10 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Mere barave hafte me grahan hai to muze jyada khabardari leni hogi kya baby ki situation Kya hogi

1 Answers
सवाल
Answer: अगर, आप या आपका परिवार गर्भस्थ शिशु पर ग्रहण के असर को लेकर चिंतित हैं, तो घर के अंदर ही रहने में कोई नुकसान नहीं है। वैसे भी, यह केवल कुछ ही घंटों के लिए होता है। ऐसे में यदि इससे जुड़ी परंपराओं का पालन करके आप और आपके परिवार को मन की शांति मिलती है, तो इसमें कोई बुराई नहीं है। क्योंकि चंद्र ग्रहण देर रात में होता है, इसलिए इससे बचना आसान रहता है, मगर सूर्य ग्रहण के दौरान खुद को सुरक्षित रखना मुश्किल हो सकता है। मगर, यदि आप ग्रहण की अवधि के दौरान घर पर नहीं रह सकतीं और इससे जुड़े आम नियमों का पालन नहीं कर सकतीं या फिर आप ऐसा करना नहीं चाहती हैं, तो भी फिक्र न करें। ग्रहण में बाहर निकलने से जरुरी नहीं है कि आपके शिशु को नुकसान पहुंचेगा या फिर वह किसी जन्मचिह्न के साथ पैदा होगा।  हालांकि, सूर्य ग्रहण के दौरान सूरज की किरणें सामान्य से अधिक तीक्ष्ण होती हैं और यदि सूरज को सीधे देखने से आंखों को नुकसान पहुंच सकता है। अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए ग्रहण के दौरान सूरज को विशेष ग्रहण वाले चश्मे लगाकर ही देखें। मगर, सूर्य ग्रहण की तरह चंद्र ग्रहण से आंखों को उतना नुकसान नहीं पहुंचता।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मारा बेबी 2 महीने 1 हफ्ते का है तो मुझे खाने में क्या चिल्ज़ लेनी चाहिए जिसे बेबी हेल्दी हो और मेरे ब्रेस्ट मिल्क बढ़े
उत्तर: हेलो डियर यदि आपका बेबी 2 महीने का है तो आपको खाने में हेल्दी खाना खाना चाहिए जैसे की हरी सब्जियां सभी फल एप्पल बनाना दूध दूध से बने पदार्थ जैसे दही पनीर फ्रूट जूस दाल चावल रोटी ड्राई फ्रूट्स बादाम भिगोकर खाने चाहिए खजूर खाने चाहिए दूध में ड्राई फ्रूट के पाउडर मिलाकर पीनी चाहिए अंडे खाने चाहिए मछली खानी चाहिए चिकन खाने चाहिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए नारियल पानी पीना चाहिए अनार का जूस पीना चाहिए इससे बेबी की ग्रोथ अच्छे से होगी और आपका दूध भी बढ़ने में सहायता होगी अपना और बेबी का ख्याल रखना
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mai abhi 9 hafte ki pregnant hu aur mere sir dard jyada hota hai kya karu
उत्तर: कुछ घरेलू उपचार हैं जिनको यूज करके आप आराम पा सकते हैं पहले एक कप दूध में तीन चम्मच दालचीनी मिलाएं और उसको उबालें ठंडा होने पर उसमें स्वाद के लिए एक चम्मच शहद मिलाएं अगर बुरी तरह दर्द हो रहा है तो आप इसे दिन में दो बार ले सकते हैं काफी आराम मिलेगा दूसरा अदरक की चाय बनाएं इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं apko headache mein aaram milega लैवेंडर ऑयल से अपने सर की मालिश करें गर्भावस्था के दौरान लैवेंडर ऑयल नींद लाने में भी काफी सहायक होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muze 3 mahine pure huye hai low lying placenta hai yaise Dr. Kaha hai to age Kay khabardari Leni hogi
उत्तर: प्लेसेंटा प्रिविया होने पर डॉक्टर ट्रेवल न करने सलाह देते हैं. यात्रा के दौरान लंबे समय तक बैठना और झटके लगाना इसका अहम कारण है. इस दौरान किसी भी अनहोनी से बचने के लिए गर्भाशय को अधिक से अधिक आराम दिया जाता है.  - प्लेसेंटा प्रिविया के दौरान अधिक बैठने या चलने से भी मना किया जा सकता है. यह पूरी तरह प्लेसेंटा की‍ स्थिति पर निर्भर करता है.  - इस दौरान भारी सामान न उठाएं, न ही किसी भारी चीज को एक जगह से दूसरी जगह सरकाएं.  - स्थिति गंभीर होने पर डॉक्टर पैरों के नीचे तकीए लगा कर लेटे रहने की सलाह देते हैं. ताकि प्लेसेंटा को और नीचे आने से रोका जा सके.  - इस स्थिति में डॉक्टर गर्भवती को अधिक चलने, सीढि़या चढ़ने-उतरने, पेट के बल लेटने से भी मना करते हैं. - प्लेसेंटा प्रिविया होने पर डॉक्टर सामान्य से ज्यादा अल्ट्रासाउंड करवाता है. वह स्थिति पर निरंतर नजर रखता है. हो सकता है कि इस दौरान अल्ट्रासाउंड डॉक्टर को बच्चे की धड़कन मिलने में, उसकी हलचल को समझने में समय लग जाए.  - प्लेसेंटा प्रिविया होने पर अक्सर गर्भवती के गर्भ में बच्चे की मूवमेंट भी देर से महसूस होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें