26 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere pairo me bahut सुजान आ jati h

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेग्नेंसीय के दौरान हार्मोन परिवर्तन की वजह से बॉडी में बहुत से changes होने लगती है जिसकी वजह से बॉडी में सूजन और पैरो में सूजन आ जाती है प्रेजेंसीय के दौरान बॉडी में रक्त प्रवाह बहुत ज्यादा बढ़ जाता है जिसकी वजह से भी पैरो में सूजन आ जाती है जो चलने में दर्द होता है ऐसे में आप कही भी ज्यादा देर तक खड़े न रहे जिसकी वजह से सूजन और बढ़ जाता है , पैरो की गर्म पानी से सिकाई करे ऐसा करने से पैरो की सूजन कम हो जाती है , ऐसे में आप खूब पानी पीते रहे , थोड़ा थोड़ा चले फिर आराम कर ले , पैरो की एक्सरसाइज करें , एक ही मुद्रा में ज्यादा देर तक नA सोये
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere pairo me sujan bahut h
उत्तर: hello dear पैरों में सूजन में असरदार है अदरक का तेल अदरक दर्द निवारक दवाइयों में सबसे प्रमुख है| अदरक की सहायता से पैरों में दर्द और इसके साथ अगर पैरों में सूजन है तो उसे भी कम किया जा सकता है| पैरों में दर्द है तो आपको अदरक का तेल का इस्तेमाल करना होगा| अदरक का तेल लेकर अपने पैरों पर मसाज करें| कम से कम आधा घंटा रोजाना मसाज बेहद जरुरी है और अगर दर्द बहुत ज्यादा है तो दिन में दो बार मसाज करें| इसके अलावा, अदरक की चाय बनाकर इसके सेवन करने से भी शरीर में दर्द दूर होते हैं| जब तक दर्द दूर ना हो जाये तब तक रोजाना मसाज करें और सुबह शाम अदरक वाली चाय भी पियें| नीम्बू करता है सूजन कम जिन लोगों के पैरों में सूजन है या दर्द है उन लोगों को नींबू के रस का इस्तेमाल करना चाहिए| नींबू हर घर में मौजूद रहने वाली चीज़ है आपको बस इतना करना है कि एक बर्तन में थोड़ा पानी लें और इस पानी को गुनगुना कर लें| अब इस पानी में 2 चम्मच नींबू का रस मिला दें| इसके बाद इस रस को पी लें| अगर आपके पास शुद्ध शहद है तो इसमें थोड़ा शहद भी मिला लीजिये और इसका दिन में दो बार सेवन जरूर करिये| ठन्डे पानी में रखें पाँव एक बाल्टी या किसी खुले मुंह वाले बर्तन में ठंडा पानी भर लें| अब अपने पैरों को साफ़ करके इन बाल्टी में पैर डाल लें और आराम से कुर्सी पर बैठ जायें| कुछ देर तक पैर ठंडे पानी में ही रहने दें और आप कुर्सी पर बैठे रहें| इससे पैरों में रक्त का संचरण ठीक हो जाता है और पैरों में दर्द से तुरंत आराम मिलता है| इससे आसान और सस्ता तरीका दूसरा कोई हो ही नहीं सकता परन्तु अगर फिर भी आराम ना मिले तो अगला नुस्खा आजमाएं| गर्म पानी से पैरों की सिकाई पानी गर्म करके किसी बोतल में भर लें| आज कल मार्किट में सिकाई करने के लिए रबर की ख़ास बोतलें आती हैं जो सिकाई करने के लिए ही बनायी गयी होती हैं, आप उस बोतल का इस्तेमाल कर सकते हैं| पानी उतना ही गर्म करें जितना आप सह सकें| अब बोतल में पानी भरकर इससे पैरों की सिकाई करें| कोई जल्दबाजी ना करें, आराम से कम से कम 20 -30 मिनट तक सिकाई करें| इससे पैरों कर दर्द और सूजन तुरंत कम होने लगेगी| नीम के पत्तों करते हैं दर्द दूर नीम के पत्ते हर जगह आसानी से मिल जाते हैं| एक बर्तन में पानी गर्म करें और इसमें नीम के पत्ते डाल दें और तब तक उबालते रहें जब तक नीम के पत्ते अपना रंग ना छोड़ने लगें अर्थात पानी का रंग हरा हो जाना चाहिए| अब इस पानी से पत्तियां निकालकर इसमें थोड़ी फिटकरी मिला लें और इस पानी में कुछ देर तक अपने पैरों को डालकर रखें| नीम के अंदर बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति होती है, और यह दर्द निवारक का कार्य भी करता है| नाश्ते में खायें केला केले में भरपूर मात्रा में पोटेशियम होता है| अक्सर शरीर में पोटेशियम की कमी से भी पैरों में दर्द होने लगता है इसलिए रोजाना केले का सेवन करने से फायदा होता है| केले को रोजाना अपने नाश्ते में शामिल करें| इससे शरीर को एनर्जी भी मिलेगी और यह पैरों की अकड़न को भी दूर करेगा|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: safed paani ata h muje aur mere pairo me kmar me bahut bahut drd hota h
उत्तर: प्रेगनेंसी में सफ़ेद पानी का निकलना काफी आम बात है जो हर महिलाओं में सामान्य रूप से दिखाई देता है, ये तब तक सामान्‍य है जब तक की इसमें से गंध न आने लगे और इसका रंग लाल न हो जाए सफ़ेद पानी से आपके बच्चे को कोई खतरा नही है , बल्कि सफ़ेद पानी की वजह से आपके गर्भाशय को बाहरी बिमारियों से बचता है , जिसऐ आपका बेबी सुरक्षित रहता है , अगर कभी आपको लगें की पानी के साथ खुजली या बदबु है टु डॉक्टर को ज़रूर दिखायें हो सकता है किसी प्रकार का इन्फेक्शन हो . सफ़ेद पानी के लीई आप घबराये नही , ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे .ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे और बहुत सी महिलाओ के साथ भि होता होगा . चिन्ता ना करे . प्रेगनेंसी में सफ़ेद पानी का निकलना काफी आम बात है जो हर महिलाओं में सामान्य रूप से दिखाई देता है, ये तब तक सामान्‍य है जब तक की इसमें से गंध न आने लगे और इसका रंग लाल न हो जाए सफ़ेद पानी से आपके बच्चे को कोई खतरा नही है , बल्कि सफ़ेद पानी की वजह से आपके गर्भाशय को बाहरी बिमारियों से बचता है , जिसऐ आपका बेबी सुरक्षित रहता है , अगर कभी आपको लगें की पानी के साथ खुजली या बदबु है टु डॉक्टर को ज़रूर दिखायें हो सकता है किसी प्रकार का इन्फेक्शन हो . सफ़ेद पानी के लीई आप घबराये नही , ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे .ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे और बहुत सी महिलाओ के साथ भि होता होगा . चिन्ता ना करे . पैर दर्द से बचने के लिए आप स्टेचिंग करें पैर के पंजों को हल्का-हल्का घुमाएं हर रोज हल्की फुल्की वॉक करें जिससे पैरों की मांसपेशियां मजबूत होंगी और दर्द कम होगा साथ ही खाने में हरी सब्जियां फल फ्रूट जूस यह सब ले जिससे आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं होगी अगर कभी पैर में दर्द ज्यादा हो तो आप गर्म पानी में नीम के पत्ते डालकर boil Kare , गर्म पानी को गुनगुना करें और पैर dubaa कर रखें पैर दर्द में आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pairo me bahut drd h.
उत्तर: hello डियर """प्रेगनेंसी में दर्द होना कॉमन है आप कुछ घरेलू उपाय से पैर दर्द को दूर कर सकती हैं | 1) एक ही पोजीशन में लंबे समय तक खड़े या बैठे ना रहे पोजीशन चेंज करते रहे | 2)सरसों तेल में लहसुन को डालकर गर्म करें और इसी गर्म तेल से पैरों की हल्की हल्की मसाज kre.. 3)पैर को लटका कर ना बैठ | 4)पौष्टिक व संतुलित आहार लें | हल्की धूप, मैं बैठे ,धूप से seविटामिन डी मिलता है जो की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है | 5) दूध ,पनीर, दही, सोयाबीन, हरी पत्तेदार सब्जियां आदि का प्रयोग भोजन में करें कैल्शियम में वृद्धि होगी ,जिससे आपके हड्डियों में मजबूती आएगी वशारीरिक दर्द में कमी होगी| 6)रात को सोते समय पैर को खुली हवा में ना रखें | 7)गर्म पानी में नमक डालकर कुछ समय तक पैरों को डूबा कर रखें इससे भी पैर दर्द में कमी आ सकती है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें