music सुने जिससे अच्छी निंद आयेगी। कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण पैरो मे दर्द के साथ सूजन और ऐंठन भी हो सकती है यह दर्द और सुजन बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है।यह कभी किसी तो कभी किसी पैर में होता है यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है। यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण होता है दर्द से राहत के लिए आप पैरों और तलवों में हल्के गुनगुने सरसों तेल से मालिश ले सकती हैं नमक कम खायें।पैर के नीचे तकिया लेकर सोऐं। दर्द वाले की स्थिति में आप ज्यादा देर तक चले नहीं ना खड़े हो आपको आराम करना चाहिए और आपको फ्लैट आरामदायक नरम चप्पले पहननी चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे rat में pair में बहुत दर्द होता है और नींद भी नहीं आती में क्या करूँ???
उत्तर: डियर प्रेगनेंसी मैं पैरों मैं दर्द या फिर नींद ना आना बहुत कॉमन है डियर आप गुनगुने जैतून टेल से मालिश करे इससे दर्द ठीक होता है इसके आलावा मस्टर्ड ऑइल मैं थोड़ा लहसुन और थोड़ा अज्वेन दाल्कर uसे गरम करे और फिर उससे मालिश करे इससे दर्द ठीक होता है. नींद ना आने पर डियर ब्रीदिंग योगा करे इससे बहुत अच्छे से बॉडी रेलक्ष होती है और नींद अच्छे se आएगी अनुलौम वीलौम भी अच्छी योगा है इससे भी करे इससे नींद अच्छी आएगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pairo me bahot dard hota hai raat ko dard ke karan nind nahi hota hai aur yah dard morning ke 4 baje thhik ho jata hai
उत्तर: प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होने का एक कारण हो सकता है कैल्शियम की कमी हल्का चलना-फिरना आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होगा सुबह शाम थोड़ा थोड़ा वॉक करें आई वॉक अप उतना ही करें जिसमें जिसमें आपको थकान महसूस ना हो गर्म पानी में आप थोड़ी देर अपने पैर डालें उस गर्म पानी में पहले थोड़ा सा नमक डालें फिर उस पानी से अपने पैरों की सिकाई करें अपने खाने-पीने का भी ध्यान रखें ,कैल्शियम रिच डाइट लें दूध दही पनीर यह सब अपने आहार में लें. प्रेगनेंसी के दौरान भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है मॉर्निंग वॉक करें हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करें इससे ब्लड सरकुलेशन होता रहेगा रात के समय पैरों में ऐंठन कम होगी तनाव बिल्कुल ना ले इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने आपको हर वक्त खुश रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें